अनबार प्रान्त

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
अनबार
الأنبار‎ / Anbar
मानचित्र जिसमें अनबार الأنبار‎ / Anbar हाइलाइटेड है
सूचना
राजधानी : रमादी
क्षेत्रफल : १,३८,२२८ किमी²
जनसंख्या(२००३):
 • घनत्व :
१३,००,०००
 ९.४/किमी²
उपविभागों के नाम: ज़िले
उपविभागों की संख्या:
मुख्य भाषा(एँ): अरबी


अनबार प्रान्त के ७ ज़िले

अनबार प्रान्त, जिसे अरबी में मुहाफ़ज़ात​ अल-अनबार (محافظة الأنبار‎) कहते हैं इराक़ का एक प्रान्त है। सन् १९७६ से पहले इस प्रान्त का नाम 'रमादी प्रान्त' था और १९६२ से पहले 'दुलैम प्रान्त' था।

नाम का अर्थ व उत्पत्ति[संपादित करें]

'अनबार' नाम फ़ारसी से आया है और इसका अर्थ '(अनाज के) गोदाम या ढेर' है। अनबार शहर बैबिलोनियाई क्षेत्र की पश्चिमी सरहद पर हुआ करता था, और यहाँ से बैबिलोन पर नियंत्रण रखने वाले ईरान के सासानी साम्राज्य ने व्यापारिक और सैनिक चौकियाँ बनवाई थी जहाँ खाद्य सामग्री राखी जाती थी।[1] ध्यान देन की यही शब्द हिन्दी में 'अंबार'/'अम्बार' के रूप में मिलता है और इसका अर्थ 'ढेर' होता है।[2]

भूगोल[संपादित करें]

अनबार प्रान्त क्षेत्रफल के हिसाब से इराक़ का सबसे बड़ा प्रान्त है और भौगोलिक दृष्टि से यह अरब प्रायद्वीप में आता है। इराक़ के पश्चिमी भाग का बड़ा हिस्सा इसी प्रान्त में सम्मिलित है और इसकी सीमाएँ सीरिया, जोर्डन और साउदी अरब से लगती हैं। यहाँ की धरती शुष्क स्तेपी और रेगिस्तान का मिश्रण है। फ़ुरात नदी इस प्रान्त के उत्तर से दक्षिणपूर्व को निकलती है और प्रान्त के ७ में से ६ ज़िलों से गुज़रती है। गर्मियों में यहाँ का तापमान ४२ सेंटीग्रेड तक चढ़ जाता है और सर्दियों में ९ सेंटीग्रेड तक गिरता है। अधिकतर बारिश सर्दियों में होती है। यहाँ गेंहू, आलू, जौ, मक्का, सब्ज़ियाँ और जानवरों का चारा उगाया जाता है। इसके अलावा यहाँ खजूर के अनुमानित २५ लाख वृक्ष हैं जिनसे बहुत पैदावार होती है।

लोग[संपादित करें]

अनबार प्रान्त के लोग लगभग सभी सुन्नी मुस्लिम अरब हैं। कुछ स्रोतों के अनुसार वे प्रांतीय आबादी के ९९% हैं।[3] इनमें से अधिकतर दुलैम क़बीले (الدليم‎, Dulaim) के सदस्य हैं, जो अरबों के सबसे बड़े क़बीलों में से एक है और इराक़, सीरिया और जोर्डन में फैले हुए हैं।

इराक़ के भूतपूर्व तानाशाह सद्दाम हुसैन भी सुन्नी थे और दुलैमी उनके सख़्त समर्थक थे। सन् १९९०-१९९१ में जब इराक़ को संयुक्त राज्य अमेरिका ने कुवैत से खदेड़ दिया तो अमेरिका ने इराक़ के शियाओं और अन्य गुटों को सद्दाम के विरुद्ध विद्रोह करने के लिए उकसाया था। मार्च १९९१ में इराक़ के कई इलाक़ों में विद्रोह भड़के लेकिन अनबार प्रान्त में पूरी तरह सद्दाम हुसैन का साथ दिया, जिस से सद्दाम ने इसे 'श्वेत प्रान्त' (यानि 'शुद्ध' या 'साफ़' प्रान्त) का नाम दिया था।[4]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Bābil, the city of witchcraft and wine: the name and fame of Babylon in medieval Arabic geographical texts, Caroline Janssen, University of Ghent, 1995, ... Abu'l-Qasim said that al-Anbar was the border of Babil, which was named (al-Anbar) because there the granaries of wheat, barley, qat and straw were concentrated and the Kisras (Persian monarchs) used to supply their associates from there ...
  2. Star English-Hindi and Hindi-English Dictionary, Joseph W. Raker, pp. 497, Star Publications, 2008, ISBN 978-81-7650-326-6, ... अंबार (ambar) पु. (फा.) heap; bulk ...
  3. Withdrawal from Iraq: Assessing the Readiness of Iraqi Security Forces, Anthony H. Cordesman, Adam Mausner, pp. 69, CSIS, 2009, ISBN 978-0-89206-553-0, ... Anbar ... % Sunni 99 % Shia 1 ...
  4. Iraq: Sanctions And Beyond, Anthony H Cordesman, Ahmed S. Hashim, pp. 20, Westview Press, 1997, ISBN 978-0-8133-3236-9, ... The powerful Al-Dulaim tribal confederation has traditionally been a strong supporter of Saddam Hussein. The Al-Dulaim clan is based in Al-Anbar province, in the Sunni heartland, which Saddam declared was the 'white province' because of because of its complete loyalty during the March 1991 rebellions ...