यूनानी धर्म

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

प्राचीन यूनानी धर्म (अथवा प्राचीन ग्रीक धर्म) प्राचीन यूनान (ग्रीस) देश का सबसे मुख्य- और राजधर्म था । ये एक मूर्तिपूजक और बहुदेवतावादी धर्म था । इसमें एक अदृश्य ईश्वर की अवधारणा नहीं थी । ईसाई धर्म के राजधर्म बनने के बाद ईसाइयों ने इसपर प्रतिबंध लगा दिया और इसके देवी-देवताओं को शैतान करार दिया । इसके बाद ये लुप्त हो गया ।


ग्रीक पौराणिक कथाएं, उन प्राचीन यूनानियों ,उनके देवताओं ,नायकों, दुनिया की प्रकृति, अनुष्ठान प्रथाओं के महत्व के विषय में संबंधित मिथकों और किंवदंतियों का आधार हैं. वे प्राचीन ग्रीस में धर्म का एक हिस्सा थीं आधुनिक विद्वानों ने इन मिथकों का अध्ययन कर प्राचीन ग्रीस, इसकी सभ्यता की धार्मिक और राजनीतिक संस्थाओं पर प्रकाश डाला है और लाभ मिथक बनाने की प्रकृति को समझने का प्रयास किया है .

ग्रीक पौराणिक कथाएं कथा रूप मे भारी मात्रा में संग्रहीत हैं.इनका बड़ा संग्रह परोक्ष रूप मे फूलदानओं पर उकेरी कला कृतियों के रूप में ,भित्तिचित्रों कि द्वारा दुनिया कि उत्पत्ति के विवरणओं , जीवन और देवताओं, देवी, नायकों, नायिकाओं, और पौराणिक प्राणियों की एक विस्तृत विविधता के रोमांच की व्याख्या करने का प्रयास करतए है. इन कथनकों को शुरू में एक मौखिक काव्य परंपरा में फैलाया गया, आज ग्रीक मिथकों को ग्रीक साहित्य से मुख्य रूप से जाना जाता है.


Iliad और ओडिसी दो महाकाव्य, प्राचीनतम ज्ञात यूनानी साहित्यिक स्रोत, ट्रोजन युद्ध के आसपास की घटनाओं पर ध्यान केंद्रित हैं. होमर के समकालीन हेसियड, Theogony के आक्ख्यान दुनिया की उत्पत्ति, दिव्य शासकों व उनके उत्तराधिका्रियों के ,मानव युगों के बारे में मानवीय संकट के भययोग्य उद्गम और बलि प्रथाओं केविषय मे जानकारी देते हैं. मिथक होमेर के भजनों में भी संरक्षित हैं, इस काल के काव्य खण्डों में, गेय कविताओं में, पांचवीं शताब्दी ई.पू. के हेलेनिस्टिक युग के विद्वानों और कवियों की रचनाओं में से ,रोमन साम्राज्य के समय प्लूटार्क और Pausanias जैसे लेखकों द्वारा त्रासदियों की रचना की गई.




इस धर्म के कई देवताओं के सम्तुल्य देवता प्राचीन रोमन धर्म में मिलते हैं, और कुछ हिन्दू धर्म में भी ।

इस लेख में देवताओं के अंग्रेज़ी उच्चारण दिये गये हैं, मौलिक यूनानी नहीं।

देवता[संपादित करें]

इस धर्म में कई देवता थे : ज़्यूस (देवराज), डायोनाइसस, अपोलो, ईरोस, एरीस, हरमीस, हेडीस, क्रोनोस, हैफ़ीस्टस, पोसाइडन, इत्यादि । लगभग सभी देवी-देवताओं के रोमन धर्म में समकक्ष देवतागण मिल सकते हैं ।

देवियाँ[संपादित करें]

प्रमुख देवियाँ थीं : हीरा, ऐफ़्रोडाइटी, अथीना, आर्टेमिस, डिमीटर, हेस्टिया, पर्सिफ़ोनी, इत्यादि ।

पूजा[संपादित करें]

पूजा मुख्यतः पशुबलि द्वारा होती थी (गाय, सांड, सूअर, भेड़, बकरा आदि) । यूनानी लोगों ने देवताओं के लिये कई ख़ूबसूरत संगेमरमरी मंदिर बनाये थे ।

ओलम्पिक्स[संपादित करें]

यूनानी पुरुष देवताओं के सम्मान में ओलम्पिक खेल हर साल आयोजित करते थे । वो मानते थे कि उनके देवतागण ओलम्पिक पर्वत पर रहते हैं । बारह प्रमुख ओलम्पियन देवतागण थे : ज़्यूस, डायोनाइसस, हीरा, पोसाइडन, हेडीस, ऐफ़्रोडाइटी, अथीना, हेस्टिया, अथीना, अपोलो, आर्टेमिस, एरीस, हैफ़ीस्टस और हरमीस (इनमें से बारह कौन हैं, इसमें अन्तर्विरोध था) ।