सदस्य वार्ता:पूर्णिमा वर्मन/पुरालेख03

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

पूर्णिमा जी, मेरे स्वागत करने का धन्यवाद्| यहां अपना योगदान देने की पूरी कोशिश करूंगी|


अनुक्रम

सुपरस्क्रिप्ट डालने से बाक़ी लाइन में गड़बड़ी क्यों आ रही है[संपादित करें]

कुछ भी--कुछ भी नहीं!! किया मैंने7 इस फालतू चक्कर में पड़कर।


ऊपर की लाइन को देखिए, 7 को सुपरस्क्रिप्ट में डाला है, पर "--" ऊपर चला गया है "!!" भी ऊपर दिखाई दे रहा है, ऐसा क्यों हो रहा है, क्या हल है? --Sumitkumar kataria १३:०८, २५ अप्रैल २००८ (UTC)


निर्वाचन हेतु अर्हताएं[संपादित करें]

पूर्णिमा जी, नमस्कार ! एक बात बताएँ, क्या किसी लेख के निर्वाचित होने में यह भी आवश्यक है कि उसका कोई अँग्रेजी़ version अभी तक ना बना हो ? या कोई लेख अँग्रेजी़ से प्रेरणा लेकर, वैसी ही फॉर्मैटिंग में बनाया हो, परंतु पूर्ण हिन्दी में ही हो, तो उसका निर्वाचन हो सकता है । साथ ही किसी लेख में आने वाले सभी लिंक भी बने होने आवश्यक हैं क्या? जैसे कि मेरा एक लेख है रंगों की सूची वह अँग्रेजी़ में List of Colors नाम से है । एवं उसका पूर्ण अनुवाद मैंने किया है तथा ढे़रों साँचे भी बनाए उसके लिये । अब कुछ मुख्य रंगों के लेख तो बन गए हैं, परंतु क्या सभी 250-300 रंगों के पन्ने भी बनाने, आवश्यक हैं, अन्यथा उनका लिंक लाल ही रह जायेगा । कृपया स्पष्ट करें।--आशीष भटनागर ०१:३९, २७ मार्च २००८ (UTC)
उत्तर- निर्वाचित लेख के लिए ज़रूरी नहीं है कि वह अंग्रेज़ी विकि में न हो। अंग्रेज़ी विकि में अनेक निर्वाचित लेख हैं जिनका हिंदी अनुवाद कर सकते हैं। ऐसा हमने सत्यजित राय वाले लेख में पहले किया था। लिंक वाले सब लेखों का पूरा अनुवाद हो वह ज़रूरी नहीं है। लेकिन उनका संक्षिप्त अनुवाद एक दो या पाँच पंक्तियों में (जितने में वह विषय स्पष्ट हो जाए) कर दें। कोई ज़रूरी नहीं कि सारा काम आप खुद करें। किसी और प्रबंधक या सदस्य को उपयुक्त समझते हैं तो उन्हें संदेश दें और सहयोग लें। यह खुशी की बात होगी कि नए नए विषयों पर लेख बनें। आपका काम प्रशंसनीय है।--पूर्णिमा वर्मन ०५:०७, २७ मार्च २००८ (UTC)
आपके उत्साहवर्धन एवं अन्य सदस्यों से सहयोग का सुझाव लेने की राय जानकर अतीव प्रसन्नता हुई । परंतु एक बात अभी बाकी है । खासकर रंगों की सूची वाले लेख में, अनुवाद तो मैं, कर ही रहा हूँ, पर एस लेख में अनगिनत संख्या में रंगों के पन्ने बने हुए हैं, ऊपर से लेकर नीचे पर्यंत देखें । उन सभी पन्नों को बनाना तो (असम्भव तो नहीं कहूँगा, क्योंकिअँग्रेजीज में बने ही हैं) परंतु अति लम्बा कार्य है । क्या इस लिये कुछ कुछ कर के बांट कर करना सही रहेगा? दूसरा पूर्ण विराम से पहले यदि स्पेस छोडे़ तो वह बडे़ आ की मात्रा बन कर जुड़ जाती है, कई जगह। क्या इसके ऊपर से क्षैतिज रेखा को हटाना सम्भव है ?--आशीष भटनागर ०८:५४, २८ मार्च २००८ (UTC)
संदेश के लिए धन्यवाद। मेरे विचार से कम से कम एक पंक्ति के लेख तो सभी लिंक के बनाने चाहिए। ज़रूर आप इसके लिए राजीव, मनीष, दाढ़ीकेश और अमित से के पृष्ठ पर संदेश रख दें। क्यों कि वे फिलहाल सक्रिय हैं पर आप ध्यान रखें कोई भी पुराना सदस्य या काम करने में उत्साही सदस्य हाल के बदलाव पर दिखे तो उसको आप संदेश रख सकते हैं। मिलकर कुछ भी काम किया जा सकता है। अगर जून के लिए इसक लेख को निर्वाचित बनाना है तो अभी काफ़ी समय है। अगर ज्यादा समय भी लगता है तो इस लेख को ठीक से पूरा करना ही अच्छा है। मेरे विचार से लक्ष्य बनाकर चलें तो काम पूरा किया जा सकता है। विराम को आ की मात्रा की तरह नहीं जुड़ना चाहिए। या तो आप विराम के लिए सही key का प्रयोग नहीं कर रहे हैं या यह आपके कंप्यूटर में ठीक से डिस्प्ले नहीं हो रहा है। आप किस प्रोग्राम में हिंदी लिखते हैं? कॉमा का प्रयोग आप ठीक करते हैं यानी पहले स्पेस नहीं और बाद में पर प्रश्नवाचक चिह्न के पहले भी स्पेस हटा दें।--पूर्णिमा वर्मन ०९:१२, २८ मार्च २००८ (UTC)

४ जनवरी एवं 4 जनवरी[संपादित करें]

