ऊग्रिक भाषाएँ

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
ऊग्रिक
भौगोलिक
विस्तार:
हंगरी और पश्चिमी साइबेरिया
भाषा श्रेणीकरण: यूराली
उपश्रेणियाँ:
Lenguas ugrias.png
ऊग्रिक भाषाएँ

ऊग्रिक भाषाएँ (Ugric languages) यूराली भाषा-परिवार की एक शाखा हैं। यह स्वयं तीन उपशाखाओं में विभाजित है: हंगेरियाई, ख़ान्ती और मान्सी। माना जाता है कि इन सभी की सांझी पूर्वज आदि-ऊग्रिक भाषा (Proto-Ugric language) पश्चिमी साइबेरिया में दक्षिणी यूराल पर्वतों से पूर्व में 3000 ईसापूर्व से 500 ईसापूर्व तक बोली जाती थी। कभी-कभी ख़ान्ती व मान्सी को एकत्रित कर उन्हें ओब-ऊग्रिक (Ob-Ugric) कहा जाता है।[1][2]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Honti, László (1979). "Features of Ugric Languages (Observations on the Question of Ugric Unity)". Acta Linguistica Academia Scientiarum Hungaricae. 29: 1–25.
  2. Sammallahti, Pekka (1988), "Historical phonology of the Uralic languages, with special reference to Samoyed, Ugric, and Permic", in Denis Sinor, The Uralic Languages: Description, History and Foreign Influences, Leiden: Brill, pp. 478–554