रेबीज़

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
रेबीज़ (Rabies)
वर्गीकरण एवं बाह्य साधन
Dog with rabies.jpg
लकवाग्रस्त (पोस्ट-फ्युरीअस) चरण में रेबीज़ वाला एक कुत्ता
आईसीडी-१० A82.
डिज़ीज़-डीबी 11148
मेडलाइन प्लस 001334
ईमेडिसिन med/1374  eerg/493 ped/1974
एम.ईएसएच D011818

रेबीज़ (अलर्क, जलांतक) एक विषाणु जनित बीमारी है जिस के कारण अत्यंत तेज इन्सेफेलाइटिस (मस्तिष्क का सूजन) इंसानों एवं अन्य गर्म रक्तयुक्त जानवरों में हो जाता है।[1] प्रारंभिक लक्षणों में बुखार और एक्सपोजर के स्थल पर झुनझुनी शामिल हो सकते हैं।[1] इन लक्षणों के बाद निम्नलिखित एक या कई लक्षण होते हैं: हिंसक गतिविधि, अनियंत्रित उत्तेजना, पानी से डर, शरीर के अंगों को हिलाने में असमर्थता, भ्रम, और होश खो देना[1] लक्षण प्रकट होने के बाद, रेबीज़ का परिणाम लगभग हमेशा मौत है।[1] रोग संक्रमण और लक्षणों की शुरुआत के बीच की अवधि आमतौर पर एक से तीन महीने होती है। तथापि, यह समय अवधि एक सप्ताह से कम से लेकर एक वर्ष से अधिक तक में बदल सकती है।[1] यह समय अवधि उस दूरी पर निर्भर करता है जिसे विषाणु के लिए केंद्रीय स्नायुतंत्र तक पहुँचने के लिए तय करना आवश्यक है।[2]

कारण और रोग की पहचान[संपादित करें]

रेबीज़ इंसानों में अन्य जानवरों से संचारित होता है। जब कोई संक्रमित जानवर किसी अन्य जानवर या इंसान को खरोंचता या काटता है तब रेबीज़ संचारित हो सकता है।[1] किसी संक्रमित जानवर के लार से भी रेबीज़ संचारित हो सकता है यदि लार किसी अन्य जानवर या मनुष्य के श्लेष्मा झिल्ली (Mucous Membrane) के संपर्क में आता है।[1] मनुष्यों में रेबीज़ के अधिकतर मामले कुत्तों के काटने से होते हैं।[1] उन देशों में जहाँ कुत्तों में आम तौर पर रेबीज़ होते हैं, रेबीज़ के 99% से अधिक मामले कुत्तों के काटने से होते हैं।[3] अमेरिका में, मनुष्यों में रेबीज़ संक्रमण का सबसे आम स्रोत चमगादड़ का काटना है, और 5% से कम मामले कुत्तों से होते हैं।[1][3] कृन्तक (Rodents) बहुत कम ही रेबीज़ से संक्रमित होते हैं।[3] रेबीज़ वायरस परिधीय तंत्रिकाओं (peripheral nerves) के माध्यम से मस्तिष्क तक पहुँचता है। रोग की पहचान केवल लक्षणों की शुरुआत के बाद ही की जा सकती है।[1]

रोकथाम और उपचार[संपादित करें]

पशु नियंत्रण और टीकाकरण कार्यक्रम से दुनिया के कई क्षेत्रों में कुत्तों से रेबीज़ होने का खतरा कम हुआ है।[1] जो लोग उच्च जोखिम में हैं, उन्हें रोग के संपर्क में आने से पहले प्रतिरक्षित (Immunize) करने की अनुसंशा की जाती है। उच्च जोखिम समूह में वह लोग शामिल हैं जो चमगादड़ों पर काम करते हैं या जो दुनिया के उन क्षेत्रों में लंबी अवधि गुजारते हैं जहाँ रेबीज़ आम है।[1] उन लोगों में जो रेबीज़ के संपर्क में आते हैं, रेबीज़ के टीके और कभी कभी रेबीज़ इम्युनोग्लोबुलिन रोग से बचाने में प्रभावी रहे हैं यदि रेबीज़ के लक्षणों के आरंभ से पहले व्यक्ति का उपचार होता है।[1] काटने के स्थान और खरोंचों को 15 मिनटों तक साबुन और पानी, पोवीडोन आयोडीन, या डिटर्जेंट से धोना, क्यों कि यह विषाणु को मार सकते हैं, भी कुछ हद तक रेबीज़ के रोक थाम में प्रभावी प्रतीत होता है।[1] लक्षणों के प्रकटन के बाद, केवल कुछ ही व्यक्ति रेबीज़ संक्रमण से बचे हैं। इन का व्यापक उपचार हुआ था जिसे मिल्वौकी प्रोटोकॉल के नाम से जाना जाता है।[4]

टीका (Vaccine)[संपादित करें]

रेबीज़ का टीका
वक्सीन विवरण
Target disease रेबीज़ (Rabies)
प्रकार Killed/Inactivated
परिचायक
en:ChemSpider none

रेबीज़ का टीका एक टीका है जो रेबीज़ की रोक थाम में उपयोग किया जाता है।[5] यह बड़ी संख्या में उपलब्ध हैं जो सुरक्षित और प्रभावी दोनों हैं। विषाणु के संपर्क में आने के पहले और संपर्क, जैसे कुत्ते या चमगादड़ का काटना, के बाद एक अवधि के लिए रेबीज़ की रोक थाम में इन का उपयोग किया जा सकता है। तीन खुराक के बाद जो प्रतिरोधक क्षमता विकसित होती है वह लंबे समय तक रहती है। इन्हें आम तौर पर त्वचा या मांसपेशी में इंजेक्शन के द्वारा दिया जाता हैं। संपर्क में आने के बाद टीका आम तौर पर रेबीज़ इम्युनोग्लोबुलिन के साथ प्रयोग किया जाता है। यह अनुसंशा की जाती है कि जो संपर्क में आने के उच्च जोखीम पर हैं वह संपर्क में आने से पहले टीका लगवा लें। मनुष्यों और अन्य जानवरों में टीकाकऱण प्रभावी है। कुत्तों को प्रतिरक्षित करना रोग को मनुष्यों में रोकने में बहुत प्रभावी हैं।[5]