पूर्णिमा जी,
नमस्कार, मैने अभी देखा कि आपने ४ जनवरी एवं ६ जनवरी के पेज बनाये। कृप्या आप उनको न बनायें, बल्कि आप 4 जनवरी एवं 6 जनवरी के पेज का प्रयोग करें और ४ जनवरी को वहाँ redirect कर दें।

धन्यवाद
डॉन

आँकडे़ एवं आँकड़े का फर्क[संपादित करें]

पूर्णिमा जी, नमस्कार। आपके कहे अनुसार मैंने पूर्ण विराम से पहले के स्पेस की आदत खत्म करदी है। पर अभी तो यह पूछने हेतु लिख रहा हूँ कि आँकडे़ एवं आँकड़े में क्या फर्क है? मैंने ढे़रों साँचे देश आँकडे़ के बनाए हैं, परंतु कई साँचे जो कि पहले के बने हुए हैं, उनसे समानता हेतु मंने उनका नाम पुराने वालों से वही शब्द कॉपी कर के बना लिये थे। परंतु अब कहीं प्रयोग करने पर, या सन्दर्भ के लिए, या सर्च करने पर नहीं मिलता है। कृप्या लेखनी / वर्तनी का फर्क बताएं। मैं फोनैटिक वर्तनी प्रयोग करता हूँ। --आशीष भटनागर १२:०६, १ अप्रैल २००८ (UTC)

रंगों की सूची[संपादित करें]

नमस्कार पूर्णिमा जी! अभी मितुल जी की वार्त्ता देखी तो मुझे याद आया कि मैंने जो रंगों की सूची का लेख बनाया था, उसकी प्रेरणा मुझे आपके उनको रंगों के लिये साँचा बनाने के निवेदन से मिली थी। आपने उनको अँग्रेजी़ के ब्लू कलर के लेख पर साँचे का सन्दर्भ भी दिया था। तब मैंने सोचा था, कि क्यों ना मैं ही यह काम आरंभ कराँं। और आज जबकि यह लेख (मूल) तो पूर्ण ही है, साथ ही रंगों के लिंक के पन्ने भी काफी मंने बना दिये, और बना भी रहा हॉआँं, साथ ही राजीव जी, मितुल जी, एवं दाडी़केश जी को निवेदन भी किया है, कुछ वर्णों की छायाओं के पन्ने बनाने हेतु, जैसा कि आपने सुझाव दिया था। देखिए शायद यही लेख सावन के महीने में निर्वाचित हो जाए। जैसा महीना , वैसा ही लेख॥--आशीष भटनागर १८:३३, ३ अप्रैल २००८ (UTC)
==सुधार एवं निर्वाचन हेतु आवश्यकताएं==
मेरा रंगों की सूची लेखे पूर्ण हो चुका है। कृपया उसमें कोई कमी या सुधार आवश्यक हों तो बताएं, एवं निर्वाचन हेतु आवश्यकताएं (उस लेखे में) बताएं, सभी से अनुरोध है।--आशीष भटनागरसंदेश ०३:३५, १४ अप्रैल २००८ (UTC)

चौपाल[संपादित करें]

चौपाल पर आपकी टिप्पणी पर टिप्पणी देने का प्रयास किया है।--मितुल ०५:४९, ८ अप्रैल २००८ (UTC)

Hi.[संपादित करें]

ःइ व्ह्य इस थे ळिस ङेर्‍अर्द् पगे कीप्स ओन गेत्तिन्ग देलेतेद्? आन्द्, दो योउ स्पेअक एन्ग्लिश्?

Dancinfool610 १६:२१, ८ अप्रैल २००८ (UTC)दन्चिन्फूल्६१० कार्टून कामिक्स वाला काम तो मैयू ही कर रहा था खेल खेल मे उन्हे ब्दा करने तथा च्हित्र लगादेने का काम हम कर लेन्गेभरोसा रखे --abhimanyu ०९:२६, १६ अप्रैल २००८ (UTC)्

I'm sorry. Can you say that again? I didn't understand. Thanks.

Dancinfool610 ०५:१२, २३ अप्रैल २००८ (UTC)dancinfool610

सरलता हेतु मेरे वार्ता पर ही रहें[संपादित करें]

मैं आप का उत्त्तर यहाँ दूँ, और आप वहाँ दें, इससे बेहतर होगा कि दोनों वहीं (मेरी वार्त्ता) पर रहें।--आशीष भटनागरसंदेश १३:१९, २१ अप्रैल २००८ (UTC)

धन्यवाद[संपादित करें]

रंगों की सूची एवं ताजमहल लेख पर अपनी राय व्यक्त करें, निर्वाचन हेतु। वैसे ताजमहल की कडि़याँ अभी पूर्ण नहीं बनी हैं, परंतु अन्य पाठ्य सामग्री मैंने प्रयास किया है कि अंग्रेजी़ से काफी बेहतर एवं अलंकृत हो। साथ ही ताजमहल वार्ता पर से अनर्गल वार्ता हटाने का धन्यवाद। मैं भी इससे बहुत परेशान हूँ। यह विकि ११२-१४ इत्यादि वही है, एवं मेरी वार्ता पर बार बार नए सन्देश डाल देता है, जाकर देखने पर पता चलता है, वही फालतू बात। इशी से मन करता है, कि अपनी वार्ता सुरकक्षित होनी चाहिये। खैर वह तो जब होगी तब होगी। मैंने {{बुलेट}}, {{--}}, {{बॉर्डर}} बनाए हैं, कृपया देखें, एवं राय दें, यदि सही लगें, तो ताजमहल में प्रयोग देखें, तथा आप भी करें।--आशीष भटनागरसंदेश ०३:००, २५ अप्रैल २००८ (UTC)

नमस्कार[संपादित करें]

मैं ४ दिन एक विवाह समारोह में था। अतः बाहर था। आज ही आया हूँ। कल मैं 0730-1330तक रहूँगा, तब याहू पर ऑनलाइन रहूँगा। आप अभिव्यक्ति पर चैट कर सकती हैं। साथ ही जी मेल पर ashish0bhatnagar@gmail.com पर भी मिलूँगा। तब तक के लिए अल-विदा।आशीष भटनागरसंदेश १३:५३, २९ अप्रैल २००८ (UTC)

