आयनन ऊर्जा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

किसी विलगित (आइसोलेटेड) गैसीय अवस्था वाले परमाणु के सबसे शिथिलतः बद्ध (लूजली बाउण्ड) इलेक्ट्रान को परमाणु से अलग करने के लिये आवश्यक ऊर्जा, आयनन ऊर्जा ( ionization energy (IE)) या 'आयनन विभव' या 'आयनन एन्थैल्पी' कहलाती है।

.

जहाँ किसी रासायनिक तत्त्व का गैसीय अवस्था में स्थित परमाणु है; E_i, आयनन ऊर्जा है जिसको प्रथम आयनन ऊर्जा भी कहते हैं। दूसरे सबसे शिलिलतः बद्ध इलेक्ट्रान को परमाणु से बाहर निकालने के लिये आवश्यक ऊर्जा को द्वितीय आयनन ऊर्जा कहते हैं। द्वितीय आयनन ऊर्जा, प्रथम आयनन ऊर्जा से अधिक होती है।

आययन ऊर्जा को इलेक्ट्रान वोल्ट (eV) में, या 'जूल प्रति मोल' में व्यक्त किया जाता है।

1 eV = 1,6 × 10-19 C × 1 V = 1,6 × 10-19 J

प्रायोगिक आंकड़े[संपादित करें]

प्रथम आयनन ऊर्जा, एक आवर्ती गुण है। आवर्त सारणी के किसी पिरियड में बायें से दायें चलने पर प्रथम आयनन ऊर्जा का मान बढ़ता है। किसी एक ही समूह में ऊपर से नीचे उतरने पर आयनन ऊर्जा का मान कम होता है। मुख्य ब्लाकों में यह गुण विशेष रूप से दिखायी पड़ता है।

समूह --> 1 2
13 14 15 16 17 18
पिरियड
1 H
13,59844

He
24,58741
2 Li
5,39172
Be
9,32263

B
8,29803
C
11,26030
N
14,53414
O
13,61806
F
17,42282
Ne
21,56454
3 Na
5,13908
Mg
7,64624

Al
5,98577
Si
8,15169
P
10,48669
S
10,36001
Cl
12,96764
Ar
15,759
4 K
4,34066
Ca
6,11316

Ga
5,99930
Ge
7,899
As
9,8152
Se
9,75238
Br
11,81381
Kr
13,99961
5 Rb
4,17713
Sr
5,69484

In
5,78636
Sn
7,34381
Sb
8,64
Te
9,0096
I
10,45126
Xe
12,12987
6 Cs
3,89390
Ba
5,21170

Tl
6,10829
Pb
7,4167
Bi
7,2855
Po
8,41671
At
9,2
Rn
10,74850
7 Fr
4,0712
Ra
5,27892

इस सारणी में सभी मान eV में दिये गये हैं।

आयनन ऊर्जा का आवर्ती परिवर्तन और अधिक स्पष्ट हो जाता है यदि उपरोक्त आंकड़ों को ग्राफ रूप में प्रस्तुत करें। निम्नलिखित ग्राफ में Y-अक्ष पर आयनन ऊर्जा तथा X-अक्ष पर परमाणु क्रमांक है।

Ioniz.gif