हरदेव बाहरी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

डॉ॰ हरदेव बाहरी (जन्म १९०७ ई०) हिन्दी के कोशकार, भाषावैज्ञानिक तथा शिक्षाविद हैं।

परिचय[संपादित करें]

हरदेव बाहरी का जन्म अटक जिले (अब पाकिस्तान में) में हुआ। आपने बी०ए० आनर्स (अंग्रेजी), एम. ए. (इतिहास), हिन्दी प्रभाकर, एम०ओ०एल० (संस्कृत), पी-एच.डी., डी०लिट्० (शब्दार्थ विज्ञान) पंजाब विश्वविद्यालय तथा प्रयाग विश्वविद्यालय से किया। अनेक वर्षों तक प्रयाग विश्वविद्यालय के हिन्दी विभाग में प्राध्यापक रहे। आपने ओरियन्टल कालेज लाहौर, डी०ए०वी० कालेज रावलपिंडी, एचिसन कालेज लाहौर, इलाहाबाद विश्वविद्यालय, कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय में अध्यापन किया। आपने १९७१ में अवकाश ग्रहण किया।

पुरस्कार[संपादित करें]

पंजाब सरकार, बिहार सरकार और भारत सरकार से प्रचुर धनराशि। हिन्दी साहित्य सम्मेलन से साहित्य वाचस्पति की उपाधि। अनेक पुस्तकें पुरस्कृत।

यात्राएँ[संपादित करें]

भारत में सर्वत्र। यूरोप की दो बार यात्रा। रूसी-हिन्दी शब्दकोश के संकलन के लिए सोवियत संघ में एक वर्ष का प्रवास। जमर्न जनवादी गणतंत्र में रहकर हिन्दी-जर्मन और जर्मन-हिन्दी कोशों का संकलन।

कृतित्व[संपादित करें]

लगभग 34 पुस्तकें प्रकाशित जिनमें 5 भाषा पर अंग्रेजी में, 8 भाषाविज्ञान और भाषा पर हिन्दी में, 2-3 हिन्दी साहित्य पर, 16 शब्दकोश, 1-2 फुटकर।

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]