ठीक है आशीष--पूर्णिमा वर्मन १७:५५, २९ अप्रैल २००८ (UTC)


भारतीय संविधान वाले आलेख पर काम कर रहा हू इसको बहुत लम्बा कर दिया क्रप्या इसे छोटा करदे उप विभाजन करना नही आता --abhimanyu ०६:०७, ३० अप्रैल २००८ (UTC)

हिन्दी विकिन्यूज़ के विकास में सहयोग[संपादित करें]

नमस्कार पूर्णिमाजी, आपसे कुछ सहायता की आशा है। मैं यह चाहता हूँ कि हिन्दी विकिन्यूज़ शिघ्रातिशीघ्र शुरू हो सकें, अतैव उसके लिए एक समाज के गठन की आवश्यकता है और साथ ही साथ कुछ पृष्ठों पर आपके संपादन की। मैं यह समझता हूँ कि आपको यह कार्य रुचिकर न भी लगें, लेकिन फ़िर भी आप इसके विकास में सहयोग देंगी। यहाँ पर मैं कुछ पृष्ठ उद्दृत कर रहा हूँ, जिनको आप अंग्रेजी से हिन्दी में अपनी भाषा में लिखकर सहायता करें:

या आप अपनी रुचि से कुछ आवश्यक पृष्ठों का हिन्दी अनुवाद कर मदद कीजिये। यदि संपादन में कुछ असुविधा हो तो आप मुझसे यहाँ बेझिझक पूछ सकते हैं। धन्यवाद्, Shyam (T/C) ०८:२५, २ मई २००८ (UTC)

ताजमहल पूर्ण हो चुका है[संपादित करें]

नमस्कार! कृपया ताजमहल एवं उसपर की गई चर्चा का सन्दर्भ लें। मैंने लेख में से जो कि को निकालने का भरसक एवं सफल प्रयास किया है। साथ ही अन्य कमियां, जो कि व्याकरण रूप से गलत ना हों, परंतु सुंदर भाषा में नहीं आतीं, वे भी ठीक करने का प्रयास किया है। सारे तूटे लिंक भी लगभग पूर्ण हो चुके हैं। केवल कुरान के सूरे ही रह गये हैं। क्या उनको बनाने की आवश्यकता है? या लिंक शैली उनसे हटा दूँ?या उन्हें टूटा ही छोड़ दूँ। असल में समस्या ये है कि उनका सीधा - सीधा अनुवाद करना मुश्किल ही नहीं, गलत भी होगा। कई शब्दों, जैसे cleaving Asunder, इत्यादि को न तो सीधे अनुवाद मिलना ही आसान है, ना ही सीधा अनुवाद (शाब्दिक) करना सही। कृपया इसका समाधान बताएं, औरों से भी चर्चा कर लें, यदि सही लगे तो। मैं प्रतीक्षा में हूँ। --आशीष भटनागरसंदेश ०१:४२, ६ मई २००८ (UTC)

2.11[संपादित करें]

ताजमहल[संपादित करें]

मैंने इस लेख के प्रस्तावना की भाषा को बदला है। परंतु अगला अनुभाग मकबरा, इसमें छोटे-मोटे भाषा परिवर्तन के अलावा कोई भी बदलाव समझ्अ नहीं आता। असल में यह तो वास्तु वर्णन है, जो कि एक तकनीकी विषय है। यद्यपि इसमें भाषा शैली का ध्यान तकनीकी विश्लेषण से ऊपर नहीं जा सकता है, तथापि मैंने कुछ प्रयास कर भाषा को सुन्दर बनाया है। जहां तक अंग्रेजी भाषा में यही अनुच्छेद है, वह तो साधारण भाषा में ही है। कारण वही, कि तकनीकी विवरण तो वैसे ही दिया जायेगा, कि वह एक चित्र आपके/पाठक के मानस पर खींच दे, जिससे पाठक आगे के लेख को कडि़त कर सके। असल में यहां भाषा उतनी सुंदर ना होकर वह चित्र सुंदर एवं वास्तविकता के निकट होना आवश्यक है(जहां कोई भी तकनीकी विवरण आता है)। ऐसा मुझे लगा। वैसे यह केवल 2.1 मकबरा जो कि 2.11 से पहले तक है, उसी के लिये मान्य है। बाकी मैं अभी देखूँगा।--आशीष भटनागरसंदेश ०६:४४, १२ मई २००८ (UTC)

आपका प्रयास प्रशंसनीय है। मैं भी इस पर कुछ काम करने की कोशिश करती हूँ। मेरे विचार से architecture के लिए सही शब्द स्थापत्य लिखना चाहिए, क्योंकि आजकल वास्तु एक दूसरे अर्थ में रूढ़ हो गया है। सबकुछ अंग्रेज़ी की नकल की जाय वह भी ठीक नहीं है पता लगाना चाहिए कि इवान या पिश्ताक जैसे भारतीय स्थापत्य आकारों या संरचनाओं के हिंदी शब्द क्या हैं। क्यों कि ऐसे निर्माण प्राचीनकाल से भारत में होते रहे हैं। महलों के सिंहद्वार (चाहे उसमें सिंह ना भी बना हो) वृहदाकार प्रवेशकक्ष जिसमें हाथी हौदे और छत्र के साथ प्रवेश करते थे उन सबके लिए हिंदी में, राजस्थानी में, संस्कृत में शब्द हैं। अगर आपने ऐसे ऐतिहासिक स्थलों की यात्रा की है तो वहाँ के हिंदी विवरण पत्रों में देखें। गाइड से हिंदी में पूछें और तकनीकी शब्दों के प्रचलित शब्द जानने की कोशिश करें। लेखन एक सतत विकास प्रक्रिया है, जिससे भाषा का भी विकास होता है और लेखक की सामर्थ्य का भी। विकि से बेहतर ऐसे विकास के स्थल कम ही हैं। यह हम सबके संयुक्त विकास का आधार बने यही मंगलकामना है।--पूर्णिमा वर्मन ०७:२४, १२ मई २००८ (UTC)


