निकोबार द्वीपसमूह

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
निकोबार द्वीपसमूह एशिया में
निकोबार द्वीपसमूह का नक्शा

निकोबार द्वीपसमूह है द्वीपसमूह भारत में। ये हिन्द महासागर में है और 150 किलोमीटर की दूरी आचेह, सुमात्रा से। अंडमान सागर है निकोबार द्वीपसमूह और थाईलैंड के बीच। ये 1,300 किलोमीटर की दूरी के बारे में स्थित भारत मुख्यभूमि से। राजनीतिक रूप से ये द्वीपसमूह अण्डमान और निकोबार द्वीपसमूह का हिस्सा है।

यूनेस्को ने बड़ा निकोबार को घोषित किया एक बायोस्फियर भंडार के विश्व नेटवर्क। [1]

भूगोल और जनसंख्या वर्ग[संपादित करें]

निकोबार द्वीपसमूह में 1,648.13 वर्ग किलोमीटर है और 36,844 लोग उनपर रहते हैं। द्वीपों में ही, तीन तरह के क्षेत्रों होते हैं:

उत्तरी समूह:

केंद्रीय समूह:

दक्षिणी समूह:

इंदिरा प्वाइंट (6°45'10"N 93°49'36"E) है भारत का सबसे दक्षिणी जगह। 

प्रकृति[संपादित करें]

निकोबार द्वीपों है महान द्वीप चाप का हिसा है चाप के द्वारा बनाई गई की टक्कर इंडो-ऑस्ट्रेलियाई प्लेट के यूरेशियाई प्लेट के साथ। ये टक्कर ने हिमालय को बनाया और इन्डोनेशियाई द्वीपों को उठा लिया। 

विश्व बायोस्फीयर रिजर्व[संपादित करें]

पर 31 मई, 2013 को यह सूचना मिली थी कि निकोबार द्वीप समूह घोषित किया गया है के रूप में विश्व बायोस्फीयर रिजर्व द्वारा यूनेस्को.[2]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. [1] Archived 2017-08-09 at the Wayback Machine, The International Coordinating Council of UNESCO’s Man and the Biosphere Programme (MAB), added the following new sites to the World Network of Biosphere Reserves (WNBR) http://www.unesco.org/new/en/media-services/multimedia/photos/mab-2013/india/ Archived 2017-01-31 at the Wayback Machine.
  2. "Nicobar Islands declared as world biosphere reserve". द टाइम्स ऑफ़ इण्डिया. 31 May 2013. मूल से 30 मई 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 31 May 2013.