अपवर्तन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
अपवर्तन के कारण छड़ी टेढ़ी दिखती है।

एक माध्यम से दूसरे माध्यम में पहुँचने तरंग की गति की दिशा में परिवर्तन हो जाता है जिसे अपवर्तन कहते हैं। अर्थात प्रकाश सभी माध्यमो से एक दिशा में गमन नहीं करता, प्रकाश जब एक माध्यम से दूसरे माध्यम में तिरछा होकर जाता है तो तो दूसरे माध्यम से इसके संचरण की दिशा परिवर्तित हो जाती है यह अपवर्तन कहलाता है

इन्हें भी देखें[संपादित करें]