धन्यवाद[संपादित करें]

पूर्णिमा जी, आपके बधाई सन्देश के लिए हार्दिक धन्यवाद। हिन्दी साहित्य में मेरी विशेष रुचि हैं, और थोड़ा बहुत यदा कदा जो बन पड़ता योगदान करने का प्रयत्न करता रहता हूँ, किन्तु अभी विकिन्यूज़ के लिए सहयोग कर पाना सम्भव नहीं हैं। भविष्य में कभी मौका मिला तो विकिन्यूज में योगदान अवश्य करूँगा।

संजय खत्री ०९:४३, १३ मई २००८ (UTC)


शृंगार[संपादित करें]

कृपया बताएं कि शृंगार को कैसे लिखें, श्रंगार या शृंगार, या श्रिंगार । यहाँ तो सही शब्द लिखने में नहीं आ रहा है। --आशीष भटनागरसंदेश १४:५६, १३ मई २००८ (UTC)

सही शब्द शृंगार है।--पूर्णिमा वर्मन १६:४०, १३ मई २००८ (UTC)
अगर हिन्दी शब्दों का सही विन्यास मालूम हो तो यूनीकोड़ में शुद्ध हिन्दी लिखना बहुत आसान हैं, ख़ास कर इंस्क्रिप्ट की-बोर्ड के साथ । जैसे की श <हलन्त> र <ऋ की मात्रा> => M d = => श्रृ । श्रृंगार । इसके अलावा, कुछ और मिश्रित व्यंजन हैं जिसमें अक्सर गलतियाँ होती हैं, वे हैं: द्द [आधा द + द], द्व [आधा द + व], द्ध [आधा द + ध] और द्य [आधा द + य] । संजय खत्री ०९:०९, १४ मई २००८ (UTC)
नमस्कार पूर्णिमा जी एवं संजय जी, जैसा मैंने सोचा, एवं पहले ही किया हुआ है, वैसे ही शृंगार आपने बताया, किन्तु प्रचलित श्रृंगार लिखने का फ़ोनेटिक में कोई भी तरीका नहीं? मैंने बाराह इंडिक भी देखी, परंतु उसमें भी शृंगार ही मिला, जबकि सभी श्री एवं निश्चय, पश्चात इत्यादि लिखते हैं, परंतु इसी शृंगार में दिक्कत है। अब इन्स्क्रिप्ट की बोर्ड का टंकण तो मुझे आता नहीं।दूसरा हिन्दु या हिन्दू कौनसा सही है? क्या बडी़ ई को सही मानें? और किस लेख के बारे में आपने यह लिखा है? कोई खास, या सभी लेख, जो बनाएं , या पहले बनाए हों, यथासम्भव बदल दें? वैसे मैं प्रयास करूंगा सभी के लिये।--आशीष भटनागरसंदेश ००:४१, १८ मई २००८ (UTC)

मीनाक्षी मन्दिर[संपादित करें]

मैने उपरोक्त लेख लिखा है, अधिक लम्बाई नहीं है, कृपया देखें, ताज से बेहतर भाषा स्तर है?वहीं, या जी-मेल पर मेल कर दें, सुधार, निर्देश, संकेत, यदि और जब समय मिले।--आशीष भटनागरसंदेश ००:४१, १८ मई २००८ (UTC)

यह भी देखें[संपादित करें]

पूर्निमा जी मेरा चयन भारतीय प्रशासनिक सेवा मे हो गया है किन्तु जब यह बात मैने अपने परिचय वृत पे डाली तो किसी बर्बर ने हटा दी मैने इसे यथावथ तो कर दिया है किन्तु भविष्ञ मे ऐसा ना हो इस हेतु प्राथ्रना करता हू कि इसे सुरक्षित कर दिया जाये यदि फिर से इसकी पुनरावर्ति होती है तो मै विकीपीडिया पे कार्य करना ही छोड दून्गा क्या मैने कभी कहा है कि आप लोग क्या पेशा करते है या आप लोगो की उपल्बधि से छेडखानी ही कि है तो बता दे --abhimanyu.singhyadav ११:३७, १७ मई २००८ (UTC)

मंजिल[संपादित करें]

अंग्रेजी के storey शब्द का अनुवाद मंजिल तो उर्दू हो जाता है. हिन्दी पर्याय बतायें, यदि हो तो- स्तर तो सही नहीं लगता. मीनार हेतु अट्टालिका है, परन्तु पुराना शब्द होने से एक लेख अट्टालिका पर बना रहा हूं. आप मंजिल का पर्याय बताएं, कृपया.--आशीष भटनागरसंदेश ०१:३३, २२ मई २००८ (UTC)

storey के लिए मंज़िल ही सही है। मीनार के लिए भी मीनार ही रहने दें वही प्रयोग किया जाता है। अट्टालिका का अर्थ मीनार नहीं कर सकते हैं। अट्टालिका का प्रयोग बहुमंजिली इमारतों के लिए किया जाता है न कि मीनारों के लिए।--पूर्णिमा वर्मन ०६:४८, २२ मई २००८ (UTC)

मेरे विचा‍र में हम इसके लिए 'तल'या 'तल्ला' शब्द का भी उपयोग कर सकते हैं|वैसे 'मंजिल' ही सबसे उचित शब्द है |--अनिल जनविजय १४:४८, २२ मई २००८ (UTC)

व्यवस्था संदेश[संपादित करें]

