सदस्य वार्ता:पूर्णिमा वर्मन/पुरालेख05

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

स्थिति स्पष्ट करनी चाहिये[संपादित करें]

पूर्णिमा जी, मैंने ध्यान दिया कि विगत कई दिनों से जहाँ भी मैं सामयिकी पत्रिका के लेखों की कड़ियाँ दे रहा हूँ वो आप बिना चर्चा के हटा रही हैं। अधिकाँश लेख ऐसे हैं जो मैंने ही शुरु किये। क्या यह विशेषतः मेरे लिये किसी नई नीति के तहत किया जा रहा है? सामयिकी कतई अभिव्यक्ति जैसी नामचीन पत्रिका नहीं है, निरंतर भी नहीं थी। भले इसे अलंकरण व इनाम न मिले हों, पर यह पत्रिका ही है, कोई ब्लॉग नहीं। आप और मैं दोनों अपने-अपने प्रकाशन से जुड़े हैं और यदि सिर्फ सामयिकी की कड़ियाँ (जो कोई स्पैम भी नहीं है, वस्तुतः वे लेख ही पृष्ठ का आधार बने हैं) हटाई जाती हैं तो मेरे विचार में यह काँफ्लिक्ट आफ इंटरेस्ट का मामला है और आपको स्थिति स्पष्ट करनी चाहिये। अगर कोई व्यक्तिगत कारण हो तो भी स्पष्ट करना उचित होगा ताकि मैं विकिपीडिया पर अकारण समय ज़ाया न करूं। --देबाशीष ०९:१६, २७ फरवरी २००९ (UTC)

आपके जवाब के लिये शुक्रिया! और सामयिकी व निरंतर की प्रशंसा के लिये भी। आपने राजीव के संदेश का गलत संदर्भ लेकर अपना संदेश दिया वो बात जँची नहीं। कृपया वह वार्तालाप पुनः पढ़ें (और हो सके तो राजीव को अपनी वर्तनी सुधारने का भी सुझाव दे दें, जिस विकीपीडिया के महाएडमिन और सर्वेसर्वा हैं कम से कम वहाँ प्रयुक्त भाषा पर बढ़िया अधिकार तो होना चाहिये)। आपका यह कहना कि मैं बाहरी कड़ियाँ जोड़ने के लिये लेख बना रहा हूँ आपके पूर्वाग्रह को ही बयान कर रहा है। इस बात को और आगे बढ़ाना नहीं चाहुंगा। आरोप प्रत्यारोप में कोई लाभ नहीं। अल्ताफ़ टायरवाला, अनीता नायर के लेखों के साथ उनके ही साक्षात्कार की बाहरी कड़ियाँ अनुपयुक्त कैसे होती हैं? स्लमडॉग मिलियनेयर पर लेख के साथ बीबीसी के सौतिक बिस्वास के लेख की कड़ी क्यों गैरवाजिब है? मुझे जवाब की अपेक्षा नहीं पर आप खुद ही विचार करें। एक ओर तो आप आशीष महर्षि के वेनिटी पृष्ठ बनाने के सवाल पर नोटेबलिटी नियमों में ढील दे देती हैं, आपका खुद का भी पृष्ठ यहाँ बना है, जीतेन्द्र चौधरी भी सहसा "प्रवासी हिन्दी लेखक" बन गये हैं, पर सामयिकी के मामले में बाहरी कड़ियाँ का ही अभिप्राय बदला जा रहा है। नीतियाँ बनें तो सबके लिये वरना ना बनें। अगर मैं आपको गलत भी समझ रहा हूँ, और यह पूर्णतः संभव है, तब भी आप यह विचार कर सकती हैं कि ऐसा क्यों हो रहा है। आपके प्रति मेरा सम्मान बना रहेगा।--देबाशीष १६:०५, २७ फरवरी २००९ (UTC)

5000 संपादन[संपादित करें]

