सोलंकी वंश

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

सोलंकी वंश मध्यकालीन भारत का एक राजपूत राजवंश था। सोलंकी गोत्र राजपूतों में आता है[1] सोलंकी राजपूतों का अधिकार गुर्जर देश और कठियावाड राज्यों तक था। ये ९वीं शताब्दी से १३वीं शताब्दी तक शासन करते रहे।इन्हे गुर्जर देश का चालुक्य भी कहा जाता था।[2]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. D. P. Dikshit (1980). Political History of the Chalukyas of Badami. Abhinav Publications. https://books.google.com/books?id=lEB11tKmCgcC&pg=PA21&lpg. 
  2. N. Jayapalan (2001). History of India. Atlantic Publishers & Distri. प॰ 146. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-81-7156-928-1. https://books.google.com/books?id=tU1yDpYlu38C&pg=PA146&dq. "V. A. Smith and A. M. T. Jackson also endorsed the view that Chalukyas were a branch of famous Gurjar"