"अक़बर इलाहाबादी": अवतरणों में अंतर

नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
आकार में बदलाव नहीं आया ,  5 वर्ष पहले
→‎विशेषता: Just corrected a spelling error!:-)
(चित्र जोड़ें AWB के साथ)
(→‎विशेषता: Just corrected a spelling error!:-))
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब संपादन
हालांकि अकबर एक अनिवार्य रूप से एक जीवंत, आशावादी कवि थे, उसके बाद के जीवन में चीजों के बारे में उनकी दृष्टि घर पर उसकी त्रासदी के अनुभव से घिर गई थी। उन्के बेटे और पोते का निधन कम उम्र में ही हो गया। यह उसके लिये बड़ा झटका था और निराशा का कारण बना। फलस्वरूप वह अपने जीवन के अंत की ओर काफी, वश में हो गया और तेजी से चिंताग्रस्त और धार्मिक होने लगे थे। व ७५ साल की उम्र में १९२१ में अकबर की मृत्यु हो गई।<ref>http://www.urduyouthforum.org/biography/Akbar_Allahabadi_biography.php</ref>
 
== विषेशताविशेषता ==
 
अकबर एक शानदार, तर्कशील, मिलनसार आदमी थे। और उनकी कविता हास्य की एक उल्लेखनीय भावना के साथ कविता की पहचान थी। वो चाहे गजल, नजम, रुबाई या क़ित हो उनका अपना ही एक अलग अन्दाज़ था। वह एक समाज सुधारक थे और उनके सुधारवादी उत्साह बुद्धि और हास्य के माध्यम से काम किया था। शायद ही जीवन का कोई पहलू है जो उन्के व्यंग्य की निगाहों से बच गया था।
गुमनाम सदस्य

नेविगेशन मेन्यू