काबुल शाही

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

शाही या शाहिया राजवंशों ने भारत के मध्य राज्यों में शासन किया जिसके अन्तर्गत काबुलिस्तान तथा गान्धार (वर्तमान समय का उत्तरी पाकिस्तान) के भाग आते थे। यह राजवंश तीसरी शताब्दी में कुषाण राजवंश के पतन के बाद शासन में आया था और नौवीं शताब्दी के आरम्भ तक तक शासन किया। इस राज्य को 565 से 879 ई तक "काबुल शाही" (फारसी में 'काबुल शाहान' या 'रतबेल शाहान' کابلشاهان یا رتبیل شاهان) कहा जाता था। उस समय इसकी राजधानी कपिसा और काबुल थी। बाद में इसे हिन्दू शाही कहा जाने लगा।

शाही वंषीय शाषक की सूची

  • जयपाल-964-1001
  • आनंदपाल-1001-1010
  • त्रिलोचनपाल-1010-1021
  • भीमपाल-1021-1026