वार्ता:लेओनोर वात्लिग

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

I am pasting old discussion on this matter from our Village pump, plz refer it--Mayur (talk•Email) 05:25, 13 नवम्बर 2011 (UTC)

खराब मशीन अनुवाद[संपादित करें]

मेरे ख्याल से बिना जाँचे-परखे कॉपी-पेस्ट किए गए मशीन अनुवाद वाले लेखों को "शीघ्र हटाने योग्य" पेजों की श्रेणी में शामिल कर लेना चाहिए. मैंने ऐसे लेखों के लिए साँचा:अशुद्ध अनुवाद बनाया था, पर ऐसे कई लेख सुधारने-योग्य नहीं हैं. उदाहरण के लिए आज बानए गए लेख "एमिशन मानक" को देखें. मशीन अनुवाद कॉपी-पेस्ट करते वक्त योगदानकर्ता ने "सामग्री [छुपाने के]" (Contents [hide]) और "संपादित करें" (Edit this) जैसे शब्दों को हटाने का कष्ट भी नहीं किया है. ऐसे लेख को सुधारने की बजाए नया लेख बनाने में कम समय लगेगा. अगर मशीन अनुवाद को सुधारते समय में कुछ गलतियाँ रह गईं हों, तो अलग बात है, लेकिन आँख मूंद कर पेस्ट किए मशीन अनुवाद को डिलीट कर देना चाहिए. अन्य सदस्यों कि इस बारे में क्या राय है? उत्कर्षराज (वार्ता) 14:29, 25 जुलाई 2011 (UTC)

इन्हे शीघ्र हटाना सही न होगा, क्योंकि इन्हे अच्छा बनाया जा सकता है। आसे लेखो पर साँचा:अशुद्ध अनुवाद लगाना सही होगा। ♛♚★Vaibhav Jain★♚♛ Talk Email 15:33, 25 जुलाई 2011 (UTC)
मैं उत्कर्ष की बात से पूर्णत सहमत हूँ यह लेख केवल एक अन्धाधुन्ध मशीनी अनुवाद है जो कि हिन्दी विकि की गुणवत्ता पर सीधा सीधा असर डालते है क्योंकि यह समझने में अत्यंत कठिन है अतः इन लेखों को हटाना ही बेहतर रहेगा। --Mayur (talk•Email) 17:40, 25 जुलाई 2011 (UTC)
मशीन अनुवादित लेखों को पूरी तरह हटाने के बजाय उन्हें छोटा करना (चार-पाँच वाक्य वाला) बेहतर होगा। मेरा निवेदन है कि जो हटाने जा रहा हो वह थोड़ी सी मेहनत करके चार-पाँच वाक्य का परिचय दे दे तो एक लेख का 'बीज' जीवित बना रहेगा जिसे कोई न कोई कभी न कभी विस्तारित कर देगा। -- अनुनाद सिंहवार्ता 03:46, 26 जुलाई 2011 (UTC)
यह विचार भी अतिउत्तम है कि ऐसे लेखों को हटाने की बजाये बहुत ही कम वाक्यों का कर दिया जाये--Mayur (talk•Email) 12:52, 26 जुलाई 2011 (UTC)
I'd go with Utcursch, because these articles ain't helping much. Actually they are making things difficult to solve, as this type of article appears on the left side "languages" panel of other wikis as interwiki link, and users who are active on both wikis would neglect to make that particular article in Hindi. Great example is कैलिफ़ोर्निया, this article is on hi wiki since 2008, but still (unfortunately) hasn't improved. So IMHO, these articles should be deleted so that people don't get the wrong impression that article is already present in Hindi. — Bill william comptonTalk 13:40, 26 जुलाई 2011 (UTC)
गम्भीर किस्म के विकिपीडिया लेखक केवल बांयी तरफ देखकर लेख मौजूद होने मात्र से संतोष नहीं कर लेंगे. वे जरूर देखेंगे कि लेख की गुणवत्ता कैसी है. और जब वे देखेंगे कि वहाँ पर्याप्त सामग्री नहीं है तो योगदान करने के लिए प्रेरित होंगे. -- अनुनाद सिंहवार्ता 04:54, 27 जुलाई 2011 (UTC)
If serious type wikipedia editors are so "serious" then why that कैलिफ़ोर्निया jocularity lived for three years. Badly translated articles just prehend the namespace of subject and remain neglected. You might not be aware of condition of Bengali or Marathi Wikipedia, there are so many articles where only titles exist and articles contain void content, but due to interwiki linkage they are rotting there and no one is serious enough to take care of them. A progressive race of creating more and more articles is just making things worse for Indic wikis, and I won't be surprised if quality articles are outweighed by waste ones. — Bill william comptonTalk 11:27, 27 जुलाई 2011 (UTC)
इसको उल्टे तरह से भी देखा जा सकता है। 'लाखों' लेख बनाने हैं किन्तु बनाने वाला कोई नहीं है। वहाँ कौन सी चीज 'रिपेल' कर रही है? -- अनुनाद सिंहवार्ता 12:22, 27 जुलाई 2011 (UTC)
Sorry, but I'm not quite understanding what you mean here. — Bill william comptonTalk 13:55, 27 जुलाई 2011 (UTC)
ये तो हटाने वाले के विवेक और लेख पर निर्भर करता है| सभी लेखो पर एक सा नियम लागू नहीं किया जा सकता| मेरे ख्याल से लोकप्रिय विषयों पर लिखे लेखो को हटा देना उचित है जबकि कम लोकप्रिय लेखो को छोटा कर देना ठीक है| Jsatpal (वार्ता) 14:32, 26 जुलाई 2011 (UTC)

मैं अनुनाद जी से सहमत हूँ। रास्ता मुश्किल है लेकिन सही यही है कि लेखों को हटाने के बजाय उसे सुधारा जाय। अभी मैने कॉनकॉर्ड विमान के साथ यही किया था। पूरा लेख तो बहुत बड़ा है मगर उसकी भूमिका अब ठीक कर दी गई है। कोइ उसके दूसरे अंशों को भी ठीक कर ही देगा। हो सकता है ऐसा कई वर्षों के बाद हो मगर होगा जरूर। इसलिए मैं ऊर्जा अशुद्ध अनुवाद वाले लेखों को शुद्ध करने में लगाने का समर्थन करता हूँ लेख हटाने का नहीं। कम से कम ऐसे लेखों पर लगे साँचे यदि हिंदी में प्रदर्शित हों तो उससे भी काफी सूचनाएं मिल जाती हैं। अनिरुद्ध  वार्ता  00:57, 28 जुलाई 2011 (UTC)