"मान सिंह तोमर": अवतरणों में अंतर

नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
486 बाइट्स जोड़े गए ,  6 वर्ष पहले
लेख को पुनः लिखा।
No edit summary
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब संपादन
(लेख को पुनः लिखा।)
'''महाराजा मान सिंह तोमर''' [[ग्वालियर]] के [[तोमर वंश]] के राजा थे। उन्हें १४८६ ई॰ में सिंहासन प्राप्त हुआ।<ref>{{cite book|title=Jainism: A Pictorial Guide to the Religion of Non-violence |trans_title=जैन धर्म: अंहिसक धर्म का एक चित्रिक मार्गदर्शन |url=https://books.google.co.in/books?id=loQkEIf8z5wC |author=कुर्त तित्ज़े, क्लौस ब्रुह्न |publisher=मोतीलाल बनारसीदास |year=१९९८ |isbn=9788120815346 |page= 102 |language=अंग्रेज़ी}}</ref>
Raja Man Singh Tomar of Gwalior:-reign 1486 AD to 1516 AD. Father-Kalyanmala of. Gwalior. Decendent of Raja Anangpal III of. Delhi.king Anangpal's son sohan singh Tomar ruled On Asa. Sohan singh left Delhi to Asa, Morena. King of Asa ruled upto Gwalior till 1576 unto Haldighati battle.Rajas aRam Shah's 3 generation fied in this Haldi ghati battle.
 
==सन्दर्भ==
.
{{टिप्पणीसूची}}

नेविगेशन मेन्यू