फ़िनो-ऊग्रिक भाषाएँ

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
फ़िनो-ऊग्रिक
Finno-Ugrian
भौगोलिक
विस्तार:
पूर्वी, मध्यउत्तरी यूरोप, उत्तर एशिया
भाषा श्रेणीकरण: यूराली
  • फ़िनो-ऊग्रिक
उपश्रेणियाँ:
आइसो ६३९-२६३९-५: fiu
Lenguas finougrias.png
फ़िनो-ऊग्रिक भाषाएँ

फ़िनो-ऊग्रिक भाषाएँ (Finno-Ugric languages) यूराली भाषा-परिवार की उन सभी भाषाओं का समूह है जो सामोयेदी भाषाएँ नहीं हैं। इनमें तीन सर्वाधिक बोली जाने वाली यूराली भाषाएँ - हंगेरियाई, फ़िनिश और एस्टोनियाई - सम्मिलित हैं। इन भाषा-समूह को दो शाखाओं में विभाजित करा जाता है - फ़िनो-पेर्मी (Finno-Permic) और ऊग्रिक (Ugric)।[1][2]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Tommola, Hannu (2010). "Finnish among the Finno-Ugrian languages". Mood in the Languages of Europe. John Benjamins Publishing Company. p. 155. ISBN 978-90-272-0587-2.
  2. Tapani Salminen, "The rise of the Finno-Ugric language family." In Carpelan, Parpola, & Koskikallio (eds.), Early contacts between Uralic and Indo-European: linguistic and archaeological considerations. Mémoires de la Société Finno-Ougrienne 242; Helsinki 2001. 385–396.