जब कोई सदस्य लॉग इन नही होता है तब विकिपीडिया के किसी पृष्ठ के ऊपरी दाहिने हिस्से में "सदस्य प्रवेश करें / नया खाता बनाएँ" संदेश होना चाहिए जो कि MediaWiki:Userlogin से प्रकट होना चहिए। परन्तु उसकी जगह "सदस्य लॉग इन " दिख रहा है जो कि MediaWiki:Loginpagetitle से प्रकट होता है। यह गड़बड़ी न जाने क्यों आ रही है?--सुमित सिन्हावार्ता ०६:३४, २ जून २००८ (UTC)

माफ़ कीजिएगा, मुझे इस विषय में कोई जानकारी नहीं। शायद आपके कई एकाउंट जैसे मीडिया विकि, हिन्दी विकि इत्यादि एक किए गए होंगे यानी एक बार लॉग इन कर के आप किसी पर भी जा सकते हैं।--पूर्णिमा वर्मन ०६:४०, २ जून २००८ (UTC)
समस्या सुलझ गई , वह संदेश अब MediaWiki:Nav-login-createaccount से दिख रहा था,उसको सही कर दिया--सुमित सिन्हावार्ता ०४:४३, ४ जून २००८ (UTC)

ऑटोविकिब्राउज़र पर लॉगिन[संपादित करें]

क्षमा चाहता हूँ कि सहायता का वादा करके मैं फिर व्यस्त हो गया और हिन्दी विकिपीडिया पर बहुत दिनों तक नहीं आ पाया। लॉगिन करने के लिए File > Log In का प्रयोग करें। काम खत्म हो जाने पर प्रोग्राम को बन्द करने से पहले File > Save Settings as default पर क्लिक कर दें, इससे अगली बार यह प्रोग्राम आपकी लॉगिन सूचना याद रखेगा। और कोई परेशानी हो तो बताएँ। -- दाढ़ीकेश ०३:१९, १८ जून २००८ (UTC)

अन्तर्दहन इंजन को निर्वाचित लेख योग्य बनाने का काम[संपादित करें]

मैं दूसरे कामों में लग जाता हूँ, पुराने काम बचे रह जाते हैं। आपने याद दिला दिया है, कल से उसी पर काम करूंगा।

अनुनाद सिंह १२:२७, २३ जून २००८ (UTC)

देहरादून[संपादित करें]

जी बिल्कुल, लेकिन अब क्लाइमेट चार्ट नहीं जलवायु सारणी कहिये। वैसे मेरे सुझावों पर ध्यान देने के लिए धन्यवाद। -- दाढ़ीकेश १८:५४, २४ जून २००८ (UTC)


हिन्दी कथाकारों का सांचा[संपादित करें]

लेख प्रेमचंद में प्रयुक्त सांचे

को मैंने देखा, और निर्वाचन योग्यता के लेख में दाढ़ीकेश जी का सुझाव देखा, और पाया कि सचमुच इसमें संख्या बहुत अधिक है. यदि आप इनका कोई वर्गीकरण कर दें, तो मैं सांचा उसी के अनुसार ढाल दूं.

बाकी जैसा आप उचित समझें.--आशीष भटनागरसंदेश १७:४०, ३० जून २००८ (UTC)

मैं इसको ठीक करती हूँ।--पूर्णिमा वर्मन १७:५४, ३० जून २००८ (UTC)

Betawiki update :)[संपादित करें]

  • Currently 99.44% of the MediaWiki messages and 98.29% of the messages of the extensions used by the Wikimedia Foundation projects have been localised. Please help us help your language by localising at Betawiki. This is the recent localisation activity for your language. Thanks, GerardM १०:४८, २ जुलाई २००८ (UTC)
  • Currently 97.17% of the MediaWiki messages and 85.48% of the messages of the extensions used by the Wikimedia Foundation projects have been localised. Please help us help your language by localising at Betawiki. This is the recent localisation activity for your language. Thanks, GerardM ०९:४९, ३ अगस्त २००८ (UTC)

क्या आप जानते हैं[संपादित करें]

पुर्णिमा जी,कोई वेब पेज किसी कंप्यूटर पर कैसे प्रकट होता है यह बात कंप्यूटर का स्क्रीन छोटा या बड़ा होने पर नि‍भर नहीं होता है,यह बात स्क्रीन रेजोल्यूशन,वेब ब्राउसर आदि पर निर्भर होती है।और न ही तो वेब पेज पर दो कॉलम के बीच चौड़ाई का संतुलन सिर्फ टेक्स्ट में होता है। अंग्रेजी विकिपीडिया पर खाली जगह न दिखने कि वजह ,उस पृष्ठ की सही कोडिंग का नतीजा है,अंग्रेजी विकि पर प्रयोग किया गया टेबल बनाने वाले कोड से २ खाने बना कर उन्में ४ साँचे लगाए गये हैं । जबकि हिन्दी विकि पर ४ खाने बना कर अलग अलग ४ साँचे लगाए है।हो सकता है कि हम भविष्य में इसे सही कर सकें,खैर मैं ५ तथ्य से हटा कर ४ तथ्य क्या आप जानते है के नियम के अनुसार कर दे रहा था।--सुमित सिन्हावार्ता १३:४५, २ जुलाई २००८ (UTC)

विकिपीडिया:हिन्दी विकिपीडिया के पांच वर्ष पूर्ण मे तिथि व्याकरण आदि कि त्रुटियाँ सुधारने के लिए धन्यवाद,पुर्णिमा जी मै आपसे आग्रह करना चाहूंगा कि आप अपनी वार्ता पृष्ठ को असुरक्षित कर लें ताकि सभी सदस्यों व आप से सही ठंग से वार्ता हो सके ,और हाँ आपको मेरी ओर से विकि के ५ वर्ष पूरे होने कि बधाइयाँ--सुमित सिन्हावार्ता १०:२८, ६ जुलाई २००८ (UTC)

बाघा यतिन (जतीन्)[संपादित करें]

