विशेषज्ञ प्रणाली

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

कृत्रिम बुद्धि के सन्दर्भ में, विशेषज्ञ प्रणाली या विशेषज्ञ तन्त्र (expert system) उस कम्प्यूटर प्रणाली (या सॉफ्टवेयर) को कहते हैं जो किसी विशेषज्ञ मानव के निर्णय लेने की क्षमता जैसी क्षमता का प्रदर्शन करता है। विशेषज्ञ प्रणालियाँ जटिल समस्याओं को हल करने के लिए डिजाइन की गयी होतीं हैं और इसके लिए एक ज्ञान-भण्डार और मुख्यतः 'यदि-तो स्टेटमेन्ट' के सहारे तर्क करते हुए प्रोग्राम बनाया जाता है (न कि परम्परागत 'विधि-सम्बन्धी' (प्रोसीजरल) कोड के द्वारा) । १९७० के दशक में पहले पहल इस तरह की प्रणालियाँ निर्मित की गयीं थीं। विशेषज्ञ प्रणालियाँ ही सबसे पहली सफल कृत्रिम बुद्धि वाले सॉफ्टवेयरों बने। (कृत्रिम बुद्धि सॉफ्तवेयर अन्य प्रकार से भी बनए जाते हैं।)

किसी विशेषज्ञ प्रणाली के मुख्यतः दो भाग होते हैं- ज्ञान-भण्डार (नॉलेज बेस) तथा उससे निष्कर्ष निकालने वाला 'इंजन'। ज्ञान-भण्डार के अन्तर्गत तथ्य और नियम आते हैं।

विभाजन[संपादित करें]

एक विशेषज्ञ प्रणाली को दो उपप्रणाली में विभाजित किया जाता है: अनुमान इंजन और ज्ञान आधार। ज्ञान आधार तथ्यों और नियमों का प्रतिनिधित्व करता है। अनुमान इंजन नए तथ्यों को कम करने के लिए ज्ञात तथ्यों के नियम लागू करता है। अनुमान इंजन में स्पष्टीकरण और डिबगिंग क्षमताएँ भी शामिल हो सकती हैं।[1]

सन्दर्भ[संपादित करें]