व्यवहारवादी अर्थशास्त्र

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

व्यवहारवादी अर्थशास्त्र (Behavioral economics) तथा इससे ही सम्बन्धित 'व्यवहारवादी वित्त' नामक विषय व्यक्तिओं तथा संस्थाओं के आर्थिक निर्णयों पर मनोवैज्ञानिक, सामाजिक, संज्ञानात्मक तथा भावनात्मक घटकों के प्रभावों का अध्ययन करते हैं।

अमेरिकी अर्थशास्त्री रिचर्ड थेलर को 2017 का नोबेल पुरस्कार उनके व्यवहारवादी अर्थशास्त्रीय चिन्तन के लिए दिया गया है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]