सदस्य वार्ता:158.144.67.96

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

नमस्ते 158.144.67.96 जी! आपके बनाए लेख और सामग्री बहुत अच्छी हैं। हिन्दी विकि में योगदान देने के लिये बहुत बहुत धन्यवाद! यदि आप पंजीकरण कर लें और औपचारिक रूप से हमारे समाज का भाग बनें तो हमारा सौभाग्य होगा। अगर मैं किसी भी समय आपकी कोई साहायता कर सकूँ तो बेझिझक पूछियेगा। --Hunnjazal (वार्ता) 09:14, 26 मार्च 2013 (UTC)

सहायता चाहिए[संपादित करें]

हिन्दी विकिपीडिया पर श्रेणी कैसे बनाते हैं। यदि आप जानते हैं तो कृपया मुझे भी इस बारे में बतायें। --संजीव कुमार (वार्ता) 15:22, 30 मार्च 2013 (UTC)

मैं ये श्रेणियाँ बनाने का इच्छुक हूँ -
श्र:आयाम पहले से है।
श्रेणी:भौतिकी की अवधारणाएँ बनाई गई है।
  • en:Category:Multi-dimensional_geometry ⇒ श्रेणी:बहु विमीय ज्यामिति
    en:Category:Theoretical_physics ⇒ श्रेणी:सैद्धान्तिक भौतिकी।
    मेरे अंग्रेजी कड़ियाँ साथ लिखने का कारण यह है कि सामान्यतया मैं अग्रेजी पृष्ठों का हिन्दी अनुवाद करता हूँ। मैं कुछ साँचे भी बनाना चाहता हूँ लेकिन एक साँचा बनाने में अपने-आप को पूर्णतया असफल पाया। यदि आप सहायता कर सकते हैं तो कृपया साँचा:उपपरमाण्विक कण बनाने में मेरी मदद करें। --संजीव कुमार (वार्ता) 16:18, 30 मार्च 2013 (UTC)
साँचा
साँचा:Cite आर्काइव अथवा किसी सम्बन्धित नाम (जो भी ज्यादा उचित हो और अंग्रेजी में en:Template:Cite arXiv नाम से उपलब्द्ध) से एक साँचा चाहिए। क्या आप बनाने की कृपा करेंगे।--संजीव कुमार (वार्ता) 23:32, 20 अप्रैल 2013 (UTC)

जीवित व्यक्ति से सम्बंधित जिवंत लेख[संपादित करें]

आप किसी अच्छी हिन्दी पुस्तक को पढेंगे तो पायेंगे कि किसी लेख को जिवंत (यह केवल जीवित व्यक्ति के लिए है) बनाने के लिए उसमें वह/वे की जगह आप शब्द का प्रयोग किया जाता है। हो सकता है विकिपीडिया इस निति को अपनाने से परहेज करे। मुझे विकिपीडिया की नीतियों के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है। अतः कृपया मुझे इसके बारे में जानकारी दें। दूसरी बात बांग्ला भाषा में नाम से सम्बंधित है तो उसे बड़ा करने की क्या आवश्यकता थी (यह मैं मेरी व्यक्तिगत जानकारी के लिए पूछ रहा हूँ)। --संजीव कुमार (वार्ता) 07:57, 8 अप्रैल 2013 (UTC)

नमस्कार संजीव जी, आपके पहले प्रश्न के विषय में मुझे अधिक जानकारी नहीं है, परंतु जहाँ तक मुझे पता है, हिन्दी विकि पर इससे संबंधित (लेखों में लहजे पर) कोई भी नीति नहीं है जो कि हमें "आप" लिखने के लिए कहती हो या निषेध करती हो। शायद आपको चौपाल पर इस विषय पर चर्चा शुरू करनी चाहिए। ज़्यादातर मैंने अंग्रेज़ी व हिंदी विकि पर व्यक्तियों पर लेखों में अनुभागों को उनके नाम से शुरू देखा है, इसलिए एकरूपता रखने के लिए मैंने अशोक सेन लेख पर भी ऐसा कर दिया। अगर आप इसे मात्र पूर्ववत करें तो मुझे कोई ऐतराज़ नहीं होगा।
आपके दूसरे प्रश्न के बारे में वह संपादन मैंने नहीं किया, अपितु पहले से ही था। अब उसे ठीक कर दिया गया है। बहरहाल, आपके कहे अनुसार श्रेणी:भौतिकी की अवधारणाएँ निर्मित की गई है। कृपया देखें। धन्यवाद -- 158.144.67.96 (वार्ता) 10:09, 8 अप्रैल 2013 (UTC)
आपके दोनो उत्तरों के लिए धन्यवाद, मैं पहले मेरी जानकारी पूर्ण कर लेता हूँ बाद में चौपाल पर विषय आरम्भ करूंगा। आपका IP पता मुझे टीआयएफआर का लग रहा है, आप मुझे अपने बारे में थोडा-बहुत बताने की कृपा करेंगे! --संजीव कुमार (वार्ता) 10:33, 8 अप्रैल 2013 (UTC)

हिन्दी शब्दों की जाँच[संपादित करें]

नमस्ते,

आपसे एक निवेदन है, कृपया साँचा:लार्ज हैड्रान कोलाइडर और भौतिक विज्ञान में अनसुलझी पहेलियों की सूची पृष्ठ पर लिखे नामों को जाँच ले, यदि उनमें से कोई शब्द उपयुक्त नहीं लगता तो अपनी प्रतिक्रिया दें। अन्यथा मैं कभी भी उन नामों से पृष्ठ बना सकता हूँ। --संजीव कुमार (वार्ता) 13:11, 16 अप्रैल 2013 (UTC)

संजीव जी, नमस्कार! सर्वप्रथम धन्यवाद मुझसे सलाह माँगने के लिए। मेरी कोशिश रहती है कि जितना हो सके दूसरों के काम में कमी न निकालूँ, पर चूँकि आपने पूछा है, इसलिए यहाँ बताया जा रहा है -
  1. साँचा:लार्ज हैड्रान कोलाइडर में इसका शीर्षक बिल्कुल सही है, पर शायद नुक्तों के लिए Hunnjazal जी से पूछना चाहिए। अंग्रेज़ी/गैर-हिन्दी शब्दों के सही उच्चारण एवं लिप्यांतरण के विषय में मुझे कम ही जानकारी है।
  2. विकि पर एक सामान्य नियम है कि व्यक्तिवाचक संज्ञाओं के अनुवाद हमें खुद से नहीं करने चाहिए जब तक कि कोई विश्वसनीय स्रोत किसी परिभाषा के लिए कोई हिन्दी शब्द का प्रयोग न करें। उस लिहाज़ से आपने एटलस सही इस्तेमाल किया है, लेकिन उसके पूर्ण नाम का हिन्दी अनुवाद देना मूल शोध के अंतर्गत आता है और यह विकिपीडिया पर मना है। अगर किसी पाठक को इस प्रयोग के बारे में ज़्यादा जानकारी चाहिए तो वह विकिसूत्र पर क्लिक करके एटलस के पृष्ठ पर उसके बारे में पढ़ सकता/सकती है।
  3. ऊपरोक्त साँचे में जो चित्र है, उसमें लिखे गए शब्दों का हिंदी में लिप्यांतर कर चित्र लगाना मेरी राय में बेहतर होगा।
  4. पूर्व त्वरक क्या होता है? इसके लिए कोई विश्वसनीय स्रोत?

