विद्युत विभव

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

किसी ईकाई धनावेश को अनन्त से किसी बिन्दु तक लाने में जितना कार्य करना पड़ता है उसे उस बिन्दु का विद्युत विभव (electric potential ) कहते हैं। दूसरे शब्दों में, किसी बिन्दु पर स्थित ईकाई बिन्दुवत धनावेश में संग्रहित वैद्युत स्थितिज ऊर्जा, उस बिन्दु के विद्युत विभव के बराबर होती है। विद्युत विभव को Φ, ΦE या V के द्वारा दर्शाया जाता है। विद्युत विभव की अन्तर्राष्ट्रीय इकाई वोल्ट है।

स्थिरवैद्युतिकी[संपादित करें]

एक स्थिर विद्युत क्षेत्र "E" में एक बिन्दु "r" है।

जहाँ "C" एक पथ है, जो बिन्दु से शून्य विभव के साथ "r" पर जुड़ता है। जब ∇ × E का मान शून्य होता है, तो वह रेखा "C" पथ पर निर्भर नहीं करता है।

तब गाउस के नियमानुसार प्वासों समीकरण:

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]