सदस्य:Megha raghu/प्रयोगपृष्ठ/3sem

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
हेलेन डुनमोर
हेलेन डुनमोर
     हेलेन डुनमोर एक ब्रिटिश कवि, उपन्यासकार और बच्चों के लेखिक थे। डुनमोर  का जन्म १९५२ में  बेवर्ली,यॉकेशायर में हुआ था, बेट्टी और मॉरिस डुनमोर के चार बच्चों में से दुसरी थी। उन्होने यॉर्क युनिवर्सिटी में अंग्रेजी का अध्ययन किया, और फिनलौंड में दो साल में रहकर एक शिक्शक के तौर पर काम किया। वह उसके बाद ब्रिस्टल में रहते थे डुनमोर साहित्य के कुछ बच्चों की पुस्त्कों को पडने की योजना में शामिल किया गया है। उनके पति फ्रैंक चार्नली, जिन्हें उन्होंने १९८० में शादी की थी, एक वकील है। डुनमोर के बेटे,बेटी और सौतेले बेटे, और उनकी मृत्यु के सम्य तीन पोते थे।

जीवनी[संपादित करें]

     वह एक बेतरतीब, आजीवन परिवार उनके पिता ने औधोगिक कंपनियां काम कीं, लेकिन कविताएं, भजन और गायागीत सीखा। उन्होंने नॉटिंधम हाई स्कूल में भाग लिया, फिर पॉर्क विश्र्वविधाल्य (१९७३-७३) में अंग्रीजी का अध्ययन किया, जहां वह रुसी कवियों, विशेष रुप से ओसीप मौंडेलस्टम द्वारा प्रेवेशित हो गई। उनके महत्वपुर्ण कार्य में एमिली ब्रोंटे की कविता, डीएच लॉरेंस की कहानियां और महिलाओं के साथ वर्जीनिया वुल्फ के रिशतों का अध्ययन शामिल था। वह १९९७ में रॉयल सोसाइटी ऑफ़ लिटरेचर में एक साथी बन गई। वह टर्मिनल कैंसर होने का पता चला और ५ जुन २०१७ डनमोर ६४ वर्ष की आयु में निधन हो गया मार्च में उसके निदान, साथ ही मृत्यु के प्रति अपने व्याव्हारिक रवैया का पता चला। उसने अपने उपन्यास "द सेज एंड द बेरेएवल" की खोज के लिए रुस की यात्रा की, और उन्की कविता संग्रह काउंटींग द सितारे,जो लैटीन कवि कैटलुस पर केंद्रित था, में कैटलुस की कविता के अपने खुद के अनुवाद शामिल हैं। उनका उपन्यास ए स्पेल ऑफ विंटर, पहली विश्व युद्ध के फैलने से पहले सेट गॉथिक क्था, ने १९९६ में  उपन्यास के लिए उद्धाटन ऑरेंज पुरसकार जीता था। सबसे हालिया उपन्यास बर्डकेज वॉक, मार्च में प्रकाशित हुआ था और ऑब्जर्वर द्वारा "बेहतरीन उपन्यास हेलेन डनमोर ने लिखा है"।

पुरसकार[संपादित करें]

      एक उपन्यासकार के रुप में, साहस डोँमोर की गुणवत्ता थी-उसके भावनात्मक बुद्धि का हिस्सा वह अन्य लेखकों के लिए उनकी उदारता के लिए प्रसिद्ध थी। उन्होंने अरवॉन फाउंडेशन पाडचक्रमों में पडाया, एक ब्रिस्टल कविता समुह की स्थापना की,सोसायटी ऑफ लेखकों की प्रबंधन समिति में काम किया और एक साल तक, इसकी कुर्सी थी। वह रॉयल लिटरेरी फंड के ट्र्स्टी थे। जेनेर इन डार्कनेस (१९९३), बर्निंग ब्राइट (१९९४), सर्दियों का जादु (नारंगी पुरस्कार १९९६), टॉकिंग टु द डेड (१९९९) के साथ शोक रब्बी (२००३), अनायों की सभा (२००६), काउंटींग द स्टार्स (२००८), द ग्रेटकोट (२०१२), झुठ (२०१४), एक्सपोजर (२०१६), यह डुनमोर का कुछ प्रसिद्ध उपन्यासवोम है। और फैट मेन (१९९७) का प्यार ,आइस क्रीम (२००१),रो.ज १९९४ (२००५), ये भी उसकी कुछ छोटी छोटी कहानीयों है।डुनमोर बच्चों के लेखिका के रुप में जाना जाता हुम, मिस्र जाना (१९९२), इन द मनी (१९९५), जाओ फॉक्स (१९९६), धातक त्तुटि (१९९६), आमिना की ब्लोंकेट (१९९६), ऑली एपल्स (१९९७), क्लाइड का तेंदुआ (१९९८), ग्रेट-ग्रैंडमा डांस ड्रेस (१९९८), भाई भाई, बहन सिस्टर (१९९९), ऑली के खरगोश (१९९९), ऑली एवे (२०००), एलियंस बेकन सैंडविच (२०००) न खाएं अगली डकलिंग (२००१), तारा के ट्री हाउस (२००३), लोनली सी ड्रैगन (अप्रैल २०१३), उसका प्रसिद्ध बच्चों की किताबों है।[1][2]
  1. https://en.wikipedia.org/wiki/Helen_Dunmore
  2. https://www.theguardian.com/books/2017/jun/05/poet-and-author-helen-dunmore-dies-aged-64