शिवप्रसाद चटर्जी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
शिव प्रसाद चटर्जी
जन्म 22 फ़रवरी 1903
आवास बंगाल,  भारत
राष्ट्रीयता भारतीय
जातीयता बंगाली
शिक्षा कोलकाता विश्वविद्यालय
व्यवसाय भूगोल व्याख्याता एवं प्रोफ़ेसर
धार्मिक मान्यता हिन्दू
पुरस्कार पद्म भूषण(१९८५)

शिव प्रसाद चटर्जी (बांग्ला में शिब प्रशाद चटर्जी) (२२ फ़रवरी १९०३ - २७ फ़रवरी १९८९), कलकत्ता विश्वविद्यालय में प्रोफ़ेसर रहे थे। ये १९६४ से १९६८ तक अन्तर्राशःट्रीय भूगोल संघ () अध्यक्ष भी रहे थे।[1] इन्होंने ही पूर्वोत्तर भारतीय राज्य मेघालय (संस्कृत मूल अर्थ: मेघों का घर) भी गढ़ा था। चटर्जी को १९५९ में रॉयल जोयोग्रैफिकल सोसाइटी से मुर्शीसन सम्मान तथा सन १९८५ में भारत सरकार ने पद्म भूषण से सम्मानित किया था।[2]

पुस्तक सन्दर्भ[संपादित करें]

  • चटर्जी, एस.पी. (१९८३). जूनियर कॉलेज ज्यॉग्रॅफ़ी [Junior College Geography] ((अंग्रेज़ी) में). एड्वेण्ट बुक डिवीज़न. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-0-86131-090-6.सीएस1 रखरखाव: नामालूम भाषा (link)


सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "History of International Geographical Union". मूल से 26 एप्रिल 2012 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 11 दिसंबर 2011.
  2. "Padma Awards" (PDF). Ministry of Home Affairs, Government of India. 2015. मूल से 15 नवंबर 2014 को पुरालेखित (PDF). अभिगमन तिथि 24 फ़रवरी 2019.

स्रोत[संपादित करें]

  • Mookerjee, S. (1998): Shiba P. Chatterjee, 1903–1989. Geographers: biobibliographical studies 18.
  • "S P Chatterjee Memorial Series". INCA website. Indian National Cartographic Association. मूल से 20 अक्टूबर 2011 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 7 सितम्बर 2011.