तेरे बिन (धारावाहिक)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
तेरे बिन
शैली प्रेम
लेखक मीर मुनीर
सृजनात्मक निर्देशक अतुल केतकर
निर्माण का देश भारत
मूल भाषा(एं) हिन्दी
सत्र संख्या 1
प्रकरणों की संख्या 95
निर्माण
स्थल मुंबई, महाराष्ट्र, भारत
कैमरा सेटअप बहु-कैमरा
प्रसारण अवधि लगभग 22 मिनट
प्रसारण
मूल चैनल एंड टीवी
छवि प्रारूप 576आई (एसडीटीवी)
1080आई (एचडीटीवी)
मूल प्रसारण जुलाई 18, 2016 (2016-07-18) – नवम्बर 26, 2016 (2016-11-26)

तेरे बिन भारतीय हिन्दी धारावाहिक है, जिसका प्रसारण एंड टीवी पर 18 जुलाई 2016 से 26 नवम्बर 2016 तक कुल 95 एपिसोड में सम्पन्न हुआ। इसका निर्माण श्री सिद्धिविनायक चित्र ने किया है। इसमें गौरव खन्ना और शेफाली शर्मा मुख्य किरदार में हैं।

कहानी[संपादित करें]

ये कहानी डॉ॰ अक्षय सिन्हा (गौरव खन्ना) की है, जो अपनी पत्नी विजया सिन्हा (शेफाली शर्मा) और बेटी, नीति सिन्हा (माही मिलन कननी) के साथ हंसी खुशी रहता है। विजया के पिता का सपना एक अस्पताल बनाने का रहता है, जिसे अक्षय और विजया दोनों मिल कर पूरा करते हैं और उसे मिल कर चलाते हैं। दोनों ही अपने बीते हुए कल के कारण परेशान रहते हैं।

एक दिन उनके अस्पताल में डॉ॰ नंदिनी भट्ट (खुशबू तावड़े) काम की तलाश में आती है, जिसे विजया रख लेती है। उसी समय ऑपरेशन के लिए एक और डॉक्टर की जरूरत होती है, जो देरी के कारण नहीं आए रहता है। विजया उस डॉक्टर के जगह नंदिनी को भेज देती है। नंदिनी मास्क पहने रहती है और ऑपरेशन थिएटर में आती है। अक्षय उसे कोई और डॉक्टर समझ कर देरी से आने के लिए डांटता है। बाद में दोनों एक दूसरे को देख लेते हैं। उसके बाद पता चलता है कि आठ साल पहले दोनों एक दूसरे से प्यार करते थे। नंदिनी को लगता है कि अक्षय ने उसे धोका दिया, क्योंकि आठ साल से उसने कभी मिलने तक का कोशिश नहीं किया। अक्षय उससे माफी मांगने की कोशिश करता है, पर वो चले जाती है।

इसके कुछ दिन बाद नंदिनी बगीचे में घूमने जाती है, उसी जगह विद्यालय के कुछ बच्चे खेलते रहते हैं। तभी एक लड़की गिर जाती है और उसे चोट लग जाती है। नंदिनी उसे उसके घर ले जाती है और वहाँ उसकी नानी दवाई लाती है। नंदिनी के दवाई लगाने के बाद अचानक अक्षय और विजया भी घर आ जाते हैं। तब नंदिनी को पता चलता है कि वो दोनों पति पत्नी हैं और उनकी एक बेटी भी है। इससे पहले तक उसे यही लग रहा था कि अक्षय बस उसे छोड़ कर चला गया है, पर उसने शादी भी कर ली और उसकी एक बेटी भी है, देखने के बाद उसका अक्षय के ऊपर क्रोध बहुत बढ़ जाता है।

अक्षय उसे कई बार समझाने की कोशिश करता है कि उसने उसे धोका नहीं दिया है, पर वो कारण नहीं बता पाता कि उसकी क्या मजबूरी थी। वो उसे ये नहीं बता पाता कि विजया शादी से पहले ही उसके दोस्त नीलेश के बच्चे की माँ बनने वाली थी, और नीलेश हमेशा के लिए दूर चला गया था। उसके और उसके बच्चे के लिए उसे मजबूरी में शादी करनी पड़ी थी। हालांकि अंत में मजबूरी का पता चलने के बाद वो अक्षय को माफ कर देती है और अपने प्रेमी इरफान (रोहित भारद्वाज) के साथ नई जिंदगी की शुरुआत करती है। वहीं अक्षय और विजया भी फिर से हंसी खुशी रहने लगते हैं।

कलाकार[संपादित करें]

  • गौरव खन्ना - अक्षय सिन्हा
  • शेफाली शर्मा - विजया सिन्हा
  • खुशबू तावड़े - नंदिनी भट्ट
  • रोहित भारद्वाज - इरफान
  • नीति सिन्हा - माही मिलन कननी
  • माहरु शेख - मानसी ठाकुर

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]