चन्द्र प्रकाश देवल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
चन्द्र प्रकाश देवल
जन्म 1949[1]
नागरिकता भारत Edit this on Wikidata
व्यवसाय लेखक, कवि, लेखक Edit this on Wikidata
प्रसिद्धि कारण पागी Edit this on Wikidata
पुरस्कार साहित्य अकादमी पुरस्कार,[2] बिहारी पुरस्कार Edit this on Wikidata

डॉ॰ चन्द्र प्रकाश देवल (अथवा चंद्र प्रकाश देवल) प्रसिद्ध राजस्थानी कवि और अनुवादक हैं। वो राजस्थानी साहित्य अकादमी सलाहकार परिषद के संयोजक भी हैं।

अनुवाद[संपादित करें]

उन्होंने बंगाली, उड़िया, गुजराती, हिन्दी और पंजाबी कविताओं और पुस्तकों का राजस्थानी में अनुवाद किया है। उन्होंने रूसी उपन्यासकार फ्योदोर दोस्तोवस्की के "क्राइम एंड पनिशमेंट" और सेम्युल बेकेट के नाटक "वेटिंग फॉर गोडोट" का भी अनुवाद किया।[3]

उनकी कुछ कविताएँ निम्न हैं: पछतावा, मृत्यु किसी को डराती नहीं, मृत्यु से मत भागो, विपथगा।

सम्मान[संपादित करें]

उन्हें सन् २०११ में भारत सरकार ने भारत के चतुर्थ सर्वोच्च नागरीक सम्मान पद्मश्री से सम्मानित किया गया। इनके द्वारा रचित एक कविता–संग्रह पागी के लिये उन्हें सन् 1979 में साहित्य अकादमी पुरस्कार (राजस्थानी) से सम्मानित किया गया।[4] उन्हें राजस्थानी साहित्य की सेवा करने और कविता "झुरावो" के लिए २००९ में मातृश्री कमल गोयनका राजस्थानी साहित्य सम्मान मिला। उन्हें अपनी कृति 'उदीक पुराण' के लिए सूर्यमल मिश्रण शिखर पुरस्कार (2004-05) प्रदान किया गया था।[5]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. ऑनलाइन कंप्यूटर लाइब्रेरी सेंटर, वर्चुअल अंतर्राष्ट्रीय अथॉरिटी रंदा, Dublin: ऑनलाइन कंप्यूटर लाइब्रेरी सेंटर, OCLC 609410106, VIAF अभिज्ञापक 2620070, अभिगमन तिथि 25 मई 2018Wikidata Q54919
  2. http://sahitya-akademi.gov.in/awards/akademi%20samman_suchi.jsp#RAJASTHANI; प्राप्त करने की तिथि: 9 मार्च 2019.
  3. "रेगिस्तान से आवाज़: लक्ष्य और आकांक्षा (Voices from the desert : aims and aspirations)". मूल से 10 फ़रवरी 2009 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 29 जून 2013.
  4. "अकादमी पुरस्कार". साहित्य अकादमी. मूल से 15 सितंबर 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 11 सितंबर 2016.
  5. "Maharana of Mewar Charitable Foundation, Udaipur held the 31st Annual Awards Distribution Ceremony 2012". www.eternalmewar.in. अभिगमन तिथि 2022-02-25. He has received Meera Puruskar 1999 from Rajasthani Sahitya Academy , Udaipur for his Hindi poetry Bolo Madhvi; Suryamal Mishan Award 2006 form Rajasthan Aasha Sahitya Academy , Bikaner;

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]