भालचंद्र दिगंबर गरवारे

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
भालचन्द्र दिगम्बर गरवारे
(अबासाहेब गरवारे)

सन २००४ के एक डाक टिकट पर भा दि गरवारे
जन्म 21 दिसम्बर 1903
तासगाँव, सतारा जिला, महाराष्ट्र
मौत 2 नवम्बर 1990(1990-11-02) (उम्र 86)
पुणे, महाराष्ट्र
पेशा उद्यमी, गरवारे समूह के संस्थाप्क
बच्चे

प्रभा चन्द्रचूड

अशोक गरवारे
शशिकान्त गरवारे
रमेश गरवारे
चन्द्रकान्त गरवारे[1]
उल्लेखनीय कार्य {{{notable_works}}}

भालचन्द्र दिगम्बर गरवारे (प्यार से अबासाहेब गरवारे) भारत के एक अग्रणी उद्योगपति थे। वे गरवारे समूह के संस्थापक थे।[2] उन्हें उद्योग एवं व्यापार के क्षेत्र में भारत सरकार द्वारा, सन १९७१ में पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था।

जन्म एवं बाल्यकाल[संपादित करें]

अबासाहेब गरवारे का जन्म २१ दिसम्बर १९०३ को महाराष्ट्र के सांगली जिले के तासगाँव में हुआ था। उन्होने भारी निर्धनता का सामना किया क्योंकि उनके पिता जी ने सारा पैतृक सम्पत्ति नष्ट कर दिया और परिवार को कर्ज में डुबो दिया था। घर की आर्थिक स्थिति इतनी खराब थी कि ६वीं की पढ़ाई पूरी करने के बाद उन्हें पढ़ाई छोड़नी पड़ी। सन् १९२० में १७ वर्ष की आयु में वे मुम्बई से इंग्लैण्ड चले गए।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Harish Damodaran. INDIA'S NEW CAPITALISTS: Caste, Business, and Industry in a Modern Nation. Hachette UK. पृ॰ 85. अभिगमन तिथि 25 November 2018.
  2. McDaniel 1990, पृ॰ 38.