अभी के लिए इतना ही। समय होने पर और कमियाँ निकाली जाएँगी! Face-wink.svg 158.144.67.96 (वार्ता) 08:05, 17 अप्रैल 2013 (UTC)

चित्र बदलने का प्रयास मैं करुंगा, इसके लिए समय मिलने पर नया चित्र बनायेंगे। पूर्व त्वरक से मेरा मतलब पुराने त्वरकों से है जो अब या तो बन्द हो चुके हैं अथवा उन्हें नाभिकीय भौतिकी में काम में लिया जाने लगा है लेकिन वो कण भौतिकी के प्रयोगों के लिए बने थे, यदि इस बारे में आप कोई अन्य नाम सुझाते हैं तो कृपया उसे वहा़ं बदल दें । एक और जो आपने लिखा है एटलस के पूर्ण नाम का हिन्दी अनुवाद तो इस विषय में मैं यह ही कहना चाहुंगा की मैं हिन्दी में कुछ लिखने के लिए वो तरिके अपनाता हूँ जो मैं छोटी कक्षाओं (स्नातक तक) पढा करता था। वहाँ किसी भी अंग्रेजी शब्द को अंग्रेजी में व इसके हिन्दी अनुवाद के साथ लिखा जाता था अन्यथा फिर हिन्दी के पाठक उसे समझने में सफल नहीं हो पाते। Hunnjazal जी का व्यवहार मुझे पसंद नहीं है अतः मैं उनसे सीधे कुछ नहीं पुछने वाला क्योंकि मैं यहाँ विवादों का पिटारा नहीं बनना चाहता, हाँ यदि वो खुद कुछ सुधार करते हैं तो उनका भी स्वागत है। --संजीव कुमार (वार्ता) 08:20, 17 अप्रैल 2013 (UTC)

समझ में नहीं आया[संपादित करें]

मैं यह नहीं समझ पा रहा हूँ कि आपको मेरे गा़ँव के लिंक क्यों चाहिये। मेरा गाँव इतना ज्यादा विकसित नहीं है कि इन्टरनेट की दुनियाँ में छा जाए। इसका अंग्रेजी पृष्ठ मनीष नामक बन्दे ने बनाया था जिसका ननिहाल मेरे गाँव में है। और उस पृष्ठ का हिन्दी अनुवाद मैंने किया है। आप चाहो तो खुद छानबीन कर सकते हो। आपको कैसा सन्दर्भ चाहिए वो मैं नहीं समझ पा रहा। और यदि आपको सन्दर्भ ही चाहिएं तो मैं एक ब्लोग लिख देता हूँ। आप यदि यह सन्दर्भ मुझसे माँगो की मैं इस गाँव का सदस्य हूँ तो शायद मेरे पास इन्टरनेट पर तो वो भी नहीं है। गाँव यदि इतना ही प्रसिद्ध होता तो इसका हिन्दी पृष्ठ मैं नहीं बल्कि कोई और बना रहा होता। यदि आपके पास मेरे लिखे के विरोध में कोई सबुत हो तो कृपया मुझे दिखएं। यदि वास्तविक जीवन के सन्दर्भों की बात की जाए तो आपको मेरा लिखा स्ट्रिंग सिद्धांत नामक पृष्ठ हटा देना चाहिए। क्योंकि उसका तो कोई प्रायोगिक परिक्षण सम्भव ही नहीं हो पाया है अभी तक। जब अंग्रेजी से मैंने हिन्दी में अनुवाद किया है तो आप अंग्रेजी विकी देख लो सन्दर्भ के रूप में। --संजीव कुमार (वार्ता) 11:43, 19 अप्रैल 2013 (UTC)

