प्रकीर्णन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

प्रकीर्णन (Scattering) एक सामान्य भौतिक प्रक्रिया है जिसमें कोई विकिरण (जैसे प्रकाश, एक्स-किरण आदि) माध्यम के किसी स्थानीय अनियमितता के कारण अपने सरलरेखीय मार्ग से विचलित किया जाता है। कणों का भी प्रकीर्णन होता है। आकाश का नीला रंग एवं सूर्योदय व सूर्यास्त के सुर्य की लालिमा प्रकीर्णन के कारण ही होती हैं ।

प्रकीर्णन का अर्थ फैलना है। सबसे अधिक प्रकीर्णन , सबसे कम तरंगदैध्र्य वाले वर्ण का होता है। अतः जब सूरज की किरणें वायुमंडल में प्रवेश करती है तो वायुमंडल में उपस्थित सूक्ष्म कण नीले वर्ण (अन्य छोटी तरंगदैध्र्य वाले वर्ण)को सबसे अधिक प्रकीर्णित करते हैं ,जिस कारण हमें आकाश का रंग नीला दिखाई देता है।।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]