डेअर पूर्णिमा जी, प्लेअसे फोल्लो थे कोन्ट्एन्ट् ओफ् थे एन्ग्लिश विकिपेडिअ अर्टीक्ल् फोर थे एवेन्ट्स ओफ् थे हेरो'स लैफ्। हि रेस्इवेड् हिस पोलितिक्ल इनिस्इअश्न् फ्रोम विवेकनन्द! अ रोयल बेन्गल टैगर इस नोट च्इता; हे वस ओने ओफ् थे फोउन्देर्स ओफ् थे अनुशिलन समिति इन १९०२;इट टुक मि हफ् अ सेनच्हुरि (अर्ध शताब्दि) टो सेट ओर्डेर इन थे एवेन्ट्स्। इ होपे यु विल्ल उन्डेर्स्टन्ड थे ोब्जेक्ट् ओफ् मै रेकोएस्ट्। सिन्सिअर थन्क्स् फ्रोम बोब क्लैव्--84.5.31.13 ०५:२९, १४ जुलाई २००८ (UTC)

मुखपृष्ठ प्रारूप[संपादित करें]

पूर्णिमाजी, आप कैसी है? आपको जवाब देने मे हुई देरी के लिए माफी मांगना चाहता हूँ। इधर-बीच काफी दिनो से व्यस्त चल रहा हूँ।
मुखपृष्ठ के कलेवर के साथ प्रयोग करने के लिए पहले से ही स्थान है - विकिपीडिया:मुखपृष्ठ। आप उसे भी इस्तेमाल कर सकती है। मुखपृष्ठ पर html tables का प्रयोग है और वहाँ column width के लिए प्रतिशत का प्रयोग किया गया है। हो सकता है, इस वजह से अलग-अलग resolutions मे यह ठीक से नही दिख रहा है। अगर नए प्रारूप से यह समस्या दूर हो जाती है तो इसका इस्तेमाल कर सकते है। इसे लागू करने से पहले चौपाल पर टिप्पणी के लिए जाहिर करना अच्छा होगा। --मितुल ०६:०४, २१ जुलाई २००८ (UTC)

उज्जैन का महाकालेश्वर मंदिर[संपादित करें]

नमस्कार पूर्णिमा जी!, कृपया अपना बनाया हुआ उपरोक्त पृष्ठ देखें। क्या दोनों सांचे सही लगे? ज्योतिर्लिंग और ज्ञानसन्दूक वाले। एक आरम्भ और एक अन्त में है। यदि हो सके तो आप १२ ज्योतिर्लिंगों के कुछ कुछ पृष्ठ बना दें। कार्यालय के कारण कुछ कम समय दे पा रहा हूं। धन्यवाद --आशीष भटनागरसंदेश १८:३५, २४ जुलाई २००८ (UTC)

हाँ आशीष बहुत बढ़िया। बहुत बहुत धन्यवाद इतना सुंदर काम करने के लिए। मैं ज़रूर बाकी ज्योतिर्लिंगों के पृष्ठ बनाने की कोशिश करूँगी।--पूर्णिमा वर्मन १८:४३, २४ जुलाई २००८ (UTC)
मैंने प्रयास कर सभी ज्योतिर्लिंगों के पृष्ठ बना दिये हैं, और उनमें ज्योतिर्लिंग और ज्ञानसन्दूक वाले, दोनों ही सांचे डाल दिये हैं। कुछ पृष्ठ तो अंग्रेज़ी से बेहतर बने हैं।--आशीष भटनागरसंदेश ०५:२३, २७ जुलाई २००८ (UTC)
धन्यवाद आशीष, आप बहुत अच्छा काम कर रहे हैं। मुझे खेद है कि सर्दी बुखार के कारण मैं ढंग से कुछ काम नहीं कर सकी। आप लगे रहें। अनेक शुभकामनाएँ।--पूर्णिमा वर्मन १२:०८, २७ जुलाई २००८ (UTC)

धन्यवाद[संपादित करें]

माफ़ कीजियेगा मैने आपके हौसला अफ़जाई का समय पर धन्यवाद नहीं दिया । अभी नई कम्पनी में आ गया हूँ जहाँ वक्त मिल जाता है पर अभी तक अपना इंटरनेट कनेक्शन नहीं आया है । दूसरों का कम्प्यूटर इस्तेमाल कर रहा हूँ । इस कारण से आपसे मैसेंजर पर बात नहीं हो रही । अपना इंटरनेट आते ही बात करूंगा । आपका सम्पादन विकि के पाठकों की पहली पसन्द बने - ऐसी कामना है । --अमित प्रभाकर १२:१३, २६ जुलाई २००८ (UTC)

देहरादून जिला[संपादित करें]

कृपया इस लेख के संवाद पृष्ठ पर डाला हुआ मेरा संवाद देखें, क्या इसे भी सम्मिलित किया जा सकता है लिख में? बाकी सहायक कड़ियां तो बन ही रहीं हैं।--आशीष भटनागरसंदेश १७:५८, १ अगस्त २००८ (UTC)

मलेरिया[संपादित करें]

आपको बहुत बहुत धन्यवाद । आपकी नजर मुझ पर परी । मैंने वाहक, प्रोटोजोवा, प्लास्मोडियम, मच्छर, कुनैन, फफूंद, सैमुएल हैनीमेन की लाल करियो को नीला कीया । मैंने सोचा था कि पहले लाल करियो को नीला कर दूं फिर लेख का आकार बढ ही जायेगा । मैं हिंन्दी type नही जानती । पहले wiki के फोनाटिक से लिखती थी अव आपकी तरह MS Word use कर रही हूं । पर Englsih keybord से असुविधा हो रही है । किस english letter के पीछे कौन हिंन्दी letter छुपा है ? अब कागज पर keybord का darwing बनायी हु उसे देखकर type कर रही हुं । आपको यह सन्देश लिखने में ही काफी वक्त लगा । धन्यवाद --Munita Prasad १५:५५, ३ अगस्त २००८ (UTC)

Translation request[संपादित करें]

The translation request
Hi! Could I ask you to translate the article which you can find below into Hindi? Please help me to show our language to the world – the article is quite short and has been selected from English and Silesian article and shortened as possible to contain only the basic informations. If you would finish, please, make me know on my Silesian or Polish discussion. Thanks in advance.
PS. If you want me to translate any article into Polish or Silesian, contact me without hesistation.
So, here’s the text to translation:

The Silesian language (Silesian: ślůnsko godka, ślůnski, sometimes also pů našymu) is a language spoken by people in the Upper Silesia region in Poland, but also in Czech Republic and Germany. In the National Census of Poland in 2002 about 56 000 people declared Silesian as their native language.