संजीव जी, नमस्कार! अमूमन धर्म-जाति आदि जैसे विवादास्पद मसलों पर कोई भी वाक्य लिखने से पहले विकिपीडिया पर विश्वसनीय सन्दर्भ देने पड़ते हैं। आप ने जो वाक्य लिखे हैं, वह निश्चित ही सही होंगे पर हम उन्हें यहाँ पर तब तक नहीं लिख सकते जब तक कोई विश्वसनीय स्रोत ऐसा नहीं कहता हो। यहाँ पर यह साफ कर देना चाहिए कि मैं भी अगर कुछ तथ्य लिखूँ जो मुझे पता हो लेकिन और किसी को नहीं तो वह भी विकिपीडिया पर नहीं रखा जा सकता। मैं और आप - हम दोनों ही विकिपीडिया के लिए विश्वसनीय स्रोत नहीं है। आपके द्वारा लिखे गए वाक्य की पुष्टि के लिए एक संभव स्रोत भारत सरकार की जनगणना विभाग की रिपोर्ट हो सकती है। अगर आप उसका सूत्र ढूँढ सके तो वह विश्वसनीय स्रोत माना जाएगा। ब्लॉग/स्व-प्रकाशित जालस्थलों को भी विश्वसनीय नहीं माना जाता। अंग्रेज़ी विकि या कोई अन्य भाषा की विकि या खुद हिन्दी भाषा की विकि भी विश्वसनीय स्रोत नहीं है। अगली बात यह कि आई. पी. संपादक कोई पृष्ठ नहीं हटा सकते!! और अगर ऐसा संभव होता भी तो भी स्ट्रिंग सिद्धांत पृष्ठ नहीं हटाया जाता क्योंकि चाहे यह सत्य हो या न हो, लोगों ने इसपर शोध किया है और लोगों ने शोध किया है - यह सत्य है, इसके लिए हमारे पास विश्वसनीय स्रोत भी है :-) उम्मीद है मेरी बात से आप सहमते होगें। धन्यवाद -- 158.144.67.83 (वार्ता) 12:00, 19 अप्रैल 2013 (UTC)
वाह! आपके विचारों के बारे में क्या कहुँ। आज पहली बार कहीं पढ रहा हूँ कि धर्म एक विवादास्पद विषय है वो भी एक धर्मनिरपेक्ष राष्ट्र में! क्या आप मुझे इस विषय पर कोई तथ्य उपलब्द्ध करवा सकते हैं कि धर्म विवादासपद विषय है। यदि धर्म विवादासपद है तो शायद ऐसा कोई विषय ही नहीं है जिसमें विवाद ना हों। धर्म भी एक दर्शन है जैसे स्ट्रिंग सिद्धांत। अभी तक उपलब्द्ध संसाधनों की सहायता से दोनो ही प्रायोगिक रूप से सिद्ध नहीं किये जा सकते। मैं स्ट्रिंग सिद्धांत के बारे में यह कह रहा था कि मैंने कोई तथ्य उपलब्द्ध नहीं करवाया कि String theory को हिन्दी में स्ट्रिंग सिद्धांत लिखना सही है। बल्कि मेरे गाँव के बारे में यह तथ्य उपलब्द्ध करवाया है कि इस नाम का ग्राम है। आप मेरे सदस्य पृष्ठ पर जाकर देखोगे तो देखते रह जायेंगे कि मेरे द्वारा बनाये गये अधिकतर हिन्दी पृष्ठों के नाम के विषय में मैंने मेरे अनुभव व अध्ययन का सहारा लिया है, कोई भी तथ्य उपलब्द्ध नहीं करवाया। जैसे : अदृश्य हिग्स बोसॉन (Invisible Higga Boaon), चिरसम्मत (Classical), परमार्थक समस्या (Hierarchy problem), दुर्बल अन्योन्य क्रिया (Strong interaction), प्रबल अन्योन्य क्रिया (Weak Interaction), संघात प्राचल (Impact parameter), प्रतिद्रव्य (Antimatter) आदि। ये मेरे द्वारा लिखे गये शब्द हैं जिनको मैंने हिन्दी माध्यम की पुस्तकों में पढा था लेकिन इन्टरनेट पर कोई साक्ष्य मेरे पास नहीं है। कुछ शब्द ऐसे भी हैं जो विकी पर गलत हैं और मुझे उनकी जानकारी है जैसे - आयाम (Amplitude) को विमा (Dimension) के स्थान पर रखा गया है। क्या आप जानते हैं इनका सत्यापन क्यों नहीं करवाया जाता? और हाँ यदि आप अपना उत्तर भी तथ्य के साथ उपलब्द्ध करवायेंगे तो मुझे समझने में आसनी रहेगी। मेरे गाँव के बारे में मैं उन सब लोगों के नाम जानता हूँ जो गाँव में प्रथम समय आकर बसे थे और उनकी सन्तानो के नाम क्या थे और वहाँ से मेरी पीढी तक के सभी नाम। आप गाँव की मतदाता सूची उठाकर देखोगे तो शायद थोडी समस्या कम हो जायेगी (इसका सूत्र भी दिया गया है)। अब आप यदि सोच रहे हो कि मैं मेरे गाँव का इतिहास लिखवाने किसी विदेशी बन्दे को बुलवाऊंगा तो कृपया यह भ्रम अपने मन से निकाल दें। ऐसा कुछ नहीं होने वाला। --संजीव कुमार (वार्ता) 16:39, 19 अप्रैल 2013 (UTC)
  1. अचानक से आप यह टकराव की स्थिति में क्यूँ आ गए है? खैर आपकी मर्ज़ी - अगर आपने अपने मन में मेरे से लड़ने की ठान ही ली है, तो यहाँ पर और आगे वार्ता संभव नहीं है।
  2. धर्म एक बहुत ही विवादास्पद विषय है, यह विकि भी मानता है और विकि के बाहर इसके परिणाम हम सब रोज़ देखते हैं। सिर्फ एक उदाहरण के तौर पर अंग्रेज़ी विकि के WP:RNPOV पृष्ठ पर धर्म (Religion) को Controversial subjects (विवादास्पद विषय) माना गया है।
  3. भारत देश धर्मनिरपेक्ष है या नहीं है - इस बात से वर्तमान चर्चा का कोई ताल्लुक नहीं है।
  4. String theory to हिन्दी में "स्ट्रिंग सिद्धांत" लिखने के लिए कोई सन्दर्भ की आवश्यकता नहीं है। यह सामान्यबोध है। हाँ अगर आप दावा करते हैं कि String theory को हिन्दी में "तू-तू-मैं-मैं सिद्धांत" कहा जाता है, तो वाज़िब है कि आपसे सन्दर्भ माँगे जाएँगे और माँगे जाने पर आपको विश्वसनीय सन्दर्भ पेश करने पड़ेगे।
  5. जी हाँ, आपके संपादनों पर सदैव मेरी नज़र रहती है और मुझे पता भी है कि "Classical == चिरसम्मत", "Antimatter == प्रतिद्रव्य" आदि सही है - इसके लिए सन्दर्भ देने की ज़रूरत है, लेकिन यह जो टकराव आज हम दोनों के मध्य हो रहा है, इसी को टालने के लिए मैंने चुप रहने में भलाई समझी। और पृष्ठों पर गलतियाँ है यह तर्क नहीं माना जाता है। अगर और पृष्ठों पर गलती है, तो उन्हें सही किया जाना चाहिए, न कि दूसरे पृष्ठों पर वैसी ही गलतियों का दोहराव।
  6. यहाँ पर यह बात भी साफ कर देनी चाहिए कि किसी तथ्य के साक्ष्य इन्टरनेट पर ही मौजूद हो - यह ज़रूरी नहीं है। आप विश्वसनीय पुस्तकों/अन्य कार्यों के भी सन्दर्भ दे सकते हैं। सन्दर्भ देने की ज़िम्मेदारी सामग्री जोड़ने वाले संपादक की होती है।
  7. मैंने किसी विदेशी/देशी की बात ही नहीं की। मेरी समझ में तो यह बात आती ही नहीं है कि हर चर्चा में देश/विदेश कहाँ से बीच में आ जाते हैं?
  8. अगर मतदाता सूची पढ़ने के पश्चात् हमें यह प्रतीत होता भी है कि गाँव के ज़्यादातर लोग हिन्दू है (या मान लीजिए मुसलमान है) तो भी यह मूल शोध के अंतर्गत आएगा। जब तक वह स्रोत स्वयं साफ-साफ नहीं कहता है कि गाँव की ज़्यादातर आबादी हिन्दू है (या मुसलमान है) तब तक नहीं माना जाएगा।
धन्यवाद -- 158.144.67.96 (वार्ता) 17:38, 19 अप्रैल 2013 (UTC)