पूर्णिमा जी,
नमस्ते,
आज हिन्दी विकिपीडिया पर लेखों की संख्या 26000 तथा मेरे संपादनों की संख्या 5000 हो गई। आशा करती हूँ जल्दी ही हम 50 शीर्ष विकि में से एक होंगे। हां, कृपया आज का आलेख देख लीजिएगा। --Munita Prasadवार्ता ०६:५६, १ मार्च २००९ (UTC)

बधाइयां[संपादित करें]

हिन्दी विकि ने अभी अभी ५० वां स्थान पाया है, और आगे भी अग्रसर है। इसमें मुनिता जी का अथक परिश्रम है, जिसमें अनेकों अम्ल, क्षार, लवण युक्त रासायनिकी है। आपको बधाई व इन्हें साथ में धन्यवाद भी।वैसे तो यह टीम वर्क है, किंतु मैन ऑफ द मैच तो एक ही होता है ना।--आशीष भटनागरसंदेश ०७:२३, ८ मार्च २००९ (UTC)

आज का आलेख[संपादित करें]

Aajkalekh.png आज का आलेख बार्न स्टार
इस सदस्य द्वारा निर्मित १० लेख आज का आलेख में प्रकाशित हो चुके हैं।

होली मुबारक[संपादित करें]

होली मुबारक
सभी को होली की शुभकामनाएं, साथ ही हिन्दी के ४९वें स्थान पर पहुंचनेकी भी बधाइयां
आशीष और मुनिता की ओर से।
Indian pigments.jpg


ज्ञानसन्दूक भर दें[संपादित करें]

हजारी प्रसाद द्विवेदी और महावीर प्रसाद द्विवेदी के लेखों में मैंने पद्म भूषण के रास्ते प्रवेश किया तो इनमें ज्ञानसन्दूक भी लगा दिए। किंतु वे पूरे भरे नहीं हैं। मेरे विचार से आप उन्हें पूरा भर पाएंगीं। कृपया एक बार यथासमय देख लें।--आशीष भटनागरसंदेश ०३:४१, २० मार्च २००९ (UTC)

मात्र १२४ का फ़र्क[संपादित करें]

नमस्कार! इस समय (वर्तमान स्थिति) अनुसार गॉर्जियाई विकि के 28219 के बदले हिन्दी के 28095 लेख हैं, जिसका फ़र्क मात्र 124 का बचा है, जो कि पहले १०२४ का था, आपको याद होगा। अब जल्द ही हम ४७वें स्थान पर होंगे। आपका आशीष वांछित है। जरा दूर से पास आएं, और वरद हस्त बढ़ाएं।--आशीष भटनागरसंदेश १३:२९, २३ मार्च २००९ (UTC)

कुतुब मीनार[संपादित करें]

उपरोक्त पर अपनी कलम से निखार लाने का धन्यवाद। अब ये सच में विश्व धरोहर लेख बन गया। जरा बेचारे ताज पर भी कृपा दृष्टि डालें।--आशीष भटनागरसंदेश ०४:०७, २४ मार्च २००९ (UTC)

मैं आशीष जी की बात से पूरी तरह सहमत हूँ। आप छूँ भर दे तो कोई साधारण लेख भी निखर उठता है।--Munita Prasadवार्ता ०४:२९, २४ मार्च २००९ (UTC)

निर्वाचित लेख[संपादित करें]

प्रणाम! मैं विकिपीडिया के बारे में लेख को अंग्रेज़ी से अनुवादित करने में प्रयासरत हूं। मैं निर्वाचित लेखों की संख्या केए बारे में पूछ्ना चाहती हूं कि क्या वास्तव में इनकी संख्या ११ है? निर्वाचित लेख पृष्ठ पर मुझे यह संख्या मिली परंतु मैं इसके बारे में आश्वस्त नहीं हूं। कृपया सहायता करें। धन्यवाद।


प्रियंका ०६:०७, २४ मार्च २००९ (UTC)

उत्तर दें[संपादित करें]

