रिचर्ड आर सरोक

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

रिचर्ड रॉयस सरोक (Richard Royce Schrock; जन्म 4 जनवरी 1945) एक अमेरिकी रसायनज्ञ हैं। उन्हें रॉबर्ट हावर्ड ग्रुब्स और यवेस चौवीं के साथ संयुक्त रूप से "कार्बनिक संश्लेषण में वर्णव्यत्यय पद्धति के विकास" पर किये गये अपने कार्य के लिए २००५ में रसायन शास्त्र में नोबेल पुरस्कार मिला।[1]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "The Nobel Prize in Chemistry 2005". नोबेल प्राइज़ डॉट ओर्ग. अभिगमन तिथि 3 नवम्बर 2013.