Silesian is closely related to Polish language, that’s why it is considered as a dialect of Polish by some linguists.

Alphabet[संपादित करें]

There’s not one Silesian alphabet. The Silesian speakers are used to write their language with the Polish characters. In 2006 was invented the new Silesian alphabet, based on all of the Silesian scripts (there’s 10 of them). It is widely used on the Internet, as well as in the Silesian Wikipedia.

Aa Bb Cc Ćć Čč Dd Ee Ff Gg Hh Ii Jj Kk Ll Mm Nn Ńń Oo Pp Rr Řř Ss Śś Šš Tt Uu Ůů Ww Yy Zz Źź Žž

And some digraphs: Ch Dz Dź Dž.

External links[संपादित करें]

Thank you once again, Timpul १३:२७, ४ अगस्त २००८ (UTC)

देहरादून[संपादित करें]

नमस्कार! देहरादून की काया पलट करने के लिये धन्यवाद। वैसे तो मैं इसे जिला दे॥ का सहायक लेख ही बना रहा था, परन्तु समय से पर्याप्त सामग्री मिल जाने से इस लेख की किस्मत खुल गयी, और अब तो आपने उद्धार कर दिया।--आशीष भटनागरसंदेश १५:०६, ५ अगस्त २००८ (UTC)

संपादन पसंद करने के लिए धन्यवाद आशीष, मैंने आपके लिखी गई सामग्री को अलग अलग पन्नों में विषयवार सहेजा है। देहरादून जिला पर भी उनके उपयुक्त लिंक हैं। सब आपकी ही मेहनत है। इतनी सामग्री न होती तो लेख कैसे बनते। पर यह सब करते हुए मुझे यह भी पता लगा है कि इन सूचनाओं में कई गलतियाँ हैं। खैर मैं उनको सर्च कर के ठीक कर रही हूँ। क्या गुच्छूपानी वाले फ्लिकर के छायाकार ने आपको उत्तर दिया? वहाँ कुछ और भी अच्छे चित्र हैं अगर वे लोग विकि से बाँटना चाहें तो बहुत अच्छा होगा। मुझे एक बहुत अच्छी साइट मिली है जिसमें सभी धार्मिक स्थानों की सूचना और सुंदर चित्र हैं। http://210.212.78.56/dehradun/English/29worship.html आप इनसे भी बात कर सकते हैं हम कुछ सुंदर पृष्ठ बना सकते हैं धार्मिक इमारतों के खासतौर से मारिस मेमोरियल चर्च और देहरादून चर्च के डोईवाला के टपकेश्वर और हर्रावाला के लक्ष्मण सिद्ध के भी सुंदर चित्र है। आप ई मेल लिखकर देखें। ई मेल कैसे लिखें इसके कुछ सुंदर उदाहरण विकिमीडिया कामंस में हैं। चित्रकार या साइट के स्वामी को लगे कि उसका काम सराहनीय है और विकिपीडिया में आकर सबके लिए महत्वपूर्ण साबित होगा तो उन्हें विकि से बाँटने में खुशी हो सकती है। फिर हम विस्तृत सूचना के लिए उनके साइट का संदर्भ भी दे सकते हैं। दुर्भाग्य से पलटन बाजार की मस्जिद का चित्र इसमें नहीं है देखिए कहीं मिल सकता है क्या। लेख को अच्छा बनाना है भले ही समय लगे। मैं कुछ व्यस्त व्यस्त सी हूँ अगर आप पत्रव्यवहार कर सकते तो अच्छा रहता।--पूर्णिमा वर्मन १६:२९, ५ अगस्त २००८ (UTC)
यह जो काट-छांट आपने की है, उसे देखकर, बहुत ही अच्छा लगा, कि लेख में केवल दून के विषय में पर्याप्त है। यदि इमारतों, पर्यटन, इत्यादि के विषय में चाहिये, तो पृथक पृष्ठ है। मैं अभी इस इन्हें भी देखें के लेखों के लिये एक सांचा बना ने का प्रयत्न करता हूं।--आशीष भटनागरसंदेश १८:२१, ५ अगस्त २००८ (UTC)
जामा मस्जिद देहरादून तैयार होकर चित्र सहित खड़ी हो गयी है| चित्र सरकारी वेबसाइट का है, आशा है एकाधिकार का विवाद ना होगा| अन्य कु॰ सहायक लेख बी बन गये हैं| मु़ए लगा शिलालेख , गुलाम कादिर और नजीबुद्दौला के ऊपर यदि कु॰ ना मिले, तो बेहतर होगा कि लिंक हटा कर नीला ना सही काला ही कर दें| बाकी आप जैसा उचित समझें। विज़ का कुछ पता नहीं। सामुदायिक विकास केन्द्र क्या होता है? सभी सामुदायिक केन्द्र यहां लिखे हैं। सहासपुर में कोई सामुदायिक केन्द्र नहीं है। स्पेलिंग मिस्टेक तो नहीं? फिल्हाल लेख तैयार है।--आशीष भटनागरसंदेश ०१:२४, ६ अगस्त २००८ (UTC)
इतना सारा काम करने के लिए धन्यवाद। सामुदायिक विकास केन्द्र community halls नहीं होते हैं। ये सरकार द्वारा सामाजिक विकास के लिए चलाई जानी वाली परियोजनाओं के मुख्यालय होते हैं। मैं इस विषय में और पता करती हूँ। जिसमें शिक्षा चिकित्सा आदि के विभिन्न कार्यक्रमों को क्रियान्वित किया जाता है।--पूर्णिमा वर्मन ०४:५२, ६ अगस्त २००८ (UTC)

Rabindranath ka hindi me spelling do tarah se hota hai kya? aaj maine bahut sare lekho ko redirect kiya jo spelling ke variations ke karan lal the. per rabindranath ek renound figure hain isliye aapse punchh rahi hun. nobel wijetaभारतीय नोबल विजेता from india bhi gadbad hai, kripiya thoda guide karen.