मैंने आपको कई संदेश दिए, कई बार चैट पर भी संदेश दिए, किंतु कोई उत्तर नहीं मिला। इसका कारण समझ में नहीं आ रहाहै। बेहतर विकि के लिए समन्वय अत्यावश्यक है। जो कि इस प्रकार संभव नहीं है। यदि कोई समस्या है तो आप कृपया बताएं। उसे सुलझाया जा सकता है। और यदि नहीं भी तो वैयक्तिक हित को विकी के लिए छोड़ना चाहिए। अब यदि इस संदेश का पर्याप्त उत्तर ना मिला तो समन्वय की अंतिम कड़ी होगी। --आशीष भटनागरसंदेश १३:४४, २४ मार्च २००९ (UTC)

इसके अलावा मेरा एक भी लेख आलेख के लिए चुना नहीं जाता। क्या मेरी भाषा इतनी खराब है, या कोई खास वजह? एक कुतुब मीनार , जिसका पूर्ण अनुवाद मैंने किया,उसे आपने बदलकर संयुक्त प्रयास कर लिया। इसका कारण भी बताएं। --आशीष भटनागरसंदेश १३:४४, २४ मार्च २००९ (UTC)

प्रमुख चित्र प्रत्याशी[संपादित करें]

मुखपृष्ठ हेतु प्रमुख चित्र प्रत्याशी दिनांक २६ मार्च से दिए गए हैं। कृपया समय से उन्हें देख कर टिप्पणी करें। ३ अप्रैल के बाद से चित्र प्रयासतः प्रत्येक रविवार को बदलेगा। इसके सिवाय कभी कोई खास अवसर हो तो बीच में भी बदला जा सकता है। अतएव, जब उचित समझें, तिथी/अवसर अनुसार सुझाव अपेक्षेत हैं।--आशीष भटनागरसंदेश ०८:२१, २५ मार्च २००९ (UTC)

ध्यान दीजिएगा[संपादित करें]

{{प्रमुख चित्र ३ अप्रैल २००९}} और २६ मार्च से तब तक के अन्य लेख, जो नवरात्रि विशेष हैं, उनके चित्रों की लंबाई कुछ अधिक है। अतएव इसके अनुसार क्या आप जानते हैं, को बढ़ाना पड़ेगा। ध्यान दीजिएगा। यथा संभव मैं उसे बढ़ाने का प्रयास करूंगा। आप भी जरा देख लें। --आशीष भटनागरसंदेश १२:४८, २५ मार्च २००९ (UTC)

विकिपीडिया वार्ता:प्रमुख चित्र उम्मीदवार[संपादित करें]

विकिपीडिया वार्ता:प्रमुख चित्र उम्मीदवार पर सुझाव के संबंध में देखें।--आशीष भटनागरसंदेश १४:३६, २५ मार्च २००९ (UTC)

Translatewiki.net update[संपादित करें]

  • Currently 78.98% of the MediaWiki messages and 40.91% of the messages of the extensions used by the Wikimedia Foundation projects have been localised. Please help us help your language by localising and proof reading at Betawiki. This is the recent localisation activity for your language. Thanks, GerardM ०९:४१, २५ मार्च २००९ (UTC)
  • PS Please help us complete the most wanted messages..

श्रेणी:प्रमुख चित्र[संपादित करें]

आशा है आपने उपरोक्त श्रेणी के लेख देख लिए होंगे। जिनमें साँचा:प्रमुख चित्र का भी है। इस साँचे का ब्यौरा और उद्देश्य मैंने वहीं प्रलेख में दिया है। और आपसे कुछ सीधे बात होगी, इस प्रतीक्षा में उसे ऑनलाइन करने से रुका हुआ था। लेकिन अब बहुत देर हो चुकी है। तो उसे मैं मुखपृष्ठ पर दे रहा हूं। उसमें जुड़ने वाले ३ प्रकार के सांचे, व उनकी वरीयता , उद्देश्य वहीं पर है। कृपया देखकर बताएं। सुझाव अपेक्षित।--आशीष भटनागरसंदेश १५:१०, २५ मार्च २००९ (UTC)

नमस्कार! आपके निर्देशानुसार, क्या आप जानते हैम? को बढ़ाना भी नहीं पड़ा, और चित्र का आकार ३०० से २०० करके काम चल गया। चित्र कोई छोटा भी नहीं लग रहा। चौखटे भी उस ही आकार के हैं। ऐसी ही दृष्टि बरसे- आशीष वांछित---आशीष भटनागरसंदेश ००:५१, २६ मार्च २००९ (UTC)

