लावा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
10-मीटर (33 फीट) ऊँचा 'पाहोयहोय' (pāhoehoe) लावा का फव्वारा, हवाई द्वीप
दरारी उद्भेदन क्राफ्ला, आइसलैण्ड, 1984
'आ आ' लावा का एक उद्गार

लावा पिघली हुई चट्टान आर्थात मैग्मा का धरातल पर प्रकट होकर बहने वाला भाग है। यह ज्वालामुखी उद्गार द्वारा बाहर निकलता है और आग्नेय चट्टानों की रचना करता है।


ज्वालामुखी से निकले लावा से बेसाल्ट चट्टानो का निर्माण हुआ, जिनके निक्षादन से र्पायदिपिय पठार का निर्माण हुआ है।

असंयत विस्फोट के दौरान लावा के बाहर निकलने को लावा प्रवाह कहा जाता है। दूसरी ओर, विस्फोटकीय विस्फोट से लावा प्रवाह के बजाय ज्वालामुखीय राख और टेफ़्रा नामक अन्य टुकड़ों का मिश्रण निकलता है।[1] हालांकि लावा पानी तुलना में 100,000 गुना अधिक श्यान हो सकता है [2], लगभग केचप की श्यानता के समान, लेकिन लावा ठंडे होने और जमने से पहले बड़ी दूरी तक बह सकता है क्योंकि हवा के संपर्क में आने से लावा में जल्दी से एक ठोस परत विकसित हो जाती है जो शेष तरल लावा का छुपा देती है, जो इसे बहते रहने के लिए पर्याप्त गर्म और कम श्यान वाला रहने में मदद करती है।

  1. "Lava flows destroy everything in their path | U.S. Geological Survey". www.usgs.gov. अभिगमन तिथि 2022-01-17.
  2. Cain, Fraser (2009-05-25). "Lava Viscosity". Universe Today (अंग्रेज़ी में). अभिगमन तिथि 2022-01-17.