ई-मित्र

From विकिपीडिया
Jump to navigation Jump to search

ई-मित्र, राजस्थान सरकार की एक महत्वाकांक्षी ई-शासन पहल है, जिसमे सरकार की विभिन्न सेवाओं का लाभ लेने के लिए नागरिकों को सुविधा और पारदर्शिता हेतु राज्य सर्कार द्वारा सार्वजनिक-निजी भागीदारी (पीपीपी) मॉडल का उपयोग करके राज्य के सभी 33 जिलों में कार्यान्वित किया जा रहा है।

ई-मित्र राजस्थान सरकार ने सरकार के विभिन्न कार्यों का फायदा उठाने के लिए सभी 33 ज़िलों में ऑनलाइन तथा ऑफलाइन कार्य करने के लिए बनाई गयी एक ई-गवर्नेंस है। [1] ई-मित्र में मूलनिवास ,जाति प्रमाण पत्र[2] ,जन्म प्रमाण पत्र ,राशन कार्ड भामाशाह कार्ड इत्यादि बनाये तथा सुधारे जाते है। [3] इनके अलावा ई-मित्र से पानी का बिल , बिजली का बिल , मोबाईल तथा टेलिविज़न ऑनलाइन अर्थात सीधे ही भर सकते है। [4][5]

ई-मित्र की विशेषताएं क्या हैं?[edit]

ई-मित्र का प्राथमिक उद्देश्य सभी विभागों से एक छत के नीचे जनता को एक कुशल, पारदर्शी, सुविधाजनक और मैत्रीपूर्ण तरीके से एकीकृत नागरिक सेवाएं प्रदान करना है।नागरिक ई-मित्र या इंटरनेट के माध्यम से विभिन्न सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं।

  1. ऑनलाइन पहुंच किसी भी दिन, कभी भी, कहीं भी: ई-मित्रा पर कोई छुट्टियां नहीं हैं यह सेवा आपको 24 घंटे, 365 दिन के लिए उपलब्ध है। यदि आपके पास इंटरनेट तक पहुंच है तो आप उपयोगिता बिल लेनदेन कर सकते हैं।

ई-मेल अधिसूचना ई-मित्र की सेवाओं का लाभ उठाने के लिए लॉगिन आईडी और पासवर्ड पंजीकरण के समय उपयोगकर्ता द्वारा दिए गए ईमेल पते पर भेजा जाता है।

  1. ग्राहक सहायता: किसी भी प्रश्न के मामले में ई-मित्र की वेबसाइट पर जाकर फीडबैक फॉर्म के माध्यम से ई-मेल भेजें। ई-मित्र पर आ रही समस्यों के निराकरण लिए आप ई-मित्र सपोर्ट पर ईमेल भी कर सकते है।

पंजीकरण आईडी क्या है?[edit]

पंजीकरण आईडी: पंजीकरण आईडी प्रत्येक ऐसे नागरिक के लिए एक अद्वितीय पंजीकरण संख्या है जो नेट-आधारित और किओस्क ई-मित्र सर्वर का उपयोग करने के लिए तैयार है। इंटरनेट द्वारा ई-मित्रा के आवेदन के लिए पहली बार किसी भी नागरिक के लिए मेल द्वारा अधिसूचित किया गया। किओस्क में पहली बार पंजीकृत होने पर नागरिक को अवगत कराया गया। किसी भी नागरिक को इंटरनेट (ई-मित्र वेबसाइट) के माध्यम से किसी भी सेवा का लाभ लेने के लिए पंजीकरण आईडी अनिवार्य है।

किओस्क में पंजीकरण की क्या आवश्यकता है?

पहली बार किओस्क / इंटरनेट पर ई-मित्रा द्वारा की जाने वाली किसी भी सेवा का लाभ उठाने के लिए, एक नागरिक को पंजीकरण करना होगा।

  1. किओस्क / इंटरनेट पर पंजीकरण आईडी / टोकन आईडी दर्ज करके / प्रवेश करके नागरिक पहले से लाभान्वित सेवाओं की स्थिति की जांच कर सकते हैं।
  2. किसी भी सेवा के भुगतान और बाड़ों की प्राप्ति के बाद, नागरिक को एक अद्वितीय टोकन आईडी दिया गया है।
  3. टोकन आईडी प्रत्येक सेवा के लिए अद्वितीय है पंजीकरण आईडी टोकन आईडी के पीछे के लिए उपयोगी है।

नोट: ई-मित्रा में पंजीकृत हर नागरिक के पास एक अद्वितीय पंजीकरण आईडी है। एक नागरिक द्वारा प्राप्त की जाने वाली प्रत्येक सेवा को एक अद्वितीय टोकन आईडी द्वारा एक्सेस किया जाता है।जरुर said in a statement

बाहरी कड़ियाँ[edit]

आधिकारिक जालस्थल

सन्दर्भ[edit]

  1. ख़ासख़बर अब ई मित्र पर बनेंगे राशन कार्ड
  2. Empty citation (मदद)
  3. राजस्थान पत्रिका अब ई-मित्र ऑनलाइन सबमिशन
  4. राजस्थान पत्रिका अब ई-मित्र पर ऑनलाइन भामाशाह कार्ड बनेंगे
  5. राजस्थान पत्रिका -ई-मित्र पर राशन कार्ड भी बनाना शुरु किया