सुरक्षा[संपादित करें]

विश्व स्तर पर लाखों लोगों को टीका लगाया गया है और यह अंदाजा किया गया है कि इस से एक वर्ष में 250,000 से अधिक लोगों की जान बची है।[5] इन का इस्तेमाल सुरक्षित रूप से सभी आयु समूहों में किया जा सकता है। लगभग 35 से 45 प्रतिशत लोगों में संक्षिप्त अवधि तक सूई के स्थान पर लाली और दर्द होता है। लगभग 5 से 15 प्रतिशत लोग को बुखार, सर दर्द, या मतली हो सकती है। रेबीज़ के संपर्क में आने के बाद इस के उपयोग में कोई अंतर्विरोध नहीं है। अधिकतर टीकों में Thimerosal शामिल नहीं होता है। कुछ देशों में, खास तौर पर एशिया और लैटिन अमेरिका में, तंत्रिका ऊतक से बने टीकों का उपयोग होता है, लेकिन यह कम प्रभावी और अधिक दुष्प्रभाव वाले होते हैं। अतः विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा उन के उपयोग की अनुसंशा नहीं की जाती है।[5]

2014 के अनुसार उपचार के एक कोर्स के लिए थोक कीमत 44 और 78 अमेरिकी डालर के बीच है।[6] संयुक्त राज्य अमेरिका में रेबीज़ टीके के एक कोर्स की कीमत 750 अमेरिकी डालर से अधिक है।[7]

जानपदिक रोगविज्ञान (Epidemiology)[संपादित करें]

रेबीज़ के कारण विश्व स्तर पर प्रति वर्ष लगभग 26,000 से 55,000 लोगों की मृत्यु हो जाती है।[1][8] इन में से 95% से अधिक मौतें एशिया और अफ्रीका में होती हैं।[1] रेबीज़ 150 से अधिक देशों में, और अंटार्कटिका के अतिरिक्त सभी महाद्वीपों पर मौजूद है।[1] 3 अरब से अधिक लोग दुनिया के उन क्षेत्रों में रहते हैं जहाँ रेबीज़ होता है।[1] यूरोप और ऑस्ट्रेलिया के अधिकांश में, रेबीज़ केवल चमगादड़ों में ही मौजूद होता है।[9] कई छोटे द्वीप राष्ट्रों में रेबीज़ है ही नहीं।[10]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Rabies Fact Sheet N°99". World Health Organization. July 2013. http://www.who.int/mediacentre/factsheets/fs099/en/. अभिगमन तिथि: 28 February 2014. 
  2. Cotran RS; Kumar V; Fausto N (2005). Robbins and Cotran Pathologic Basis of Disease (7th सं॰). Elsevier/Saunders. प॰ 1375. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 0-7216-0187-1. 
  3. Tintinalli, Judith E. (2010). Emergency Medicine: A Comprehensive Study Guide (Emergency Medicine (Tintinalli)). McGraw-Hill. pp. Chapter 152. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 0-07-148480-9. 
  4. Hemachudha T, Ugolini G, Wacharapluesadee S, Sungkarat W, Shuangshoti S, Laothamatas J (May 2013). "Human rabies: neuropathogenesis, diagnosis, and management.". Lancet neurology 12 (5): 498–513. doi:10.1016/s1474-4422(13)70038-3. PMID 23602163. 
  5. "Rabies vaccines: WHO position paper". Weekly epidemiological record 32 (85): 309-320. Aug 6, 2010. http://www.who.int/wer/2010/wer8532.pdf?ua=1. 
  6. "Vaccine, Rabies". http://erc.msh.org/dmpguide/resultsdetail.cfm?language=english&code=RAB000X&s_year=2014&year=2014&str=&desc=Vaccine%2C%20Rabies&pack=new&frm=VIAL&rte=INJ&class_code2=19%2E3%2E&supplement=&class_name=%2819%2E3%2E%29Vaccines%3Cbr%3E. अभिगमन तिथि: 6 December 2015. 
  7. Shlim, David (June 30, 2015). "Perspectives: Intradermal Rabies Preexposure Immunization". http://wwwnc.cdc.gov/travel/yellowbook/2016/infectious-diseases-related-to-travel/perspectives-intradermal-rabies-preexposure-immunization. अभिगमन तिथि: 6 December 2015. 
  8. Lozano R, Naghavi M, Foreman K, Lim S, Shibuya K, Aboyans V, Abraham J, Adair T, Aggarwal R (Dec 15, 2012). "Global and regional mortality from 235 causes of death for 20 age groups in 1990 and 2010: a systematic analysis for the Global Burden of Disease Study 2010.". Lancet 380 (9859): 2095–128. doi:10.1016/S0140-6736(12)61728-0. PMID 23245604. 
  9. "Presence / absence of rabies in 2007". World Health Organization. 2007. http://www.who.int/rabies/Absence_Presence_Rabies_07_large.jpg?ua=1. अभिगमन तिथि: 1 March 2014. 
  10. "Rabies-Free Countries and Political Units". CDC. http://www.cdc.gov/animalimportation/rabies-free-countries.html. अभिगमन तिथि: 1 March 2014.