तिम्मारसु

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
महाप्रधान तिम्मारसु
जन्म1451
विजयनगर
निधन1534
विजयनगर
जीवनसंगीकमला
संतानअन्नपूर्णा देवी
तिम्मा

तिम्मारसु विजयनगर के राजा कृष्णदेवराय का महा-मंत्री थे। तिम्मारसु का पूरा नाम सालुवा तिम्मारसु था परंतु इनके प्रियजन इन्हें "अप्पा जी" और अन्य इन्हें "महाप्रधान" कहते थे।

जीवन[संपादित करें]

महामंत्री तिम्मारसु राजा तुलुव नरस नायक के शासन काल से विजयनगर के महामंत्री हैं। राजा तुलुव नरस नायक ने ही इन्हें महाप्रधान का शीर्षक दिया था। फिल्म "श्री कृष्णदेवराय" के अनुसार कमला तिम्मारसु की पत्नी और फिल्म "महामंत्री तिम्मारसु" के अनुसार अन्नपूर्ण देवी इनकी पुत्री थीं। वह कृष्णदेवराय के लिए पिता समान थे। जब 1509 में राजा वीरनृसिंह राय मरने वाला था, तब उसने तिम्मारसु को कृष्णदेवराय के नेत्र निकालने के लिए कहा था ताकि कृष्णदेवराय की जगह उसका आठ वर्ष का पुत्र राजा बन सके परंतु तिम्मारसु ने एक बकरी के नेत्र निकालकर राजा को दे दिए। वीरनृसिंह राय की मृत्यु के बाद कृष्णदेवराय को राजा बनाने में तिम्मारसु का हाथ था। वह तेनाली रामा के बहुत बड़े सहयोगी थे। 1524 में कृष्णदेवराय ने तिम्मारसु को अपने पुत्र का हत्यारा मान कर परिवार सहित कारागृह में डाल दिया था। पर जब कृष्णदेवराय को तिम्मारसु की निर्दोषता के बारे में पता चला तो राजा ने तिम्मारसु से क्षमा मांगी और उन्हें सम्मान से स्वतंत्र कर दिया पर यह भी मान्यता है कि राजा ने तिम्मारसु को नेत्रहीन कर दिया था। तिम्मारसु ने भी राजा को क्षमा कर दिया था। 1534 में तिम्मारसु का निधन हो गया था।