जिवा महाला

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

जिवा महाला छत्रपति शिवाजी के अंगरक्षक थे। प्रतापगढ की लड़ाई में इन्होने शिवाजी के प्राण बचाए थे।

येे सैन ( नाई ) जााति केे थे। और शिवाजी महाराज के प्राण बचाने के बाद वह "होता जिवा म्हणून वाचला शिवा" के वाक्य से पेहचाने जाते थे। ये नदं राजवनश है