वार्ता:पर्यटन भूगोल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

यह पृष्ठ पर्यटन भूगोल लेख के सुधार पर चर्चा करने के लिए वार्ता पन्ना है। यदि आप आप अपने संदेश पर जल्दी सबका ध्यान चाहते हैं, तो यहाँ संदेश लिखने के बाद चौपाल पर भी सूचना छोड़ दें।

लेखन संबंधी नीतियाँ

लेखको से अनुरोध है कि इस लेख पर अपने सुझाव दें--राजीवमास १७:५५, २१ दिसम्बर २००७ (UTC)



कुछ और सुझाव[संपादित करें]

मेरे विचार से पर्यटन भूगोल नामक लेख अब लगभग ठीक है। कुछ बिंदु हैं जिन पर काम बाकी है-

  • इसकी लाल कड़ियाँ नीली करने के प्रयत्न होने चाहिए।
  • अभी भी कोई व्यवसायिक लिंक है तो हटा दें।

डॉ॰व्योम और दीपिका जोशी इसका व्याकरण - वर्तनी एक बार देख लें तो ठीक रहेगा क्योंकि कुछ हिस्सा फिर से लिखा गया है। यदि फिर भी इसको निर्वाचित करने में कोई आपत्ति है तो यहाँ लिखें।--पूर्णिमा वर्मन १८:५५, १६ मई २००८ (UTC)

साँचा:भारत के राष्ट्रीय उद्यान,जो इस लेख मे शामिल है उसका अनुवाद तो करिए।

कुछ संदेह कुछ समस्याएँ[संपादित करें]

वैसे तो भूगोल मेरा विषय नहीं और मैं गलत भी हो सकती हूँ, लेकिन इस लेख में काम करते हुए कुछ मूलभूत परेशानियाँ महसूस हो रही हैं। -

  1. लेख की परिभाषा देते हुए कहा गया है कि पर्यटन भूगोल या भू-पर्यटन, मानव भूगोल की एक प्रमुख शाखा हैं। विषय को ठीक से समझने के लिए मानव भूगोल क्लिक करें तो वहाँ पर्यटन भूगोल का कहीं नाम नहीं है। तो यह पर्यटन भूगोल है क्या? भू पर्यटन बहुत पुराना है पर इस शब्द का प्रयोग कब शुरू हुआ किसने किया और आज यह किस अर्थ में प्रयोग किया जाता है वह ठीक से समझ में नहीं आता है इसके लिए संदर्भ इत्यादि की कमी है।
  2. पर्यटन भूगोल या भू-पर्यटन कहकर यह स्वीकार किया गया है कि पर्यटन भूगोल और भू पर्यटन एक ही विषय हैं। लेकिन नीचे एक प्रश्न का उत्तर पढ़ते हुए ऐसा लगता है कि दोनों अलग हैं। तो अगर मैं संदर्भ ढूँढकर लगाना भी चाहूँ तो मुझे मालूम नहीं कि मैं क्या करूँ।
  3. लेख शुरू होता है तो ऐसा लगता है कि यह नेशनल जियोग्रेफिकल द्वारा निर्धारित की गई भू पर्यटन की परिभाषा पर आगे चल रहा है। लेकिन आगे चलकर वह ऐसा लगता है जैसे पर्यटन के काम में आने वाले भौगोलिक संसाधनों की सूची भर है। यानी कि हर खंड ठीक प्रकार से विषय से जुड़ नहीं रहा है।
  4. अंत तक पहुँचते पहुँचते पर्यटन के अवरोधी भौगोलिक कारणो का वर्णन किया गया है और यह नहीं पता चलता कि ये कारण पर्यटन के अवरोधी किस प्रकार हो सकते हैं। यानी शुरू में पर्यटन की जो पकड़ थी उसमें से अंत तक पहुँचते पहुँचते पर्यटन गायब हो गया और केवल भूगोल रह गया।
  5. लेख में किसी भी बात की पुष्टि के लिए कोई भी संदर्भ नहीं दिया गया है।

मुझे मालूम है कि इस समय राजीव अपने शोध में बहुत व्यस्त हैं तो वे इस समीक्षा को नज़रंदाज़ कर सकते हैं। यदि कुछ और लोग जो समय निकाल सकते हैं और इस पर काम करना पसंद करते हैं इस विषय में अपनी राय रख सकते हैं। अगर यह कमियाँ दूर हो सकीं तो 1 मई को इसको निर्वाचित लेख बना सकते हैं अन्यथा राजीव के मुक्त होने तक हम अगले माह के लिए किसी अन्य लेख पर काम करना प्रारंभ करें।--पूर्णिमा वर्मन १५:५२, १६ अप्रैल २००८ (UTC)

