विंध्याचल महा ताप विद्युत गृह

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

विंध्याचल महा ताप विद्युत गृह (Vindhyachal Super Thermal Power Station) मध्य प्रदेश के सिंगरौली जिले में स्थित है। यह राष्ट्रीय ताप विद्युत निगम (NTPC) का कोयले से चलने वाला विद्युतगृह है। वर्तमान समय में यह भारत का सबसे बड़ा (4760 मेगावाट) तापविद्युतगृह है।[1] यह वाराणसी से लगभग 222 किमी दक्षिण में स्थित है। इस संयंत्र की टाउनशिप का नाम विन्ध्यनगर है।

परिचय[संपादित करें]

अनुमोदित क्षमता -- 4760 मेगावाट (स्टेज-I 1260 मेगावाट + स्टेज-II 1000 मेगावाट + स्टेज-III 1000 मेगावाट) ( स्टेज-IV 1000 मेगा वाट) स्टेज-V 500 मेगा वाट)

संस्थापित क्षमता -- 4760 मेगावाट

स्थान -- सिंगरौली मध्य प्रदेश

कोयला स्रोत -- निगाही माइन्स

जल स्रोत -- सिंगरौली सुपर थर्मल पॉवर स्टेशन की डिस्चार्ज कैनाल

लाभार्थी राज्य -- मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र, [[गुजरात, गोवा, दमण एवं दीव तथा नागर हेवली

अनुमोदित निवेश -- स्टेज-I और II : 4053.42 करोड़ रुपए + स्टेज-III 4201.5 करोड़ रुपए

यूनिट का आमाप -- स्टेज-I : 6 x 210 मेगावाट + स्टेज-II : 2 x 500 मेगावाट + स्टेज-III : 2 x 500 मेगावाट

अंतरराष्ट्रीय सहायता -- यूएसएसआर (स्टेज १)

विश्व बैंक टाइम स्लाइस ऋण के अंतर्गत - स्टेज-२

चालू हुई यूनिटें और उनकी क्षमता[संपादित करें]

चरण इकाई संख्या क्षमता (मेगावाट) चालू होने की तिथि
1 1 210 1987 October
1 2 210 1988 July
1 3 210 1989 February
1 4 210 1989 December
1 5 210 1990 March
1 6 210 1991 February
2 7 500 1999 March
2 8 500 2000 February
3 9 500 2006 July
3 10 500 2007 March
4 11 500 2012 June
4 12 500 2013 April
5 13 500 2015 के अन्त में काम पूरा होने की सम्भावना[2]
कुल तेरह 4760

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "NTPC's Vindyachal plant largest power generating station".
  2. http://timesofindia.indiatimes.com/city/lucknow/NTPC-projects-to-bring-more-power-to-UP-by-2017/articleshow/46293097.cms

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

  1. http://mppgenco.nic.in/mpgenco-install-detail.html