नमस्ते अमुक जी, मैंने ना ही तो लड़ने की ठानी है और ना ही ऐसा कोई इरादा है लेकिन विरोधाभाष वाले वाक्य समझने में कभी थोड़ी और कभी बहुत ज्यदा कठीनाई होती है। पहली बात तो आपने पहले तो कहा की अंग्रेजी विकी को सन्दर्भ के तौर पर पेश नहीं किया जा सकता और अब जब मैंने सन्दर्भ मांगे तो आपने अंग्रेजी विकी के पृष्ठ थमा दिये। बाहर जो धर्म सम्बन्धी परिणाम हम देखते हैं तो आप मुझे ये बता दो कि सब एक धर्मों के लोगों में क्या परिणाम कम हैं। वास्तव में देखा जाये तो कोई भी लड़ाई धर्म को लेकर हो ही नहीं सकती। धर्म जैसी स्वच्छ वस्तु को तो लड़ने के लिए अथवा किसी और कारण से बदनाम किया जाता है। संस्कृत की एक कहावत है (कहावत मुझे याद नहीं है लेकिन उसका अर्थ लिखता हूँ।) जिसका मतलब है कि लड़ाई के केवल तीन कारण होते हैं - (१) धन, (२) नारी और (३) जमीन। मैंने तो आजतक इन लड़ाइयों के बारे में ही सुना था। अब पता नहीं यह धर्मों की लड़ाई आपने कहाँ देख ली। हाँ कुछ युद्ध ही धर्म युद्ध कहलाते हैं जिसका कारण यह नहीं है कि वो युद्ध धर्म के नाम पर हुआ। स्ट्रिंग सिद्धांत को आपने सही कैसे मान लिया यह भी समझ में नहीं आया क्योंकि string के लिए हिन्दी में बहुत सारे सुन्दर-सुन्दर शब्द मौजूद हैं। जैसे ये बानगी देखो : डोर, लड़ी, धागा, तार, जेवड़ी, सूत, तांत, सुतली, रस्सी, डोरी, नत्थी, पोढा आदि। ये वो शब्द हैं जिनका मैं सन्दर्भ भी दे सकता हूँ। आप कोई भी शब्दकोश भी देख सकते हो। स्ट्रिंग सिद्धान्त की मूल अवधारणा पर ध्यान दें तो हम यह भी समझ सकेगें की स्ट्रिंग शब्द से ज्यादा उपयुक्त तो हिन्दी वाला कोई भी शब्द उठा लो वह भी ज्यादा उचित होगा। भारत देश धर्मनिरपेक्ष है या नहीं है इस बात का ताल्लुक वर्तमान चर्चा से है। धर्मनिरपेक्ष का मतलब सभी धर्मों को समानता का अधिकार है और सब मिलजुल कर रहते हैं अर्थात धर्म के नाम से कोई मनमुटाव नहीं, कहने का मतलब साफ है कि धर्मनिरपेक्ष देश में धर्म से सम्बन्धित कोई विवाद नहीं हो।
  • संपादनो पर नजर रखने से मैंने तो कभी रोका भी नहीं आपको यद्यपि पिछली बार तो आपसे सहायता भी मांगी थी। मुझे मेरी गलती सुधारना बुरा नहीं लगता, बल्कि मैं तो चाहता ही यही हूँ कि कोई मेरी गलतियाँ मुझे बताता रहे। "Classical == चिरसम्मत", "Antimatter == प्रतिद्रव्य" आदि के बारे में आपने कह दिया सही हैं तो इसको मैं सही कैसे मान लूँ। मेरे पास भले ही इसके तथ्य हैं लेकिन आपने तो मुझे कोई तथ्य उपलब्द्ध नहीं करवाया। केवल आपने ही सत्यापन कर दिया। आपको इस बात का भी ध्यान रखना चाहिए था कि मैं जो कुछ भी संपादित करता हूँ उसकी पूर्ण जिम्मेदारी तो लेता हूँ, आप तो शायद वो जिम्मेदारी भी नहीं लेना चाहते (कारण जो भी हो) अन्यथा अमुक बनकर संपादित क्यों करते।
  • आपकी सुझाई यह गलती तो मुझे ऐसी लग रही है कि कल मैं कहूँ की १८ अप्रेल को सूर्योदय दक्षिण में हुआ था और उस पृष्ठ को बिना किसी चर्चा के मिटा दूँ जिसमें लिखा हो कि सूर्योदय पूर्व में होता है। आप गाँव की ज्यादातर आबादी की बात कर रहे हो मैं पूर्ण आबादी की बात कर रहा हूँ। यहाँ आपने एक और भी भेदभाव किया है। आपने एक अन्य धर्म का नाम लिखा है जो इस ग्राम में नाम मात्र भी नहीं है। मतलब यह हुआ की आप एक धर्म की तरफ बायस हो गये हो। अन्यथा धर्म तो और भी बहुत हैं लेकिन आपने चुनकर एक का ही नाम लिखा?
  • आप जब उस जगह के बारे में कुछ जानते ही नहीं जिसके बारे में आप बहस कर रहे हैं तो वो क्या किसी विदेशी से कम है? विश्वसनीय पुस्तकों से आपका क्या मतलब है वो भी मैं नहीं जानता क्योंकि आपने उपर खुद की बनाई हुई परिभाषाएं लिख रखी हैं अतः विश्वसनीय पुस्तकों के सम्बन्ध में भी आपने कोई परिभाषा बनाई होगी। बात जहाँ तक ISBN नम्बर की आती है तो बता दूँ कि मैंने जिस विश्वविद्यालय से स्नातक व स्नातकोत्तर किया वहाँ पाठ्यक्रम में सन्दर्भित की हुई पुस्तकें भी ISBN नम्बर वाली होना जरूरी नहीं था। आप मेरे स्रोत को सीधे ही नकार रहे हो लेकिन क्या आपके पास नकारने का भी कोई स्रोत है? जो मैंने कहा उसे गलत सिद्ध करने का आपके पास कोई स्रोत है? यदि नहीं तो आप चर्चा किए बिना और चर्चा के दौरान सामग्री को नहीं हटा सकते।
मुझे नहीं लगता आपको कोई स्रोत देने का फायदा मुझे मिलेगा! क्योंकि आप बिना कारण बताये उस स्रोत को तो नकार ही दोगे। अब आप कौन हो यह तो मैं जानता नहीं अन्यथा सीधे जाकर ही आपसे स्रोत माँग लेता अथवा दिखा देता। --संजीव कुमार (वार्ता) 19:12, 19 अप्रैल 2013 (UTC)
हाँ मैं आपके अन्तिम बिन्दु के बारे में लिखना भूल गया था। तो आपको बता देना चाहुँगा कि मतदाता सूची में गोत्र सहित विवरण दिया गया है। हो सकता है आपको यह पृष्ठ बड़ा (Zoom) करके देखना पड़े। --संजीव कुमार (वार्ता) 19:28, 19 अप्रैल 2013 (UTC)
संजीव जी, सर्वप्रथम तो मेरे लिए एक नाम सुझाने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद। आज से यहीं नाम ठीक है - अमुक! यह जान कर खुशी हुई की आपने लड़ने की नहीं ठानी है। ऐसी स्थिति में वार्ता/बहस संभव है, पर धर्म के विकिपीडिया के बाहर अच्छे/खराब प्रभाव है, इससे मुझे कोई मतलब नहीं। इस बारे में आपके अपने विचार है और मेरे अपने, परंतु यह हमारी चर्चा का विषय नहीं है। विषयांतर से हम दोनों में से किसी का लाभ नहीं होगा। मेरा मतलब था कि अंग्रेज़ी विकि के पृष्ठ लेखों में सन्दर्भ के तौर पर नहीं दिए जा सकते। अंग्रेज़ी विकि की नीतियाँ तो हम आपस में चर्चा में अवश्य ही उद्धृत कर सकते हैं, क्योंकि वह विकि की मूल नीतियाँ है। मैंने पहले भी लिखा कि अगर आप String theory ko स्ट्रिंग सिद्धांत लिखते हैं तो कोई आपत्ति नहीं क्योंकि तब केवल लिप्यांतरण कर रहे हैं, लेकिन अगर आप उसे डोर सिद्धांत या रजु सिद्धांत लिखते हैं तब सन्दर्भ देने की आवश्यकता है। और मैंने "Classical == चिरसम्मत", "Antimatter == प्रतिद्रव्य" को सही नहीं कहा है - बल्कि इसके ठीक उलट यह कहा कि "यह अनुवाद सही है और अनुवादित शब्द हिन्दी में उसी परिभाषा के लिए प्रयुक्त होता है" - इस "तथ्य" के लिए सन्दर्भों की आवश्यकता है। मेरे सत्यापन या असत्यापन हिन्दी विकि या किसी भी विकि पर नहीं चलते। भारत देश धर्मनिरपेक्ष है या नहीं, धर्मनिर्पेक्षता क्या है, क्या नहीं? - यह सब से न तो मुझे इस समय और न ही इस चर्चा का कुछ लेना-देना है। वैसे आपकी जानकारी के लिए यहां पर बता दूँ कि हिन्दी विकि पर न तो भारत सरकार की, न ही भारत के संविधान के द्वारा बनाई गई नीतियाँ लागू है।