चित्र का सांचा[संपादित करें]

क्या आपने {{प्रमुख चित्र का}} देखा है। उसके प्रलेख को पढ़ें। मैंने प्रयास करके उसे इस प्रकार से बनाया है, कि हफ़्ते के हफ़्ते सांचा नं.२ बदलता रहेगा। किंतु यदि :

  • यह किसी खास अवसर का सांचा बनता है (सांचा प्रकार नं.१), तो उस दिन के लिए वह खास सांचा, इस हफ़्ते वाले तो ओवर-राइड करके, एक दिन के लिए प्रदर्शित होगा। अन्यथा हफ़्ते वाला तो चलेगा ही।
  • हफ़्ते के अंत में दूसरे हफ़्ते का सांचा, किसी कारणवश कभी बदल ना भी पाया, तो पिक्चर ऑफ द मंथ, यानि सांचा नं.३ उसके स्थान को ल;ए लेगा।

यानि किसी भी सूरत में खाली स्थान नहीं रहेगा। हां सांचा ऑफ द मंथ बना रहना चाहिए। --आशीष भटनागरसंदेश ००:५१, २६ मार्च २००९ (UTC)

मुखपृष्ठ[संपादित करें]

मुखपृष्ठ पर यदि पूरी निर्वाचन सामग्री एक ओर और शेष सामग्री दूसरी ओर की जाए, तो एकरूपता लगेगी। मतलब निर्वाचित लेख के नीचे निर्वाचित चित्र, उसके नीचे निर्वाचित आलेख। इनमें १ और ३सरे तो सही लगे हैं, बस २-चित्र ही दाईं ओर है। उसके स्थान पर क्या आप ... अनुभाग को दाईं ओर किया जा सकता है। इस तरह दाईम ओर, ऊपर समाचार पाइंट वाइज़, उसके नीचे क्या आप.. पाइंटवाइज़, उसके नीचे आवश्यक लेख पाइंटवाइज़, एक जैसे लगेंगे। इस बारे में टिप्पणी/राय/सुझाव/निर्देश- अपेक्षित हैं।--आशीष भटनागरसंदेश ०५:५०, २७ मार्च २००९ (UTC)

सादर संदेश[संपादित करें]

नमस्कार! आपको एक सक्रीय और पुराने प्रबंधक होने के नाते कई बार संदेश दिए, जिससे कि आप अपनी राय व्यक्त करें। किंतु किन्हीं अज्ञात कारणों से (मात्र एक प्रमुख चित्र के संबंध को छोड़कर), कोई भी उत्तर नहीं मिला। इसका कारण ना मुझे पता है, और ना जानने की इच्छा है, लेकिन उत्तर की असीमित प्रतीक्षा असंभव है।

  • दूसरा पाइंट: आपने कुतुब मीनार के मेरे अच्छी लंबाई के अनुवादित लेख का सुधार किया, बहुत उपकार (मुझपर, हिन्दी विकी पर व कुतुब मीनार पर), किंतु उसे संयुक्त प्रयास कैसे किया, इसका कारण समझ नहीं आया, जो कि आपने आलेख प्रत्याशी में दिया है। क्या किसी भी लेख के फ़ार्मैट को बदलने भर से उसके मूल लेखक का नाम हट जाता है। तब तो कोई भी किसी के पुराने (चाहे निर्वाचित ) लेख को उठाए, और अपनी समझ से उसे बदल डाले। और उसे संयुक्त प्रयास बता दे। फिर चाहे आप उसे कितना भी सुधार दॆं, पर संयुक्त प्रयास तो हो ही गया। कोई भी शिक्षक किसी भी विद्यार्थी की कापी जाँचे व उसे अपनी बता दे, या संयुक्त प्रयास।

उत्तर की ना प्रतीक्षा ना आवश्यकता ही है।--आशीष भटनागरसंदेश ०७:५७, २९ मार्च २००९ (UTC)