एडमंड प्रथम

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
एडमंड
Edmund I - MS Royal 14 B V.jpg
तेरहवीं शताब्दी की पुस्तक जेनोलॉजिकल क्रॉनिकल ऑफ द इंग्लिश किंग्स में एडमंड
अंग्रेजों का राजा
कार्यकाल27 अक्टूबर 939 – 26 मई 946
राज्याभिषेकc.29 नवंबर 939
संभवत: थेम्स पर किंग्स्टन में[1]
पूर्ववर्तीऍथेल्स्तन
उत्तरवर्तीईडरेड
जन्म921
वेसेक्स, इंग्लैंड
निधन26 मई 946
पुकलचर्च, ग्लूसेस्टरशायर, इंग्लैंड
समाधि
जीवनसंगीशैफ़्ट्सबरी की ऍल्फगिफ़ु
डैमरहैम की ऍथेलफ्लैएड
संतानईडविग
एडगर, इंग्लैंड का राजा
घरानावेसेक्स का राजघराना
पिताएडवर्ड, वेसेक्स का राजा
माताकेंट की ईडगिफ़ु
धर्मचाल्सेडोनिया का ईसाई धर्म

एडम्ंड प्रथम (अंग्रेज़ी: Edmund I), (Ēadmund; 921 – 26 मई 946), जिसे ज्येष्ठ, न्यायप्रिय व बेहतरीन (the Elder, the Deed-doer, the Just, or the Magnificent), कहा जाता था सन ९३९ से अंग्रेजों का राजा था। वो एडवर्ड द एल्डर का बेटा और ऍथेल्स्तन का सौतेला भाई था। ऍथेल्स्तन की 27 अक्टूबर 939 को मृत्यु हो गयी थी और उसके बाद एडमंड उसके बाद राजा बना।

सैन्य खतरे[संपादित करें]

एडमंड एडवर्ड द एल्डर के बेटे के तौर पर राजा बना,[2] अल्फ्रेड महान का पोता था, और वेसेक्स के ऍथेलवुल्फ का पड़पोता था। वेसेक्स का वेग्बर्ट और केंट का ईल्हमंड उसके पूर्वज थे। राज्याभिषेक के कुछ ही समय बाद से ही उसे तमाम सैन्य खतरों का सामना करना पड़ा। राजा ओलफ तृतीय गुथफ्रिथसन ने नॉर्थम्ब्रिया पर कब्ज़ा कर लिया था और इंग्लैंड की मध्यभूमियों पर आक्रमण कर दिया था। ९४२ में ओलफ़ की मृत्यु के बाद एदमंड ने दोबारा मध्यभूमियों को जीत लिया।[2] सन् 943 में, एडमंड राजा यॉर्क का ओलैफ का गॉड-फ़ादर बना। ९४४ ई॰ में उसने नॉर्थम्ब्रिया को भी जीत लिया।[3] उसी साल उसके सहयोगी यॉर्क के ओलैफ ने गद्दी छोड़ दी और आयरलैंड में डबलिन चला गया। ओलैफ़ ऐमलैब कुआरन के नाम से डबलिन का राजा बन गया। सन् 945 में, एडमंड ने स्ट्रैथक्लाइड का साम्राज्य जीत लिया लेकिन विजित क्षेत्र को स्कॉटलैंड के मैल्कम प्रथम को एक दूसरे रणनीतिक क्षेत्र के बदले दे दिया।[3] एदम्ंद ने इस तरह से स्कॉटलैंड के साथ शांतिपूर्ण सीमा और मित्रतापूर्ण सह अस्तित्व की नीति लागू की। उसके शासनकाल में इंग्लैड में मठों का पुनर्निर्माण प्रारंभ हुआ।

मृत्यु और उत्तराधिकार[संपादित करें]

राजा एदमंड के सिक्के

26 मई 946 को एडमंड की एक तड़ीपार चोर लेओफ़ा ने तब हत्या कर दी जब वो दक्षिण ग्लूसेस्टरशायर के पुकलचर्च में संत ऑगस्टीन के जन्मदिवस समारोह (मास (लिटर्जी)) में हिस्सा ले रहा था। [4] वॉरसेस्टर का जॉन और मैल्मसबरी का विलियम के अनुसार एडमंड अपने कुलीन साथियों व दरबारियों के साथ भोज का आनंद ले रहा था जब उसने भीड़ में लेओफा को देख लिया था। उसने लेओफा पर हमला कर दिया लेकिन इस मारपीट में लेओफा ने उसकी हत्या कर दी। लेओफा को भी तुरंत मार गिराया गया।[5] हाल ही के एक अनुसंधान के अनुसार एदमंड की मृत्यु की यह कहानी सही नहीं पाई गई है और इस नये अध्धयन के अनुसार राजा एक राजनितिक हत्या का शिकार हुआ था।[6]

एडमंड के बाद उसका भाई ईडरेड राजा के रूप में 946 से 955 तक उसका उत्तराधिकारी बना। एडमंड की संतानों ने बाद में इंग्लैंड पर शासन किया।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

टिप्पणियाँ[संपादित करें]

  1. The Blackwell Encyclopedia of Anglo-Saxon England, p. 514
  2. Edmund I (इंग्लैंड का राजा), "Edmund-I" Encyclopædia Britannica
  3. David Nash Ford, Edmund the Magnificent, King of the English (AD 921-946), Early British Kingdoms.
  4. "Here King Edmund died on St Augustine’s Day [26 May]. It was widely known how he ended his days, that Liofa stabbed him at पुकलचर्च. And Æthelflæd of Damerham, daughter of Ealdorman Ælfgar, was then his queen." Anglo-Saxon Chronicle, MS D, tr. Michael Swanton.
  5. John of Worcester, Chronicon AD 946; William of Malmesbury, Gesta regum, book 2, chapter 144. The description of the circumstances remained a popular feature in medieval chronicles, such as Higden's Polychronicon: "But William, libro ij° de Regibus, seyth (says) that this kyng kepyng a feste at Pulkirchirche, in the feste of seynte Austyn, and seyng a thefe, Leof by name, sytte [th]er amonge hys gestes, whom he hade made blynde afore for his trespasses – (quem rex prios propter scelera eliminaverat, whom the King previously due to his crimes did excile) – , arysede (arrested) from the table, and takenge that man by the heire of the hedde, caste him unto the grownde. Whiche kynge was sleyn – (sed nebulonis arcano evisceratus est) – with a lyttle knyfe the [th]e man hade in his honde [hand]; and also he hurte mony men soore with the same knyfe; neverthelesse he was kytte (cut) at the laste into smalle partes by men longyng to the kynge." Polychronicon, 1527. See Google Books
  6. के. हैलोरन ((बसंत 2015)). ए मर्डर ऐट पुकलचर्च: द डेथ ऑफ़ किंग एडमंड, 26 मई 946. मिडलैंड हिस्ट्री. 40. पृ॰ 120-129. |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)

सन्दर्भ[संपादित करें]

  • फ़्लोडोअर्ड, एनेलेस, ed. फिलिपि लौएर, Les Annales de Flodoard. Collection des textes pour servir à l'étude et à l'enseignement de l'histoire 39. Paris: Picard, 1905.

पूर्वज[संपादित करें]

राजसी उपाधियाँ
पूर्वाधिकारी
ऍथेल्स्तन
अंग्रेजो का राजा
939–946
उत्तराधिकारी
ईडरेड