मानव हत्या

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

मानव हत्या अथवा मानवहत्या (लातिन : homicidium, लातिन : homo मनुष्य + लातिन : caedere को काटना, हत्या करना, संस्कृत: मानवहत्या = मानव की हत्या) किसी मनुष्य को मारने का एक कृत्य है।[1]

आपराधिक मानववध[संपादित करें]

आपराधिक मानववध वह विभिन्न रूपों में पायी जाती है जिसमें अनजाने में की गयी हत्या भी शामील है। एक आपराधिक मानववध में अपराध प्रतिवादी के मनःस्थिति और अपराध को परिभाषित विधियों द्वारा निर्धारित होता है। उदाहरण के लिए हत्या अथवा वध एक अनजाने में किया गया अपराध है। कुछ न्यायालयों में हत्या के कुछ प्रकार स्वतः मृत्युदंड अर्हता वाले होते हैं।[2]

यद्दपि कैलिफोर्निया में संहिताबद्ध दंड संहिता धारा ४०१ के तहत आत्महत्या मानवहत्या की श्रेणी में नहीं आता, दूसरे की आत्महत्या में सहायता आपराधिक मानवहत्या की श्रेणी में आ सकता है।[3] वहीं भारत में इच्छा मृत्यु अवैधानिक है क्योंकि आत्महत्या का प्रयास भारतीय दंड विधान आई॰पी॰सी॰ की धारा ३०९ के अंतर्गत अपराध की श्रेणी में रखा गया है।[4][5]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Irving, Shae, संपा॰ (2009). "homicide". Nolo's Plain-English Law Dictionary. Berkeley: Nolo. पपृ॰ 204–5. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-1-4133-1037-5.
  2. "Federal Laws Providing for the Death Penalty | Death Penalty Information Center". Deathpenaltyinfo.org. 2003-01-02. अभिगमन तिथि 19 सितम्बर 2013.
  3. "CA Codes (pen:369a-402c)". Leginfo.ca.gov. अभिगमन तिथि 2012-11-17.
  4. इंदिरा राठौर (2 अप्रैल 2013). "चलते रहो कहती है जिंदगी". दैनिक जागरण. नामालूम प्राचल |accessdare= की उपेक्षा की गयी (मदद)
  5. शालिनी कौशिक (28 जनवरी 2013). "इच्छा मृत्यु व् आत्महत्या :नियति व् मजबूरी". जागरण ब्लॉग सेवा. नामालूम प्राचल |accessdare= की उपेक्षा की गयी (मदद)

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]