डोंगरगढ़

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
डोंगरगढ़
Dongargarh
माँ बम्लेश्वरी मंदिर का मार्ग
डोंगरगढ़ is located in छत्तीसगढ़
डोंगरगढ़
डोंगरगढ़
छत्तीसगढ़ में स्थिति
निर्देशांक: 21°11′20″N 80°45′32″E / 21.1888°N 80.759°E / 21.1888; 80.759निर्देशांक: 21°11′20″N 80°45′32″E / 21.1888°N 80.759°E / 21.1888; 80.759
देश भारत
प्रान्तछत्तीसगढ़
ज़िलाराजनांदगाँव ज़िला
जनसंख्या (2011)
 • कुल37,372
भाषाएँ
 • प्रचलितहिन्दी, छत्तीसगढ़ी
समय मण्डलभामस (यूटीसी+5:30)

डोंगरगढ़ (Dongargarh) भारत के छत्तीसगढ़ राज्य के राजनांदगाँव ज़िले में स्थित एक नगर है।यहां का इतिहास गोंड राजाओं के राज्य से जुड़ा हुआ है।यह इसी नाम की तहसील का मुख्यालय भी है। यह स्थानीय माता बम्लेश्वरी मन्दिर के लिए प्रसिद्ध है। यहाँ चंद्रगिरि जैन धार्मिक स्थल और प्रज्ञागिरि, पञ्ञा मेत्ता संघ द्वारा निर्मित किया गया तथा प्रतिवर्ष पञ्ञा मेत्ता संघ द्वारा प्रज्ञागिरि पर अंतरराष्ट्रीय बौद्ध सम्मेलन का आयोजन किया जाता है। प्रज्ञागिरि बौद्ध धार्मिक स्थल भी स्थित हैं।[1][2]

नामार्थ[संपादित करें]

"डोंगर" का अर्थ "पहाड़" और "गढ़" का अर्थ "दुर्ग" होता है, अर्थात नगर के नाम का अर्थ "पहाड़ पर दुर्ग" है। यह 16 "गढ़" मे से 1 है |

माँ बम्लेश्वरी मन्दिर[संपादित करें]

नगर 490 मीटर (1,610 फीट) ऊँची पहाड़ी पर स्थित माँ बम्लेश्वरी मन्दिर के लिए जाना जाता है। इस मन्दिर से सम्बन्धित कई मान्यताएँ हैं, और इसके समीप ही छोटी बम्लेश्वरी मन्दिर भी स्थित है। नवरात्रि के दिनों में इन दोनों मन्दिरों में श्रद्धालुओं का तांता लगा रहता है। यहाँ शिव जी और हनुमान जी को समर्पित मन्दिर भी हैं।

चित्रदीर्घा[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]