धन्यवाद[संपादित करें]

नमस्ते पूर्णिमाजी, समाचार पर मेरे लिखे जुलाई को ठीक कर अगस्त करने के लिए बहुत शुक्रिया । मुझसे भूलवश यह गलती हो गई थी ।--राजीवमास ०७:५७, ११ अगस्त २००८ (UTC)

इसमें धन्यवाद की कोई बात नहीं, मैं तो बहुत सी ऐसी गलतियाँ करती ही रहती हूँ। दूसरे को जल्दी दिख जाती हैं। लगता है २४ घंटों के अंदर हिन्दी विकि ५५वें से ५४वें नं पर आ जाएगा। --पूर्णिमा वर्मन ११:२६, ११ अगस्त २००८ (UTC)

नमस्कार[संपादित करें]

काफी दिनों से सम्पर्क नहीं हुआ था। आज भी आप ऑनलाइन नहीं थीं। खैर सब ठीक ठाक? और कोई लेख के सहायक चाहियें तो बताइये, या देहरादून के भी कोई हों तो! वैसे आज भी मैंने २- अपलोड किये हैं। साथ ही मेरी ड्यूटी राष्ट्रपति भवन में है, तो \वहां के चित्र लेकर, उसी का लेख तैयर किया।--आशीष भटनागरसंदेश ०८:०४, १२ अगस्त २००८ (UTC)

संदेश रखने के लिए धन्यवाद आशीष, शनि रवि मेरे काम के व्यस्त दिन होते हैं। फिर सोम मंगल मैं बिलकुल आराम में बिताती हूँ। बस इसीलिए कोई प्रोग्राम खोला नहीं। आज थोड़ा काम महानदी की सहायक नदियों पर किया। शायद आपने देखा होगा इस वर्ष हम विकि को अभिव्यक्ति के मुखपृष्ठ से जोड़ते हैं और एक लेख का भी लिंक लगाते हैं। इस हफ़्ते के लिए महानदी सोचा है तो उसको थोड़ा बेहतर करने को सोच रही थी। देहरादून में अभी भी कुछ काम करना बाकी है। आराम से करूँगी। और कोई भी ज़रूरत पड़ी तो फिर से आपसे मदद माँगूँगी।--पूर्णिमा वर्मन ०८:३०, १२ अगस्त २००८ (UTC)

स्वतन्त्रता दिवस की बधाई[संपादित करें]

पूर्णिमा जी, 62 वें स्वतन्त्रता दिवस पर आपको बहुत बहुत बधाई । --Munita Prasad ०१:४३, १५ अगस्त २००८ (UTC)

क्या समस्या है ?[संपादित करें]

पूर्णिमा जी, यह सदस्य क्यो ऐसा कर रह है ? अगर आप उचित समझे तो कृपया बतलाएं ? --Munita Prasad ११:१३, १५ अगस्त २००८ (UTC)

depth[संपादित करें]

पूर्णिमा जी, wiki के लिस्ट में हिंदी का depth जो दिया हुआ है. उसका क्या मतलब है? --Munita Prasad १२:२६, १८ अगस्त २००८ (UTC)

चोर के सहायक चोर[संपादित करें]

चोर प्रबंधक राजीव मास के कुकर्मने हीन्दीवीकीपीडीयाका मुंह काला कीया है

चोर प्रबंधक राजीव मासने कुकर्म करके हीन्दीवीकीपीडीयाका मुंह काला कीया है। चोर प्रबंधक राजीव मासको प्रबंधक पुर्णीमा वर्मन ने सहयोग दीया है। चोर प्रबंधक राजीव मासका पुरा कुकर्म चौपाल पर रखा गया था। राजीव मासके सहयोगीयोंने उसे मीटानेकी कोषीश की। कुकर्म नहीं मीट सकता है।--Wiki141 ०३:५७, १९ अगस्त २००८ (UTC)

परेशानी[संपादित करें]

पूर्णिमा जी,
WIKI 141 लगातार परेशान कर रहा है. कृपया उचित व्यवस्था करें. --Munita Prasad ०४:२४, १९ अगस्त २००८ (UTC)

पूर्णिमा जी,
मैसेंजर तो नहीं है. वैसे आप मैसेंजर बता दीजीए मैं डाउनलोड कर लुंगी.
--Munita Prasad १२:२७, १९ अगस्त २००८ (UTC)

समाचार्[संपादित करें]

पूर्णिमा जी! नमस्कार्, क्या समाचार में भारत के दूसरे पदक का समाचार डालने काप्लान है? साथ ही तीसरे पदक की रजत या सुवर्ण की ओर की दौड्क्ष के बारे में? कृपया बतायें| --आशीष भटनागरसंदेश १८:२०, २१ अगस्त २००८ (UTC) याद दिलाने के लिए धन्यवाद। मैंने समाचार लगा दिया है। शायद आप उनकी कड़ियों को और भी बेहतर बना देंगे।--पूर्णिमा वर्मन २०:२४, २१ अगस्त २००८ (UTC)

वार्ता को पुरालेख में स्था० करें[संपादित करें]

नमस्कार पूर्णिमा जी! धृष्टता हेतु क्षमा, लेकिन एक सु़आव है| आपकी वार्ता अत्यधिक लम्बी हो गयी है| सर्व सुविधा हेतु, कृपया इसे पुरालेख में स्थानांतरित करके, नया पृष्ठ चलायें, तो शायद बेहतर रहे| शेष आपकी सुविधा|