राधा गोविंद चंद्र

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
राधा गोविंद चंद्र

राधा गोविंद चंद्र अपनी दूरबीनों के साथ, हार्वर्ड कॉलेज वेधशाला में
मूल नाम রাধা গোবিন্দ চন্দ্র
जन्म १६ जुलाई १८७८
बाघचर, येशोर, बंगाल, ब्रितानी भारत (अभी बांग्लादेश में)
मृत्यु 3 अप्रैल 1975(1975-04-03) (उम्र 96)
क्षेत्र
शिक्षा येशोर ज़िला स्कूल
अकादमी सलाहकार
  • जादुनाथ मजूमदार
  • जगदनंदा राय
  • कालीनाथ मुखर्जी
प्रसिद्धि
उल्लेखनीय सम्मान
  • ऑफिसर डी' अकेडमिक, 1928
  • अमेरिकन एसोसिएशन ऑफ वैरिएबल स्टार ऑब्जर्वर, फ़ेलो ऑफ़ हार्वर्ड कॉलेज ऑब्ज़र्वेटरी, यूएसए
  • फ़ेलो ऑफ ब्रिटिश एस्ट्रोनॉमिकल एसोसिएशन, इंग्लैंड
  • परिवर्ती तारा सेक्शन के सदस्य
  • फ्रांसेइज डे ऑब्जर्वेटर्स डी'ऑटाइल्स वेरिएबल्स एसोसिएशन के सदस्य, फ्रांस
  • अमेरिका के प्राकृतिक इतिहास के अमेरिकी संग्रहालय के मानद सदस्य

राधा गोविंद चंद्र (OARF, FAAVSO, FBBA, AFOEV) (बंगाली: রাধা গোবিন্দ চন্দ্র; 16 जुलाई, 1878 - 3 अप्रैल, 1975) एक भारतीय खगोलविद थे। वह बंगाल में वेधशाला खगोल विज्ञान के प्रथम अन्वेषक थे, जिसमें आधुनिक बांग्लादेश और पश्चिम बंगाल शामिल थे। उनका जन्म येशोर, बंगाल, ब्रिटिश, भारत में हुआ था। राधा गोविंद चंद्र विशेष रूप से परिवर्ती तारों के अवलोकन के लिए प्रसिद्ध हैं। उन्होंने 49,700 से अधिक परिवर्ती तारों का अवलोकन किया और अमेरिकन एसोसिएशन ऑफ वेरिएबल स्टार ऑब्जर्वर्स के पहले अंतर्राष्ट्रीय सदस्यों में से एक बने।[1]

हैली धूमकेतु का अवलोकन[संपादित करें]

वर्ष 1910 (अप्रैल-जुलाई) में, चंद्र ने अपने छोटे दूरबीन के साथ येशोर से हैली के धूमकेतु का अवलोकन किया क्योंकि उनके पास कोई शक्तिशाली दूरबीन या कोई अन्य सहायक उपकरण नहीं था। उन्होंने उस समय की 'हिंदू पत्रिका' में अपने अवलोकन की विस्तृत जानकारी लिखी थी।[2]

टेलीस्कोप संग्रह[संपादित करें]

1912 में, चंद्र ने इंग्लैंड से 13 पाउंड में 3 इंच का लेंस दूरबीन खरीदा था।

खगोल विज्ञान में योगदान[संपादित करें]

1912 के बाद से ही उन्होंने कालीनाथ मुखर्जी द्वारा 'स्टार एटलस' की मदद से परिवर्ती तारों का नियमित अवलोकन जारी रखा।

उन्होंने 1954 तक कुल 37,215 प्रशिक्षित-नेत्र अवलोकन किए।

उनके विलक्षण कार्य का मूल्य इस तथ्य में निहित है कि उन्होंने अधिकांश पर्यवेक्षकों से दूर देशांतर पर काम किया, उनके द्वारा देखे गए सितारों के लिए अवलोकन संबंधी रिकॉर्ड की लौकिक पूर्णता में बहुत सुधार हुआ।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. The AAVSO and International Cooperation - official website of AAVSO.
  2. A biography of Radha Gobinda Chandra, Science World (Bengali language monthly magazine), February 2007

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]