धनौल्टी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

मसूरी से लगभग तीस किलोमीटर दूर टिहरी जाने वाली रोड पर है, ये शांत और खूबसूरत जगह। अब धीरे घीरे एक हिल स्टेशन के रूप में ये अपनी पहचान बनाता जा रहा है।

धनौल्टी देवदार के जंगल से घिरा है। अब देवदार का जंगल ही इसकी पहचान बन चुका है। यहां रहने के लिए कुछ होटल बन गये है। गढवाल मंडल टूरिज्म का गेस्ट हाउस भी है। शहर की भीड भीड से दूर आना चाहते हैं तो धनौल्टी आदर्श जगह है। मसूरी घूमने के बाद यहां ठहरा जा सकता है।

पर्यटन[संपादित करें]

धनौल्टी काफ़ी शान्तिपूर्ण स्थल के रूप में भी जानी जाती है जिस कारण यहाँ पर्यटकों की भीड़ अधिक रहती है। लंबी जंगली ढलानें, ठंडी व शांत हवाएँ, स्थानीय लोगों द्वारा की जाने वाली मेहमान नवाजी, मनमोहक मौसम, बर्फ से ढंके पहाड़ यहाँ की ख़ास विशेषताओं में शामिल हैं, जो इस जगह को सुकूनभरी छुट्टियाँ बिताने के लिए एक आदर्श जगह का दर्ज़ा देते हैं। देखने लायक़ जगहों में बारेहीपानी और जोरांडा फॉल्स, दशावतार मन्दिर, ईको-पार्क, सुरकंडा देवी, मन्दिर, हिमालयन वीवर्स, जैन मंदिर आदि शामिल हैं। सर्दियों में स्नो फॉल का मजा लेना चाहते हैं तो यहाँ जरूर जाएं।

यातायात और परिवहन[संपादित करें]

वायु मार्ग[संपादित करें]

देहरादून का जॉली ग्रांट हवाई अड्डा धनौल्टी से 82 किमी दूर स्थित है। और दिल्ली हवाई अड्डा करीब 400 किमी

रेल मार्ग[संपादित करें]

धनौल्टी का नज़दीकी रेलवे स्टेशन देहरादून ही है, जो 60 किमी दूर है।

सड़क मार्ग[संपादित करें]

सड़क मार्ग से धनौल्टी पहुँचने के लिए देहरादून से होते हुए बस से धनौल्टी पहुँच सकते हैं। फिर यहां से 15 रू का रिक्शा लेकर आप इंगलैण्ड भी जा सकते हैं।