अगली बात यह की ठीक आप ही की तरह मेरे द्वारा किए गए संपादनों के प्रति मेरी पूर्ण जवाबदारी बनती है - यह आप किसी भी प्रबंधक से पूछ सकते हैं। अमुक रहकर संपादन करना विकि पर निषेध नहीं है। इसके पीछे क्या कारण है, क्या नहीं - यह आपके समक्ष प्रस्तुत करने की ज़रूरत नहीं है।
सूर्योदय कौन सी दिशा में होता है - यह फिर से एक सामान्यबोध है, परंतु आपके गाँव की आबादी के बारे में थाइलैंड में रहने वाले किसी व्यक्ति को शायद ही पता हो। उसे आपके "तथ्यों" पर ऐतराज़ हो सकता है। और मैंने एक और धर्म का नाम केवल उदाहरण के लिए लिखा था, आप चाहे तो उसके आगे पारसी, सिख, ईसाई, यहूदी, बौद्ध, जैन इत्यादि जोड़ कर फिर से पढ़ सकते हैं। इतने फालतू टंकण के लिए मेरे पास समय नहीं - मुझे उम्मीद थी आप खुद ही समझ जाएँगे :-(
चलिए दो पल के लिए मुझे विदेशी ही मान लेते हैं, तब भी आप से सन्दर्भ माँगे जाएँगे। आपने तो कोई स्रोत दिए ही नहीं है, jatland.com को एक गैर-तटस्थ जालस्थल नहीं माना जाता है। इस बारे में आप और ज़्यादा यहाँ पर प्रश्न कर सकते हैं। और आपका दूसरा स्रोत अंग्रेज़ी विकिपीडिया की नकल मात्र है, इसलिए वह भी विश्वसनीय नहीं है। और किसी भी लेख में क्या होना चाहिए, क्या नहीं - इसके लिए en:WP:UNDUE पर कुछ दिशानिर्देश है। इसे पढ़ने से निर्णय लेने में आपको सहायता मिलेगी। आपने जो मतदाता सूची का सूत्र दिया, वह दस्तावेज़ मेरे संगणक पर ठीक तरह से दिख नहीं रहा है। आप मुझसे कौन से स्रोत माँग रहे हैं? मेरे द्वारा जोड़ी गई हर सामग्री के लिए स्रोत है - हाँ अगर आपका इरादा मुझे धमकाने का है तो साफ-साफ लिखिए। धन्यवाद -- 158.144.67.96 (वार्ता) 04:02, 20 अप्रैल 2013 (UTC)
नमस्कार अमुक जी, आपसे पहले तो मैं कुछ निवेदन करना चाहुँगा। मैं यह तो नहीं कहूँगा कि मुझे अंग्रेजी नहीं आती लेकिन यह आज भी कहता हूँ कि मेरी अंग्रेजी कमजोर है अतः आपसे निवेदन है के जो नितियों से सम्बन्धित पृष्ठ हैं उनका ठीक से हिन्दी अनुवाद करें जिससे मुझे समझने में आसानी रहे। मैं कोशिश करूंगा की दोनों को ही पढूँ। String का लिप्यांतर स्ट्रिंग हो सकता है लेकिन Theory का सिद्धांत नहीं? रजु सिद्धांत सिद्धान्त के सम्बन्ध में मैं विकी पर तथ्य भी उपलब्द्ध करवा सकता हूँ लेकिन मुझे स्ट्रिंग नाम अच्छा लगा जिसका कोई तथ्य मेरे पास नहीं है। आपको यदि सन्दर्भ चाहिएं तो कृपया सम्बन्धित वार्ता पृष्ठ पर लिखें और कम से कम एक सप्ताह के लिए प्रतिक्षा करें। यदि इसके पश्चात भी आपको जबाब नहीं मिलता तो बेशक आप उस जानकारी को मिटा सकते हैं। वैसे तो आप बॉट नहीं है लेकिन आपने पिछले एक माह में जो काम किया है शायद अपने आप को बॉट समझकर ही किया है (शायद इस विषय का ध्यान आपको रखना चाहिेए था।)। चिरसम्मत, प्रतिद्रव्य व अन्य किसी भी ऐसे शब्द के बारे में जिसके लिए आपको कोई तथ्य चाहिए जो मेरे बनाए पृष्ठ में लिखा है तो बेशक आपको मिलेगा लेकिन इसके लिए या तो आपको मुझसे मिलना होगा अथवा मुझे विपत्र (ईमेल) भेजना होगा। अथवा उस पृष्ठ के वार्ता पृष्ठ पर लिखना होगा। मैंने आज तक जो भी विकी पर लिखा है मेरी जानकारी में सही लिखा है और आवश्यकता समझने पर सन्दर्भित भी किया है। लिखते समय अथवा अज्ञानता की वजह से वर्तनी सम्बन्धी त्रुटियाँ जरूर होती हैं जिनके सुधरने पर मुझे खुशी भी होती है। भारत सरकार व भारत के संविधान के विरूध कोई भी तथ्य हिन्दी विकी पर नहीं लिखा जा सकता यह आपको भी जान लेना चाहिए। हिन्दी विकी पर लिखी हिन्दी भाषा का विकास विकीपिडिया की देन नहीं है। आप किसी प्रबंधक अथवा किसी अन्य को भी पुछ सकते हो। हिन्दी विकी पर यूनाइटेस नेशन्स को संयुक्त राष्ट्र कहने के पीछे क्या कारण है? विकीपिडिया ने क्यों इसे अपना लिया? नीतियाँ लागू नहीं होने का मतलब मेरा भाषा से है। हिन्दी भाषा में किसे क्या कहते हैं यह विकीपिडिया निर्धारिेत नहीं करती बल्कि भारत का संविधान भाषाविद् व भाषा के बुद्धिजिवी निर्धारित करते हैं।
यदि किसी आईपी से आप सम्पादन करते हो तो जिम्मेदारी नहीं बल्कि उस आईपी की बनती है। कई बार आप आईपी बदल भी लेते हो। सूर्योदय कौन सी दिशा में होता है - हो सकता है यह आपके लिए एक सामान्यबोध है लेकिन मेरे लिए नहीं और आपसे निवेदन करता हूँ कि इसका कोई तथ्य उपलब्द्ध करवाएं। थाइलैण्ड में रहने वाले किसी व्यक्ति को यदि ऐतराज होगा तो वो इसे मिटा नहीं देगा बल्कि तथ्य मांगेगा। मैं क्या जोड़कर पढने वाला हूँ वो तो आप मानते ही नहीं हैं और एक बात यह भी माननी पडेगी कि आपको हर बात का तथ्य चाहिए लेकिन और लोग ऐसे ही समझ जायेंगे। अब जैसा कि आपने आगे लिखा है कि आपको विदेशी मान लूँ यह एक विवादास्पद बात है यह तो आपकी विश्वनियता पर ही प्रश्न चिह्न लग जाता है? क्योंकि माना वह जाता है जो वास्तव में सम्भव हो लेकिन आप तो मानव नहीं आईपी हो! और यह आईपी भारत की है। मैं नहीं मान सकता कि आप भारतवासी नहीं हो। आपने jatland.com क लिए कहा कि यह गैर-तटस्थ जालस्थल है मैंने मान लिया (लेकिन गैर-तटस्थ जालस्थल का मतलब सरल शब्दों में अथवा हिन्दी में जानना चाहूँगा), दूसरे स्रोत अंग्रेजी विकिपीडिया की नकल है अथवा अंग्रेजी विकिपीडिया उसकी नकल है इसका भी आपने कोई स्रोत उपलब्द्ध नहीं करवाया। यदि आप स्रोतों के इतने ही शौकीन हैं तो कृपया ऐसी बेतुकी बाते ना करें तो अच्छा होगा। कोई भी बेतुका वाक्य लिखने से पहले उसका स्रोत उपलब्द्ध करवाएं। आपसे पुनः निवेदन है कि उपरोक्त पृष्ठों का हिन्दी अनुवाद करने की कृपा करें मुझे समझने में बहुत मुश्किल हो रही है। यदि आपको मेरी अंग्रेजी के विषय में जानकारी नहीं है तो किसी भी ऐसे व्यक्ति से सम्पर्क करें जो मुझे व्यक्तिगत रूप से जानता है।
