अन्तर्राष्ट्रीय विद्युततकनीकी आयोग

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

अन्तर्राष्ट्रीय विद्युततकनीकी आयोग[1] या (IEC) एक लाभ निरपेक्ष, गैर-सरकारी अन्तर्राष्ट्रीय मानक संगठन है। यह विद्युतीय, इलैक्ट्रानिकीय और संबंधित प्रौद्योगिकीयों – सामूहिक रूप से जिन्हें "विद्युतप्रौद्योगिकी" या "electrotechnology" कहते हैं, उनके लिये अन्तर्राष्ट्रीय मानक निर्मित एवं प्रकाशित करता है। IEC मानक प्रौद्योगिकियों की एक वृहत संख्या कवर करता है, जैसे कि ऊर्जा उत्पादन, प्रसारण और घरेलु उपकरणों, कार्यालयों, अर्ध-चालकों, फ़ाइबर-आप्टिक्स, बैटरियों, सौर-उर्जा, नैनोतकनीक और्मैरीन ऊर्जा, इत्यादि कई और भी. IEC अनुरूपता अनुपालन (conformity assessment) योजनाएं भी बनाता है, जो यह सुनिश्चित करतीं हैं, कि कोई उपकरण अन्तर्राष्ट्रीय मानकों का अनुपालन करता है या नहीं। IEC अपने मानक IEEE के संग प्रकाशित करता है और सम्बन्धित मानकों का विकास अन्तर्राष्ट्रीय मानक संगठन एवं ITU के साथ संयुक्त रूप से करता है।

सदस्यता[संपादित करें]

सदस्य देशों की सूची इस प्रकार है:

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कडि़यां[संपादित करें]

तकनीकी समिति वेबपन्ने

IEC मानक और उपकरण डाटाबेस फ़ार्मैट में