अनामिका (कविता संग्रह)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
अनामिका (कविता संग्रह)  
[[चित्र:|150px]]
मुखपृष्ठ
लेखक सूर्यकांत त्रिपाठी निराला
देश भारत
भाषा हिंदी
विषय साहित्य
प्रकाशक नवजादिक लाल, २३ शंकर घोष लेन, कलकत्ता
प्रकाशन तिथि १९२३
पृष्ठ ४०

अनामिका पण्डित सूर्यकांत त्रिपाठी निराला की एक काव्य रचना है।[1] अनामिका या प्रथम अनामिका नामक कलकत्ते से प्रकाशित सूर्यकांत त्रिपाठी 'निराला' के इस कविता संग्रह में ९ कविताएँ थीं। (१) ‘अध्यात्म फल’ (२) ‘माया’, (३) ‘जलद’, (४) ‘अधिवास’, (५) ‘तुम और मैं’, (६) ‘जुही की कली’, (७) ‘पंचवटी प्रसंग’, (८) ‘सच्चा प्यार’ और (९) ‘लज्जित’।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "अनामिका". अभिगमन तिथि जनवरी 2015. |access-date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)