आपने उत्सवों से सम्बन्धित जानकारी भी हटा दी थी मुझे समझ नहीं आया उसमें आपको क्या गलत लगा? वहाँ पर क्या विवादास्पद था? क्या उसके सबूत के तौर पर आपको चित्र उपलब्द्ध करवाऊँ। आप मेरे पा उससे सम्बन्धित चित्र देख सकते हैं। मैं मेरा कोई भी चित्र गुगल से सम्बन्धित किसी पृष्ठ पर डालकर लिंक दुंगा तो आप मानेंगे नहीं और विकिपीडिया पर मैं मेरे सभी चित्र लगा नहीं सकता और लगाना चाहता भी नहीं। जैसा कि मैं पहले भी कह चुका हूँ इसका कोई और सबूत आपको मिलेगा भी नहीं क्योंकि गाँव इतना प्रसिद्ध नहीं है कि हमेशा द हिन्दु समाचार पत्र में प्रकाशित होगा कि आज उस गाँव में होली का त्यौंहार हर्षोल्लाष साथ मनाया गया और ना ही india.gov.in पर।
अन्तिम व सबसे महत्वपूर्ण बात: धमकाने का इरादा आपका है या मेरा मैं कुछ नहीं कह सकता। क्योंकि आज तक मैंने तो ऐसी बाते जरूर सुनी हैं कि एक मानव दूसरे मानव को धमका सकता है, एक मानव दूसरे प्राणी को डरा सकता है और एक मानव दूसरे प्राणी से डर सकता है। कुछ कहानियों में मैंने यह भी सुना है कि रोबोट ने आदमी को चाँटा मारा। लेकिन यह कभी नहीं सुना कि एक आदमी ने एक आईपी को धमकाया! आपका संगणक सही काम नहींकर रहा अथवा उसमें कोई संचिका खुल नहीं रही अथवा उसका पर्दा खराब हो गया है अथवा उसका माउस चोरी हो गया तो उसके लिए ना ही तो मैं जिम्मेदार हूँ और ना ही विकिपीडिया। आप द्वारा लिखी गयी अन्तिम पंक्ति यह सिद्ध करने के लिए पर्याप्त है कि आप सफाई के नाम पर हिन्दी विकी को बर्बाद करने की पूर्ण मंशा रखते हो क्योंकि आप खुद ही सोचिए कि एक संचिका जोकि सन्दर्भ के रूप में दी गयी है उसे आपने खोला नहीं, ना ही आपने इस विषय पर कोई वार्ता की लेकिन आपने जानकारी को अवश्य मिटा दिया। आपने हिन्दी में सुधार करने के लिए बिल जी से अंग्रेजी में मत माँगा। जिसका उन्होनें निरपेक्ष व विकी के हित में जबाब भी दिया है। अतः अब यदि आपने मेरे द्वारा लिखी कुछ पंक्तियां मिटाने की ठान ही ली है तो कृपया सही वार्ता पृष्ठ पर लिखकर एक नियम से हटाइये ऐसे मनमर्जी से नहीं। यदि प्रबंधको को मेरे लिखे में आवश्यकता से ज्यादा सन्दर्भ चाहिएं तो भी मैं उपलब्द्ध करवाने की कोशिश करूंगा। लेकिन बिना मांगे ही किसी अमुक जी को मैं कोई सन्दर्भ नहीं दे सकता। यहाँ मैं यह भी बता देना चाहूँगा की आप जैसे भल्ले लोग इस तरह की बेवजह और गलत जगह की गई बहस से मुझे हिन्दी अनुवाद करने से रोक नहीं पायेंगे बल्कि इसे थोडा धीमा करने में जरूर भागीदार होंगे। पिछले ३-४ दिन में मैं कुछ और नये हिन्दी पृष्ठ बनाता अथवा किसी बनाए हुए पृष्ठ में सुधार करता लेकिन यह समय इधर चला गया। --संजीव कुमार (वार्ता) 20:58, 20 अप्रैल 2013 (UTC)
Dear Sanjeev, I write this message in English because I simply do not have the time to engage is such stupid debates about trivial issues. I would rather make some better use of it. You are simply doing lawyering over here. By asking me to provide translations in the days of Google Translator, and you yourself being a research scholar at such an esteemed institute which I believe has English as its medium of communication, you are simply taking advantage of the fact that I should provide you translations if you ask for one. However, I'm not liable to do so and these basic Wiki policies still apply to all Wiki projects. Bill has nowhere responded and I don't see why you are making this up? Which festivals are celebrated in your village and which are not is simply of no consequence/interest to a "World Encyclopaedia". But, sadly you refuse to understand things as simple as that. Asking me to provide references for the Sun rising in the East is another example of WIKILAWYERING. Read en:WP:OVERCITE to try and understand what needs references and what doesn't. By calling me an IP/bot and refusing to acknowledge that I am a fellow human being, you are being insulting. Just so that you know, bots cannot make edits on Wiki without having an account. The wiki software and filters don't allow that and the filters have been coded by very competent programmers, but now you will ask me to provide references for that instead of simply acknowledging that you added some content for which you have no reliable third-party sources. Even when I write "गैर-तटस्थ", you ask me to write it in Hindi! What is it if not Hindi? And by the way you called me a foreigner first and I agreed to that for argument's sake. Now you are again just lawyering around that point. I did open your file, although I am not bound to. It was in a corrupted/illegible format and that's not my problem - the onus is on you to provide sensible references when adding information and any body, I repeat anybody, can ask anyone for references as long as the intentions are bonafide. I am not going to revert you now and may be this will satisfy your ego. After all, it's just one more stupidly written page amongst thousand many more on hi.wiki. But I won't be working with you either. You are knowingly/unknowingly/intentionally/unintentionally harming the Wiki movement and I have nothing more to say to you. Welcome to the club of enemies that I have created here on hi.wiki. Thanks, 158.144.67.96 (वार्ता) 06:09, 21 अप्रैल 2013 (UTC)
