साँचा:आज का आलेख २० जनवरी २०१०

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
कोलेस्ट्रॉल अणुओं का स्पेस-फिलिंग प्रतिरुप
कोलेस्ट्रॉल मोम जैसा एक पदार्थ होता है, जो यकृत से उत्पन्न होता है। यह सभी पशुओं और मनुष्यों के कोशिका झिल्ली में पाया जाता है और रक्त कणिकाओं में प्रवाहित होता है। यह शरीर के हर भाग में पाया जाता है और शरीर में विटामिन डी, हार्मोन्स और पित्त का निर्माण करता है, जो शरीर के अंदर पाए जाने वाले वसा को पचाने में मदद करता है। शरीर में कोलेस्ट्रॉल भोजन में मांसाहारी आहार के माध्यम से भी पहुंचता है यानी अंडे, मांस, मछली और डेयरी उत्पाद इसके प्रमुख स्रोत हैं। इसीलिए अनाज, फल और सब्जियों में कोलेस्ट्रॉल नहीं पाया जाता। शरीर में कोलेस्ट्रॉल का लगभग ८० प्रतिशत उत्पादन यकृत के माध्यम से होता है। कोलेस्ट्रॉल शब्द यूनानी शब्द कोले और और स्टीयरियोज (ठोस) से बना है, और इसमें रासायनिक प्रत्यय ओल लगा हुआ है। ये ३ प्रकार के होते हैं:एलडीएल, एचडीएल और वीएलडीएल। विस्तार में...