सुथार

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

सुथार (संस्कृत : सूत्रधार) भारत में एक जाति है।[1][2] मूलतः इनका पारंपरिक काम बढ़ई(काष्ठकारी) होता है और ये भगवन विश्वकर्मा को अपना ईष्ट देव मानते हैं। बढ़ई जाती भारत के सारे राज्यों में पाए जाते है तथा सुथार शब्द का प्रयोग ज्यादातर राजस्थान में ही किया जाता है। इनकी आबादी भारत में 7.3 करोड़ के आस पास पाई जाती है। इनके कुल देवता विष्णु है तथा ये वैष्णव सम्प्रदाय से सम्बन्ध रखते है।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Suthar Mahasabha India - Suthar Samaj Community". Suthar Mahasabha India (अंग्रेज़ी में). अभिगमन तिथि 2019-03-11.
  2. "Constituency watch: Caste equations play key role, Rajputs dominant in Lohawat". hindustantimes (अंग्रेज़ी में). 2018-10-22. अभिगमन तिथि 2019-03-11.