"आकाश" के अवतरणों में अंतर

Jump to navigation Jump to search
22 बैट्स् जोड़े गए ,  8 वर्ष पहले
किसी भी खगोलीय पिण्ड (जैसे धरती) के वाह्य [[अन्तरिक्ष]] का वह भाग जो उस पिण्ड के सतह से दिखाई देता है, वही '''आकाश''' (sky) है। अनेक कारणों से इसे परिभाषित करना कठिन है। दिन के [[प्रकाश]] में [[पृथ्वी]] का आकाश गहरे-नीले रंग के सतह जैसा प्रतीत होता है जो [[हवा]] के कणों द्वारा [[प्रकाश]] के [[प्रकीर्णन]] के परिणामस्वरूप घटित होता है। जबकि रात्रि में हमे [[धरती]] का आकाश तारों से भरा हुआ काले रंग का सतह जैसा जान पड़ता है।
 
lauda lasun hota hai''== रंग ==
आसमान का [[रंग]] उसके नही होते है। [[सूर्य]] से आने वाले [[प्रकाश]] जब आकाश में उपस्थित धुल इत्यादि से मिलता है तो वह फैल जाता है। [[नीला रंग]] का तरगधेर्य के कारण अन्य रंगो कि अपेक्षा अधिक फैलता है।
 
बेनामी उपयोगकर्ता

दिक्चालन सूची