हजारा लोगों का उत्पीड़न

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

हजारा लोगों के उत्पीड़न से आशय हजारा लोगों के विरुद्ध भाँतिभांति के भेदभाव से है। हजारा लोग मुख्यतः अफगानिस्तान के हज़ाराजात के निवासी हैं किन्तु एक बड़ी संख्या पाकिस्तान के क्वेटा में तथा इरान के मसाद में भी रहती है। हजारा लोगों का उत्पीदन का इतिहास बहुत पुराना है और यह १६वीं शताब्दी में बाबर से आरम्भ होता है जो काबुलिस्तान का निवासी था।[1]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. John Leyden; William Erskine, संपा॰ (1921). "Events Of The Year 910 (1525)". Memoirs of Babur. Packard Humanities Institute. पृ॰ 5. अभिगमन तिथि 2012-12-16.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]