हम चाहते है कि पर्यटन भूगोल के अन्तर्गत पाठक पर्यटन को भूगोल के च्शमे से पढे और समझे । हर विषय अपना एक अलग विस्तार रखता हैं । पर्यटन भूगोल विश्व का सबसे प्राचीन विष्य है लेकिन हमेशा इसे यातो रोमांचक यात्राओं तक सीमित कर दिया गया या फिर जटिल और आम पाठको को समझ ना आने वाले विज्ञानो और यंत्रो मे दर्शाया गया । हिन्दी विकिपिडीया पर हम यह जटिलता दूर करने मे अग्रशील हैं, हमारा प्रथम ध्येय है कि इस रोचक विषय को पाठको के सामने इस प्रकार रखे कि पाठक पर्यटन और भूगोल के अंतर को समझते हुए दोनो के अन्तर्रसम्बन्धो को समझ सके (उदाहरण के लिए "भूगोल ने पर्यटन को विकास का रास्ता दिखाया और इसी रास्ते पर चलकर पर्यटन ने भूगोल के लिए आवश्यक भौगोलिक तथ्य एकत्रित किए।"-यह शायद किसी कारणणवश हट गया है)। निचे के अवतरण में आने वाली सभी विषयगत बातें इसी तथ्य पर आधारित हैं । संदर्भो सहित और भी तथ्यों पर मै सभी विकी लेखको का स्वागत करता हुं इसकी कमी मै भी समझता हुँ, आजकल मै बहुत वयस्त हुँ आशा है आप मुखे निराश नही करेंगे । --राजीवमास १३:५२, २१ अप्रैल २००८ (UTC)

लेख का नाम भू - पर्यटन, भूगोल पर्यटन, या भौगोलिक पर्यटन होना चाहिये[संपादित करें]

यह लेख Geotourism का हिन्दी रूपान्तर है। Geotourism एक तरह का tourism हुआ। तो यह एक तरह का पर्यटन हुआ। पर्यटन भूगोल से लगता है कि एक तरह का भूगोल है। oldbasara ०८:०५, ५ अप्रैल २००८ (UTC)

सर्वप्रथम आपको बताना चाहता हूँ कि यह लेख किसी भी अन्य लेख का हिन्दी रूपान्तरण नही है । पर्यटन भूगोल हिन्दी के पर्यावरण मे लिखा जाने वाला और पर्यटन को बताने और समझाने वाला एक भौगोलिक लेख है । जो नाम आपने सुझाए है उनका प्रयोग अधिक उपयुक्त नही कहा जा सकता वे केवल आपके अँगरेजी लेख पर आधारित ज्ञान को दर्शाता हैं । यह लेख भूगोल से सम्बन्ध रखता है । आगे अन्य लेखक पर्यटन में अन्य विषयों के (Interdisciplinary approach) के योगदान पर लेख निर्माण कर सकते है । --राजीवमास १५:४७, ५ अप्रैल २००८ (UTC)

एशिया से मानव अमरिका कैसे गया ?[संपादित करें]

उत्तर रशीया ब्येरींग की पट्टी से पार करके से मानव उत्तर अमेरिका अलास्का कनाडा गया। दस हजार साल पहले उत्तर रशिया के समुद्रमें पानी सुख गया तब वह मानव मेमथ जंगली हाथीओंके शिकार करने उन्के पीछे ब्येरींग स्ट्रीप (जहां पानी नहीं था) से एशिया से अलास्का (उत्तरीय अमेरीका) गया। आप इस को लेख में लीख सके इसलिये जानकारी दी है। Vkvora2001 १३:५८, १८ फरवरी २००८ (UTC)

The Bering land bridge is significant for several reasons, not least because it is believed to have enabled human migration to the Americas from Asia about 25,000 years ago[1] (see Models of migration to the New World). Recent studies[2] have indicated that of the people migrating across this land bridge during that time period, only 70 left their genetic print in modern descendants, a minute effective founder population— easily misread as though implying that only 70 people crossed to North America. Sea-going coastal settlers may also have crossed much earlier, but scientific opinion remains divided on this point, and the coastal sites that would offer further information now lie submerged in up to a hundred metres of water offshore. Land animals were able to migrate through Beringia as well, bringing mammals that evolved in Asia to North America, mammals such as lions and cheetahs, which evolved into now-extinct endemic North American species, and exporting camelids that evolved in North America (and later became extinct there) to Asia.

Vkvora2001 १४:०२, १८ फरवरी २००८ (UTC)

ध्यातव्य है कि यह लेख पर्यटन भूगोल केवल पर्यटन के भौगोलिक कारणो को आधार बना कर लिखा गया है । इसमे खोज के युग का शुरूआत में ही सांकेतिक विवरण दिया जा रहअ है । इस पर और अधिक गहराई मे जाने की आवश्यकता नही हैं वरना लेख की दिशा ही बदल जाऐगी । अतः यदि इस प्रकार की खोजो का विवरण देना है तो एक नया पृष्ठ खोज का युग या आधुनिक विश्व की खोज बनाना ठीक रहेगा --राजीवमास ०५:००, १९ फरवरी २००८ (UTC)

ताजमहल की कमी[संपादित करें]

यहाँ इस लेख में ताजमहल की कम से कम एक चित्र तो होना ही चाहिये। मैं समझता हूँ कि उसके बिना कुछ कमी रह ही जाएगी।--आशीष भटनागरसंदेश १५:०३, १५ अप्रैल २००८ (UTC)

जी आपने सही कहा कि ताजमहल और पर्यटन एक दूसरे के कहे तो पूरक है । लेकिन आशीषजी हम यहा पर्यटन भूगोल के बारे में कह रहे है । ताजमहल इतिहास की विषय वस्तु है । यहा हम भूगोल के अव्रतरण मे पर्यटन पर लिख रहे है । --राजीवमास १५:३३, १५ अप्रैल २००८ (UTC)

ताजमहल की कमी[संपादित करें]