यदि मेरे किसी शब्द ने आपको ठेस पहूँचाई हो तो मैं क्षमा चाहता हूँ, क्योंकि मेरा ऐसा कोई इरादा नहीं था। आपने मेरे तथ्य को गलत बताया है कि you yourself being a research scholar at such an esteemed institute which I believe has English as its medium of communication तो आपको बता देना चाहूँगा कि मैंने यह कदापि नहीं कहा की मुझे अंग्रेजी समझ में नहीं आती लेकिन आपने संवाद माध्यम के लिए कहा कि वह टाटा संस्थान में अंग्रेजी में होता है तो आपको बता देना चाहूँगा कि यह आपकी एक गलतफहमी है। टाटा संस्थान में संवाद उस भाषा में होते हैं जो आप जानते हो। मुझे भौतिक विज्ञान व गणित विषयों से सम्बन्धित संवाद अंग्रेजी में करने में ज्यादा परेशानी नहीं होती लेकिन आप कहीं से भी किसी से भी पता कर लें मैंने इसके अलावा किसी से अंग्रेजी में बाते नहीं की। टाटा संस्थान में भाषा से सम्बन्धित कोई पाबन्दी नहीं है। मैंने आपसे विनती की थी लेकिन यदि इसका जबाब धमकाना समझते हो तो मैं क्या कहूँ। मैं भारत में यह भी देखता हूँ कि जब आप किसी को हिन्दी में धमकाते हो तो ज्यादा प्रभावी नहीं होता और लोग अंग्रेजी में धमकियाँ देते हैं शायद आपने ऐसी कोई कोशिश नहीं की होगी। जहाँ तक गूगल अनुवादक की बात आपने कही है तो आपको बता दूँ कि यह एक विश्वसनीय स्रोत नहीं है, यहाँ बहुत ही कम सम्भावना है कि कोई वाक्य शुद्धता के साथ अनुवादित होता हो। यदि ऐसा होता तो मैं अब तक कम से कम २-३ हजार विकी पृष्ठ अंग्रेजी से हिन्दी में अनुवादित कर चुका होता। हाँ कभी-कभी शब्द अनुवाद सहातार्थ मैं इसे भी काम में लेता ह़ूँ लेकिन संतुष्ट होने की प्रायकता ०.५ से कम ही है। मैंने आपको "गैर-तटस्थ" शब्द को हिन्दी में लिखने को नहीं कहा क्योंकि इसका सरल अनुवाद मैं जानता हूँ (गैर का मतलब रहित होता है और तटस्थ का अर्थ उदासीन व निरपेक्ष से होता है) लेकिन मैं यह जानना चाहता था कि "jatland.com नामक वेबविकी गैर-तटस्थ जालस्थल है" यहाँ आपके कहने का अभिप्राय क्या था, मैं आपका उस साईट को "गैर-तटस्थ जालस्थल" कहने का तात्पर्य जानना चाहता था। आप नहीं बताना चाहते तो मत बताओ। मैंने आपको कभी विदेशी नहीं कहा। मैंने एक उदाहरण दिया था कि विदेशी लोगो से मेरे ग्राम का इतिहास नहीं लिखवायेंगे और ना ही मैंने किसी व्यक्ति विशेष को देशी कहा है, मैंने केवल आईपी के बारे में कहा था की वह भारत मैं स्थित है। मैं जो दस्तावेज मेरे संगणक में खोल सकता हूँ वह दोषपूर्ण केवल इसलिए नहीं मान सकता कि वह आपके संगणक में acroread में नहीं खुला। यदि मुझे ४-५ भिन्न लोग कहेंगे तो मैं यह भी स्विकार करने को तैयार हूँ। " I repeat anybody, can ask anyone for references as long as the intentions are bonafide." के उत्तर में मैं यह कह सकता हूँ कि आपने पहले तो किसी सन्दर्भ के लिए पूछा ही नहीं और जब मैंने सन्दर्भ दे दिया तो उसे केवल इस आधार पर ठुकराना क्या सही है कि वह दस्तावेज आपके संगणक का सोफ्टवेयर खोलने में असफल है। यदि आप मेरे उत्तरों को मेरा अहंकार समझते हो तो अब मैं कह भी क्या सकता हूँ। आप मुझे अपना दुश्मन समझें अथवा दोस्त इससे मुझे कोई असर नहीं पडने वाला क्योंकि मैंने कभी किसी से बाते अथवा कोई भी व्यवहार करते वक्त यह कभी नहीं देखा कि वो मेरा दुश्मन है या दोस्त। मैंने हमेशा सही के पक्ष में जाने की बात की अतः यह भी नहीं जानता कि मेरे दुश्मन कौन हैं लेकिन कुछ ऐसे लोगों को जरूर जानता हूँ जो मेरे दोस्त हैं। अतः आपने जिस क्लब (अथवा संघ) में भी मुझे बुलाया उसके लिए शुक्रिया लेकिन मैं किसी संघ का हिस्सा बनना पसंद नहीं करता। हाँ यदि उसकी निती मुझे पसन्द आये तो मुझे वो संघ अच्छा जरूर लगता है। मुझे आपके क्लब का सूत्र नहीं मिला।--संजीव कुमार (वार्ता) 10:52, 21 अप्रैल 2013 (UTC)
चलिए मुझे खुशी है कि आपकी मंशा साफ है। इसलिए संवाद बरकरार रखते हैं। किसी को अंग्रेज़ी आएँ या न आएँ, हिन्दी विकि पर इसका कोई लेना-देना नहीं है। आप देख ही सकते हैं कि मुझे स्वयं को भी कोई खास अंग्रेज़ी नहीं आती, बस टंकण में सुविधा रहती है, इसलिए लंबी चर्चाओं में अंग्रेज़ी का प्रयोग किया है। मैंने वह बात इसलिए कही थी कि आप भी अच्छी तरह जानते हैं कि अगर अंग्रेज़ी विकि के सारे नीति संबंधित पृष्ठ आप मुझे अनुवादित करने कहेंगे तो यह अपने आप में एक विशाल कार्य है जो कि निश्चित रूप से मेरे एक अकेले के सामर्थ्य के बाहर है और इसीलिए मैंने अपनी असमर्थता ज़ाहिर की। jatland.com के नाम से ही पता चलता है कि वह जाटों दृष्टिकोण से लिखा गया जालस्थल है। इस बात में अपने आप में कोई बुराई नहीं है। परंतु विकि पर वह स्रोत के रूप में स्वीकार्य नहीं है। आप मेरी इस बात की जाँच en:WP:RSN पर करवाने के लिए स्वतंत्र है। और मैंने आपके द्वारा दिए गए मतदाता सूची के सूत्र को गलत बिल्कुल नहीं कहा है। बल्कि मैंने यह कहा है कि इसमें आपके गाँव की धार्मिक जनसांख्यिकी के बारे में कुछ टिप्पणी नहीं है। केवल व्यक्तियों के नाम दिए है। अब मतदाता सूची में दिए उनके कुलनामों से उनकी जाति/गोत्र अनुमानित करना और फिर पूरे गाँव के कितने प्रतिशत लोग कौनसी जाति के है - यह हिसाब लगाना आपका (या अगर मैं करूँ तो मेरा) मूल शोध माना जाएगा और यह विकि पर मंज़ूर नहीं है। अभी के लिए इतना ही। उम्मीद है आप थोड़े ठंडे दिमागे से सोचेंगे। मुझे भी ऐसा करने की ज़रूरत है। धन्यवाद -- 158.144.67.96 (वार्ता) 11:12, 21 अप्रैल 2013 (UTC)
जी हाँ, आपकी बात बिल्कुल ठीक है कि प्रत्येक आदमी का कूलनाम देखना सम्भव नहीं है लेकिन मैं यह कह रहा था कि उस सूची में कूल नाम उपर दिया है और उसके पश्चात उस कूलनाम वाले लोगों के नाम दिए हैं। इस तरह से वह सूची कूलनाम व जातिगत अनुक्रम में बनाई गयी है। कूलनाम व जाति का शीर्षक बडे अक्षरों में होता तो शायद आपको/किसी को भी पढने में वह साफ दिखाई दे जाता लेकिन वह छोटे अक्षरो में उपर-ही-उपर होने की वजह से इसे ZOOM करके देखने की जरूरत है। शायद आप देख पायेंगे। सबसे प्रथम नाम चौधरी भवन, द्वितीय दुधवाला भवन, तृतीय मालियों की ढाणी है इस तरह से हैं। इसी तरह से बिडाोदी छोटी में दो वार्ड हैं। वार्ड संख्या 8 व 9 तथा इन दोनों वार्डों को बडे अक्षरों (आकार में बडे़) में लिखा है।--संजीव कुमार (वार्ता) 12:59, 21 अप्रैल 2013 (UTC)

