राष्ट्रीय कृषि विज्ञान संग्रहालय (भारत)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
राष्ट्रीय कृषि विज्ञान संग्रहालय (भारत) National Agricultural Science Museum
स्थापित ०३ नवम्बर ,२००४
स्थान राष्ट्रीय कृषि विज्ञान संग्रहालय ,एनएससी कॉम्प्लेक्स, देव प्रकाश शास्त्री मार्ग,दशघरा के सामने, पूसा परिसर, नई दिल्ली 110012

नई दिल्ली में आईसीएआर के राष्ट्रीय कृषि विज्ञान केंद्र परिसर में स्थित राष्ट्रीय कृषि विज्ञान संग्रहालय (एनएएसएम) देश में अपनी तरह का पहला केंद्र है। 23,000 वर्ग फुट के फर्श क्षेत्र के दो मंजिला विशेष रूप से डिजाइन की गई इमारत में फैले इस संग्रहालय में प्रागैतिहासिक काल से और हमारे देश में कृषि में वर्तमान अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी के साथ एक भविष्य के प्रक्षेपण के साथ भारत में कृषि के विकास को चित्रित किया गया है।[1]

यह देश का एक मात्र अनुठा कृषि संग्रहालय है जो कृषि के विभिन्न आयामों को संजोये हुए हैं, जिसे देखना बहुत रोमांचकारी हैं। यहाँ किसान ,बच्चे एवं आम लोग बहुत आधिक संख्या में आते हैं। प्रवेश शुल्क रु 10 प्रति व्यक्ति हैं।  स्कूल, कॉलेज के छात्रों और किसानों के समूहों के लिए नि: शुल्क प्रवेश है।[2]

उद्घाटन[संपादित करें]

राष्ट्रीय कृषि विज्ञान संग्रहालय (एनएएसएम) का उद्घाटन भारत के भूतपूर्व राष्ट्र्पति महामहिम डा ए पी जे अब्दुल कलाम ने ०३ नवम्बर ,२००४ को किया।

इस दिन उन्होने अपने भाषण मे कहा-

मुझे भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद (आईसीएआर) द्वारा बनाए गए राष्ट्रीय कृषि विज्ञान संग्रहालय के उद्घाटन में भाग लेने की खुशी है। मैं आयोजकों, कृषि वैज्ञानिकों और प्रौद्योगिकीविदों, कृषि योजनाकारों, किसानों, छात्रों और प्रतिष्ठित आमंत्रितों के प्रति अपनी शुभकामनाएं देता हूं। अभी-अभी मैंने संग्रहालय का दौरा किया और मैंने देखा कि कृषि के छह स्तंभ मिट्टी, पानी, जलवायु, बीज, उपकरण और किसान हैं। मेरी धारणा में, विज्ञान और प्रौद्योगिकी, कृषि कलाकृतियों और समाज में कृषि उत्पादों के विपणन के बीच अंतर-संबंध कृषि मिशनों में स्थायी सफलता के लिए आवश्यक तीन अतिरिक्त घटक हैं।[3]

आकर्षण[संपादित करें]

वेसे तो ये पूरा संग्रहालय ही आकर्षण भरा है पर कई विशेष आकर्षण हैं जो सभी का मन मोह लेते हैं। वे विशेष आकर्षण निम्न हैं-

कृषि उत्सव चलचित्र[संपादित करें]

संग्रहालय में भारत के कृषि आधारित उत्सवो पर १६ मिनट का वृत्त चित्र भी है। इसमें देश के कृषि से जुडे त्योहारो को दर्शाया गया है जैसे पोंगल ,छठ पूजा, ओणम, पुष्कर मेला, बैसाखी आदि।

बोलती हुई प्रतिमा[संपादित करें]

यहाँ प्रतिमाओ पर जब प्रकाश पडता है तो वो बोलती हुई प्रतीत होती है, ये संग्रहालय का मुख्य आकर्षण है।

अन्य आकर्षण[संपादित करें]

संग्रहालय में 150 प्रदर्शनी हैं जो 10 प्रमुख वर्गों में प्रदर्शित हैं। कृषि के छह स्तंभ, प्रागैतिहासिक काल में कृषि, सिंधु घाटी सभ्यता, वैदिक और उत्तर वैदिक काल, सुल्तानत और मुगल काल, अंग्रेजों का आगमन, स्वतंत्र भारत में कृषि विज्ञान की उन्नति, कृषि से संबंधित वैश्विक मुद्दे, एक खाद्य-सुरक्षित भविष्य की ओर और बच्चों का अनुभाग।[4]

संग्रहालय के बारे में सामान्य जानकारी[संपादित करें]

पता : राष्ट्रीय कृषि विज्ञान संग्रहालय ,एनएससी कॉम्प्लेक्स, देव प्रकाश शास्त्री मार्ग,दशघरा के सामने, पूसा परिसर, नई दिल्ली 110012

समय : प्रात: १०:३० से सायं: ४:३० तक

पर्यावरण: प्रदूषण मुक्त, विशाल और हरियाली से भरपूर

प्रवेश शुल्क: रु 10 प्रति व्यक्ति, स्कूल, कॉलेज के छात्रों और किसानों के समूहों के लिए नि: शुल्क प्रवेश[5]

छुट्टी: सोमवार और राष्ट्रीय अवकाश

पार्किंग: पर्याप्त और नि: शुल्क

टेलीफैक्स नंबर: +91 11 25846375

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "National Agricultural Science Museum". icar.
  2. "From The Earth: National Agricultural Science Museum in Delhi". delhipedia.
  3. "ADDRESS DURING THE INAUGURATION OF NATIONAL AGRICULTURE SCIENCE MUSEUM".
  4. "National Agricultural Science Museum, Delhi".
  5. "समय". गुगल.