वस्त्र

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
पाकिस्तान के कराची में रविवार को फुटपाथ पर वस्त्रों की बिक्री

वस्त्र या कपड़ा एक मानव-निर्मित चीज है जो प्राकृतिक या कृत्रिम तंतुओं के नेटवर्क से निर्मित होती है। इन तंतुओं को सूत या धागा कहते हैं। धागे का निर्माण कच्चे ऊन, कपास (रूई) या किसी अन्य पदार्थ को करघे की सहायता से ऐंठकर किया जाता है।

उपयोग[संपादित करें]

  • पहनने के कपड़े
  • झोला (बैग)
  • टोकरी
  • कार्पेट
  • परदा
  • तौलिया
  • मेजपोस
  • चादर
  • झण्डा बनाने
  • छन्ना (फिल्टर)
  • तंबू
  • जाली (जैसे मच्छरदानी)
  • रूमाल
  • उडनछतरी
  • गुब्बारे
  • किसी द्रव (जैसे पानी) को लाने-ले जाने के लिये 'पाइप' बनाने हेतु

आदि

छपाई (प्रिन्ट)[संपादित करें]

प्रिन्टयुक्त वस्त्र

वस्त्रों पर कोई आवर्ती पैटर्न छापने को प्रिन्ट करना कहते हैं। ऐतिहासिक रूप से वस्त्रों पर छपाई दो हजार ईसा पूर्व से हो रही है। छपाई का आरम्भ भारत से हुआ।

टिशू (उत्तक) एवं उनकी विशेषताएँ[संपादित करें]

नाम विशेषताएँ उपयोग
पापलीन घना, सूती कपड़ा पहनावा
वेल्वेट पहनावा, पर्नीचर
डेनिम जीन

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]