भाषा का प्रयोग[संपादित करें]

158.144.67.96 जी, मैंने यह कड़ी देखी है और आपके भाषा-प्रयोग पर दुःख हुआ । कारण जो भी हो, परन्तु आपको संयम से काम लेना चाहिए । Hindustanilanguage (वार्ता) 05:55, 6 मई 2013 (UTC).

अच्छे आदमी के हटाने के नामांकन के सम्बन्ध में[संपादित करें]

आपने कुछ समय पहले अच्छे आदमी को शीघ्र हटाने हेतु नामांकित किया था। आपने कारण में लेख के विषय की उल्लेखनीयता पर प्रश्न उठाया था और लेख को छोटा बताया था। यह कारण लेख को शीघ्र हटाने के लिए उपयुक्त नहीं हैं। अतः मैंने शीघ्र हटाने का नामांकन अस्वीकार कर दिया है। यदि आप चाहें तो इसको हटाने हेतु चर्चा के लिए नामांकित कर सकते हैं। इसके लिए कृपया वि:हहेच देखें। यदि किसी सहायता की आवश्यकता हो तो अवश्य पूछें। मैंने फ़िलहाल इस प्रक्रिया में लेख को इसलिए नामांकित नहीं किया है क्योंकि मेरे विचार से शायद आप इसे हटाने के लिए अधिक विवरण सहित कारण देना चाहें। यदि आप चाहें तो इसी कारण सहित भी नामांकन कर सकते हैं।

Sometime ago you nominated the article अच्छे आदमी for speedy deletion questioning the topic's notability and stating that the article was very small. However, these reasons are not enough for speedy deletion under the deletion policy. Therefore, I have declined the nomination. If you wish, you may nominate it for a deletion discussion. Please see वि:हहेच for how to do this. If you need any help, feel free to ask. I have not nominated it for a deletion discussion since I believe you may wish to give a more elaborated reasoning for a discussion. If you wish however, to nominate with the same reasoning, you are free to do so.

Regards --सिद्धार्थ घई (वार्ता) 10:59, 2 अगस्त 2013 (UTC)