एलियंस

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

बहुत दिनों पहले मैंने अन्तरिक्ष से अदृश्य किरण आती हुई कुछ समय के लिए महसूस की । इसके बाद मुझे पता चला कि यह किरण लगातार मेरे ऊपर आती रहती है लेकिन यह महसूस नही होती है । यह भी पता चला कि यह किरण मकान, बस, रेलगाड़ी आदि के आर-पार चली जाती है और इंसान के मस्तिष्क मे भी प्रवेश कर जाती है । यह किरण धरती पर जगह-जगह पर आ रही है । यह किरण ऐसी मशीन मे व्यवस्थित है जिसकी सहायता से एलियंस वह पढ रहे है जो हम अपने मस्तिष्क मे सोच-समझ रहे है और हमारी सोच-समझ मे बदलाव भी कर रहे है । इस कारण से लोगों के साथ बुरा हो जा रहा है, जैसे - वायरस का फैलना, हादसे आदि । मुझे पता है कि इस बात पर विश्वास करना बहुत मुश्किल है लेकिन हम बिल्कुल सच बता रहे है । अगर कोई चाहे तो मेरा लाई-डिटेक्टर टेस्ट करा ले । इसके अलावा इस बात का कोई दूसरा सुबूत प्राप्त नही किया जा सकता है क्योंकि वे उस जगह पर अपनी अदृश्य किरण नही डालेंगे जहां उन्हें पकड़ा जा सकता है । इसी लिए हम लोग एलियंस नही खोज पाते है । शिवम कुमार गुप्ता, जैथरा, जिला -एटा, पिन कोड -207249, उत्तरप्रदेश, भारत, मोबाइल नंबर -8290353171