वाटर स्कीइंग

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
Water skiing on the Yarra River in Melbourne
Water skiers performing at Sea World on the Gold Coast, Queensland, Australia

वाटर स्कीइंग पानी के ऊपर सतह के एक खेल है जिसमें व्यक्ति स्की की सहायता से पानी पर चलते रहता हैं एवं उसे नाव के पीछे से खीचा जा रहा होता हैं। इस नाव में एक केबल लगा रहता हैं जो खीचने में मदद करता हैं। इस खेल के लिए पानी का समतल (चिकना) होना, खीचने के लिए एक नाव (जिसपर रस्सी लगी रहती हैं), एक या दो स्की, तीन लोग (राज्य नौका विहार कानूनों पर निर्भर करता है) और एक निजी तैरने वाली डिवाइस, आवश्यक चीजें हैं। इसके अलावा खिलाड़ी के पास ऊपरी और निचले शरीर की मांशपेशियों में में पर्याप्त ताकत एवं अच्छा संतुलन होना चाहिए। स्कीइंग एक मजेदार खेल है एवं यह सभी उम्र के लोगों को आनंद देता है। पानी पर स्की करने के लिए कोई न्यूनतम आयु का होना आवश्यक नहीं है।

बुनियादी तकनीक[संपादित करें]

वाटर स्कीयर दो तरीकों से अपने स्की सेट को शुरू कर सकते हैं: जिसमे गीलापन सबसे आम है, लेकिन सूखे में भी संभव है। वाटर स्कीइंग आम तौर पर एक गहरे पानी में शुरुआत के साथ शुरू होता है।

उपकरण[संपादित करें]

जल[संपादित करें]

वाटर स्कीइंग किसी भी प्रकार के पानी में किया जा सकता हैं जैसे नदी, झील या समुद्र मेंलेकिन शांत जल में मनोरंजन स्कीइंग के लिए आदर्श होते हैं।

स्की[संपादित करें]

युवा स्कीयर आम तौर पर बच्चों के स्की से शुरू करते हैं जिसमे दो स्की अपने आगे एवं पीछे से मिलकर बंधे रहते हैं।

नाव[संपादित करें]

स्कीइंग प्रतियोगिताओ में विशेष रूप से डिजाइन की गयी टो बोट का उपयोग होता हैं है। अधिकांश टो बोट में एक छोटा पतवार एवं इसकी सतह चपटी होती हैं।

सुरक्षा उपायों[संपादित करें]

वाटर स्कीइंग खतरों से भरा खेल है इसलिए इसमें सुरक्षा महत्वपूर्ण है।

इसलिए इसमें 200 फीट (61 मीटर) चौड़ा स्कीइंग स्थान होना चाहिए एवं पानी के कम से कम 5 से 6 फीट (1.5 1.8 मीटर) गहरा होना चाहिए।

इतिहास[संपादित करें]

वाटर स्कीइंग का आविष्कार 1922 में जब राल्फ सैमुएलसन स्की ने की। उनके भाई बेन ने इस काम में उनकी बोट से टो कर मदद की एवं वे 32 किलोमीटर प्रति घंटा (20 मील प्रति घंटा) की गति तक पहुंच गए। [1] सैमुएलसन ने संयुक्त राज्य अमेरिका में लोगों को वाटर स्कीइंग सीखाने में 15 साल बिताए। उन्होंने विभिन्न प्रदर्शनों के जरिये लोगों को इसकी बारीकियां सीखाई।

विषयों[संपादित करें]

3-घटना टूर्नामेंट वाटर स्कीइंग[संपादित करें]

संयुक्त राज्य अमेरिका में प्रत्येक गर्मी के मौसम में 900 पानी स्की प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाता हैं। [2] प्रतियोगी वाटर स्कीइंग तीन चक्र के होते हैं: स्लैलम, छलांग एवं चाल [2] [3]

स्लैलम[संपादित करें]

इसमें चुस्त बनने की कोशिश में, स्लैलम पानी स्कीयर केवल एक स्की का उपयोग करता हैं।

छलांग[संपादित करें]

वाटर स्की जम्पर लम्बी दूरी की तय करने की कोशिश में दो लंबे स्की का उपयोग करते हैं। किसी टूर्नामेंट में रैंप हिट करने के लिए स्कीयर को तीन प्रयास करने का मौका दिया जाता है।

चाल[संपादित करें]

चाल प्रतियोगिता, इन तीन क्लासिक वाटर स्कीइंग प्रतियोगिताओं में सबसे तकनीकी रूप में माना जाता हैं। [3]

नंगे पांव वाटर स्कीइंग[संपादित करें]

नंगे पांव पानी स्कीइंग करने वाले खिलाड़ी को जीवन रक्षा जैकेट की बजाय वेट सूट का उपयोग करना चाहिए। इसमें सुरक्षा के कई तकनिकी पहलु होते हैं जिनपर पूरा ध्यान देना चाहिए।

शो स्कीइंग[संपादित करें]

शो स्कीइंग, वाटर स्कीइंग का एक प्रकार है जहां स्कीयर कुछ हद तक जिमनास्ट की तरह की चालें एवं प्रदर्शन करता है जब उसे नाव से खींचा जा रहा होता है। इस प्रकार की पहला शो 1928 में आयोजित की गयी थी। [4]

फ्रीस्टाइल छलांग[संपादित करें]

फ्रीस्टाइल छलांग को अक्सर शो जम्पिंग से संबंधित किया जाता हैं।

नोट्स[संपादित करें]

  1. "History of Water Skiing". ABC of Skiing. MaxLifestyle International Inc.
  2. "USA Water Ski Profile". USA Water Ski. अभिगमन तिथि 1 October 2013.
  3. "World Championship History". Water Ski World Cup (WSWC).
  4. "National Show Ski Association: A Brief History of Show Skiing". USA Water Ski.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]