वैक्लेव हैवेल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
वैक्लेव हैवेल

वैक्लेव हैवेल चेकोस्लोवाकिया के अंतिम और चेक गणराज्य के प्रथम राष्ट्रपति थे। इन्हें २००३ में भारत सरकार द्वारा गाँधी शांति पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। 5 अक्टूबर 1936 - 18 दिसंबर 2011 वैक्लेव हैवेल एक बहुचर्चित राजनेता, लेखक थे, जिन्होंने 1989 से चेकोस्लोवाकिया के आखिरी राष्ट्रपति के रूप में सेवा की और 1992 में चेकोस्लोवाकिया के विघटन तक और फिर चेक के पहले राष्ट्रपति के रूप में कार्य किया। चेक साहित्य के लेखक के रूप में, वह अपने नाटकों, निबंधों और संस्मरणों के लिए जाने जाते हैं।[1]

संदर्भ[संपादित करें]

  1. Crain, Caleb (2012-03-21). "Havel's Specter: On Václav Havel" (अंग्रेज़ी में). आइ॰एस॰एस॰एन॰ 0027-8378. अभिगमन तिथि 2020-12-22.