तिब्बिया कॉलेज

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
आयुर्वेदिक एवं यूनानी तिब्बिया कॉलेज
चित्र:Tibbia logo.jpg

स्थापित1921
प्रधानाचार्य:डॉ॰ अहमद यासीन[1]
अवस्थिति:करोल बाग, नई दिल्ली-110 005.
परिसर:शहरी, 33.5 एकड़ (0.136 कि॰मी2)[2]
सम्बन्धन:दिल्ली विश्वविद्यालय
जालपृष्ठ:www.du.ac.in

तिब्बिया कॉलेज, जिसे आयुर्वेदिक एवं यूनानी तिब्बिया कॉलेज के नाम से भी जाना जाता है, एक सार्वजनिक विश्वविद्यालय है जो भारत की राजधानी नई दिल्ली में स्थित है। 19 वी सदी में स्थापित यह कॉलेज आयुर्वेदिक और यूनानी चिकित्सा पद्धति के अध्ययन की सुविधा प्रदान करता है। इस कॉलेज का उद्घाटन महात्मा गाँधी ने सन 1921 में किया था। यह कॉलेज आयुर्वेदिक आयुर्विज्ञान और शल्य चिकित्सा और यूनानी आयुर्विज्ञान और शल्य चिकित्सा में स्नातक उपाधि प्रदान करता है। 15 फ़रवरी 2008 को एक 60 बिस्तर वाला जच्चा-बच्चा खंड कॉलेज में शुरु किया गया है, साथ ही दिल्ली सरकार नें कॉलेज के आयुर्वेदिक और यूनानी चिकित्सा में योगदान के देखते हुए इसे एक विश्वविद्यालय के रूप में विकसित करने की घोषणा की है।[3]

इतिहास[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Holistic living". द टाइम्स ऑफ़ इण्डिया. 22 जून 2004. मूल से 16 जुलाई 2004 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 13 अप्रैल 2011.
  2. Sah, Ram Swarth (2003-12-25). "Old medicine, new learners". द हिन्दू. मूल से 26 अक्तूबर 2012 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2007-12-15.
  3. "Tibbia College to become a university". द हिन्दू. 2007-12-15. मूल से 26 अक्तूबर 2012 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2007-12-15.